इजरायल-हमास की जंग में पिस गया मुरादाबाद, 7 हजार करोड़ का हुआ नुकसान,जंग नहीं रुकी तो बढ़ सकता है नुकसान

 रिपोर्ट-मुस्तकीम मंसूरी 

मुरादाबाद।पीतल के लिए विश्व में प्रसिद्ध उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद को एक बार फिर बड़ा झटका लगा है।इजरायल हमास के बीच चल रही जंग के बीच मुरादाबाद में पीतल के कारोबार को 7 हजार करोड़ का नुकसान हुआ है।बताया जा

रहा है कि मिडिल ईस्ट से नए ऑर्डर तो मिल नहीं रहे।पुराने ऑर्डर को भी या तो रद्द कर दिया गया है या फिर होल्ड कर दिया गया है।गल्फकंट्रीज से भी डिमांड में भारी गिरावट आई है।आशंका है कि जंग कुछ दिन और चल गई तो यह नुकसान बढ़ कर नौ हजार करोड़ तक पहुंच सकता है।
बताते चलें कि मुरादाबाद से पूरे विश्व में पीतल के उत्पाद एक्सपोर्ट किए जाते हैं।खासकर मुरादाबाद के फूलदान, आलादीन के चिराग और अन्य सजावटी सामान की मांग हमेशा रहती है।कोविड काल से पहले तक मुरादाबाद से लगभग 11

हजार करोड़ रुपये का माल एक्सपोर्ट होता था।वहीं लगभग इतने ही माल की खबर देश के अंदर भी होती थी।वहीं कोविड काल में कारोबार प्रभावित हुआ तो एक्सपोर्ट घटकर महज आठ करोड़ रह गया।कोविड से निपटने के बाद कारोबार अभी गति पकड़ ही रहा था कि रसिया यूक्रेन जंग और अब इजरायल हमास जंग का असर कारोबार पर बुरी तरह से पड़ा है।

इस समय महज तीन से चार हजार करोड़ रुपए का माल ही एक्सपोर्ट हो पा रहा है। वहीं लगभग तीन से चार हजार करोड़ रुपए का तैयार माल ऑडर कैंसिल होने की से फैक्ट्रियों में ही फंस गया है।यह एक तरह से पीतल कारोबारियों पर दोहरी मार

है।मुरादाबाद पीतल एक्सपोर्ट एसोसिएशन से जुड़े सतपाल ने बताया कि मुरादाबाद से डेकोरेटिव आइटम दुबई एक्सपोर्ट होते हैं।फिर यहां से मिडिल ईस्ट में बैठे होलसेलर आगे सप्लाई करते हैं।अब हमास और इजरायल युद्ध से न तो दुबई ऑर्डर कर रहा है और न ही अन्य देशों से ऑर्डर मिल रहे हैं। सतपाल ने बताया कि नए ऑर्डर नहीं मिलने से नुकसान तो हो ही रहा है,

जो ऑर्डर पहले मिले थे और उसके लिए माल तैयार हो गया, उनके ऑर्डर कैंसिल होने या होल्ड होने की वजह से दोहरा नुकसान भी हो रहा है।सतपाल ने बताया कि कई एक्सपोर्ट कंपनियां इजरायल को सीधा एक्सपोर्ट करती हैं। इन कंपनियों का तो कारोबार ही ठप हो गया है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश