झोलाछाप डॉक्टर की लापरवाही से दो मासूम बच्चों की हुई मौत।

 रिपोर्ट - मोमना बेगम 

कैराना नगर के मोहल्ला आर्यपुरी स्थित नए बिजली घर के सामने देव क्लीनिक का है मामला जहां पर झोलाछाप डॉक्टर की लापरवाही से दो मासूम बच्चों की मौत,बच्चों की मौत के बाद परिजनों ने किया हंगामा,हंगामा की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची,झोलाछाप डॉक्टर व अन्य स्टाफ क्लीनिक छोड़ मौके से हुए फरार,झोलाछाप डॉक्टर ने क्लीनिक के अंदर बच्चों को भर्ती करने की कर रखी है व्यवस्था,सीएचसी की महिला


डॉक्टर व आशाओं की मिली भगत से चल रहा था अवैध क्लिनिक,सीएचसी पर बच्चों के जन्म होते ही महिला डॉक्टर ने उक्त झोलाछाप डॉक्टर को सीएचसी पर बुलाकर बच्चों को भर्ती करने को कहा,महिला डॉक्टर व आशाओं पर झोलाछाप डॉक्टर से कमीशन लेने का भी आरोप क्लीनिक के बाहर नहीं लगा हैं रजिस्ट्रेशन से संबंधित कोई बोर्ड, दो मासूम बच्चों की मौत के बाद गुस्साए परिजनों को पुलिस ने समझा बूझकर शांत किया,पुलिस ने क्लीनिक पर लगे सीसीटीवी कैमरों की डीवीआर कब्जे में ली,एक माह में नगर में चार मासूम बच्चों की झोलाछाप डॉक्टरों की लापरवाही से हो चुकी हैं मौत वहीं क्षेत्र के लोगों का मानना है कि स्वास्थ्य विभाग की शह पर चल रहे हैं गली मोहल्ले में झोलाछाप डॉक्टरों के क्लीनिक जिसके कारण क्षेत्र में हो रही लगातार घटनाओं पर स्वास्थ्य विभाग मौन धारण किए बैठा है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश