पीलीभीत सूफी सैयद अनवर अली शाह साहब की दरगाह खानकाह में आला हजरत फाजले बरेली का 106 वा उर्स, कुल का प्रोग्राम हुआ

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए पीलीभीत से शाहिद खान की रिपोर्ट*


सूफी साहब की दरगाह के गददी नशी    डॉक्टर बिलाल हसन चिश्ती साबरी ने बताया कि सन 1911 व सन 1913 में आला हजरत की मुलाकात सूफी सैयद अनवर अली शाह साहब से बरेली के पुराने शहर में हुई थी l सन 1944 में आला हजरत के बड़े बेटे हजरत मौलवी  हामिद रजा खान साहब जब पीलीभीत मौलवी मोहददिस सुरती रहमतुल्लाह अलैह के बेटे मौलवी इब्राहिम साहब के घर पहुंचे, तभी उनके साथ सन 1944 में सूफी साहब की खानकाह पहुंचे l हामिद रजा खान ने करीब 1 घंटे की मुलाकात की दोनों हजरत ने एक दूसरे का ख्याल रखा हजरत मौलवी हामिद रजा खान साहब जब सूफी मियां से मुलाकात के बाद रुखसत हुए तो अपने वालिद आला हजरत की छड़ी मुबारक बड़े अदब से पेश करीl सन 1944 से आज तक उसे छड़ी मुबारक को खानकाहै सूफी अनवर अली शाह में बड़े अदब के साथ  रखा गया है l

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

विधायक अताउर्रहमान के भाई नसीम उर्रहमान हज सफर पर रवाना

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र