दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के सभागार मे दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के चेयरमैन ज़ाकिर खान द्वारा मुस्लिम,सिख,क्रिश्चियन,बौद्ध,जैन और पारसी सलाहकार समिति के सदस्यों के साथ मीटिंग की गई।

दिल्ली सरकार के द्वारा फीस वापसी योजना जिसकी अंतिम तारीख बढ़ा कर 30 जून कर दी गई है इस विषय मे  आयोग के चेयरमैन ज़ाकिर खान ने सभी मेंबर्स को अवगत किया और उनसे आग्रह किया की इस योजना को अल्पसंख्यकों के बच्चों तक पहुंचाया जाए ताकि इस योजना का लाभ ज्यादा से ज्यादा अल्पसंख्यकों के बच्चों तक पहुंच सके।


दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के सेक्रेट्री रंजित सिंह ने बताया फीस वापसी योजना जो 48 हज़ार तक टयूशन फीस वापसी होती है और इसके लिए 50% मार्क्स और 75% हाज़िरी होनी अनिवार्य है।

दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के मेंबर सरदार अजीत पाल सिंह बिंद्रा ने बताया इस योजना मे इनकम सर्टिफिकेट की भी जरूरत होती है जो की 3 लाख तक का होना चाहिए और अगर इनकम सर्टिफिकेट बनवाने मे कोई दिक्कत आती है तो वह दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग से संपर्क कर सकता है।

दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के मेम्बर नैंसी बार्लो ने इस मीटिंग में आए हुए सभी लोगों का धन्यवाद किया और इस योजना को जन जन तक पहुंचाने की अपील की।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश