भगवान श्री चित्रगुप्त का अपमान करने वाली फिल्म थैंक गॉड पर प्रतिबंध लगाया जाए : पब्लिक पोलिटिकल पार्टी पीपीपी ने जंतर मंतर पर धरना और राष्ट्रपति को ज्ञापन दिया

नई दिल्ली। (अनवार अहमद नूर) भगवान और देवी देवताओं का अपमान करने वाली तथा हिन्दू धर्म के मानने वालों की भावनाओं को आहत करने वाली फिल्म थैंक गॉड पर तुरंत प्रतिबंध लगाया जाए। पब्लिक पोलिटिकल पार्टी (पीपीपी) ने आज जंतर मंतर पर धरना प्रदर्शन करते हुए देश की राष्ट्रपति महोदय को ज्ञापन देकर ये मांग की है।



पब्लिक पॉलीटिकल पार्टी के अनेक वक्ताओं ने कहा कि फिल्मों में मनोरंजन के नाम पर सारी सीमाएं लांघकर अब भगवान तक का अपमान किया जा रहा है। हिंदू संस्कृति और गौरव को विकृत किया जा रहा है। जो असहनीय है। थैंक गॉड में कायस्थ समाज के आराध्य भगवान श्री चित्रगुप्त का अपमान किया गया है और उसके बाद फिल्म आदिपुरुष में रामायण और श्रीराम व भगवान हनुमान की ग़लत व्याख्या और प्रस्तुति दी गई है। इसको हिंदू धर्म और संस्कृति के विरुद्ध षड्यंत्र ही कहा जा सकता है।

पब्लिक पॉलीटिकल पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती दीपमाला श्रीवास्तव ने फिल्म थैंक गॉड पर तुरंत प्रतिबंध लगाने की मांग के साथ साथ कहा कि ये मुद्दा कोई साधारण या व्यक्ति विशेष के अपमान या फिल्म के एक दो दृश्यों का नहीं है बल्कि पूरे हिंदू धर्म की संस्कृति और गौरव को विकृत करते हुए हिन्दू भावनाओं को आहत करने का है। देवी देवताओं और भगवान के अपमान का है,जिसे न मैं सहन कर सकती हूं, न पब्लिक पॉलीटिकल पार्टी सहन कर सकती है,न आप सहन कर सकते हैं, न हिंदू समाज बर्दाश्त कर सकता है, और न ही हिंदुस्तान का कोई नागरिक इसे ठीक बता सकता है। इसलिए हम और आप यहां से साफ़ कह देना चाहते हैं कि - 


देवी देवताओं और भगवान का अपमान,

 बर्दाश्त नहीं करेगा हिन्दू और हिंदोस्तान।


उन्होंने बताया कि अभिनेता अजय देवगन और निर्देशक इन्द्र कुमार ने कायस्थ समाज के आराध्य देव भगवान चित्रगुप्त जी का अपमान करते हुए उनके चरित्र को हास्यास्पद रूप में प्रस्तुत किया है जो कायस्थ समाज की ही नहीं, बल्कि पूरे हिंदू समाज की भावनाओं को ठेस पहुंचाता है। फिल्म “थैंक गॉड” में भगवान श्रीचित्रगुप्त जी के अपमान और हास्यास्पद रूप में प्रस्तुत किए जाने पर  पूरे कायस्थ समाज में रोष व्याप्त है और इसको लेकर हम सुप्रीम कोर्ट में पहुंचे हैं। इस फिल्म से पूरे हिंदू समाज की भावनाओं को ठेस पहुंच रही है। इसलिए इसको रिलीज़ होने से रोका जाए।

पब्लिक पोलिटिकल पार्टी ने राष्ट्रपति महोदय, प्रधानमंत्री जी को प्रेषित ज्ञापन में हिन्दू धर्म के देवी देवताओं और भगवान के अपमान के मामलों को सीरियसली लेने, भावनाओं को आहत होने से बचाने तथा थैंक गॉड सहित ऐसी फ़िल्मों पर रोक लगाने और दोषियों पर कार्रवाई करने की मांग की है। बताया जा रहा है कि थैंक गॉड फिल्म 24 अक्टूबर 2022 को रिलीज़ होने वाली है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया