पीलीभीत के मशहूर कान्वेंट स्कूल सेंट एलाॅयशियस कालेज में करीब एक दशक तक अपने निराले अंदाज में अध्यापन करने वाले शिक्षक रानू फ्रांसिस अब इस दुनिया में नही रहे, उनके निधन से पीलीभीत में उनके स्टूडेंटस में दुख की लहर है।

बेताब समाचार एक्स्प्रेस के लिए पीलीभीत से शाहिद खान की रिपोर्ट, 



रानू फ्रांसिस ने सेंट एलायशियस कालेज पीलीभीत में वर्ष 1997 से 2007 तक अपनी विलक्षण प्रतिभा से शिक्षण कार्य किया, उनके पढ़ाने के निराले और दोस्ताना अन्दाज से वह स्टूडेंटस के चहेते टीचर बन गए थे। कम्पयूटर ओर संगीत विषय में निपुण रानू सर का अध्यापन का जादू करीब एक दशक तक बच्चों के सर चढ़ कर बोला। स्टूडेंटस के साथ दोस्ताना व्यहवार रखने वाले मझोला निवासी रानू सर 1997 में पीलीभीत आए थे, साल 2007 में पीलीभीत छोड़ नोएडा में बस गए थे, नोएडा में वह माडर्न टीचिंग नेटवर्किंग के व्यवसास से जुड़ गए थे मगर उनका पीलीभीत के स्टूडेंटस और अभिभावकों से सम्पर्क पहले जैसा बना हुआ था। 
उनके शिष्य बताते हैं कि इसाई धर्म को मानने वाले रानू सर के ज्यादातर स्टूडेंटस् हिन्दू, मुस्लिम व सिक्ख समाज थे मगर कभी भी सर ने कोई भेदभाव नही किया बल्कि अपने हंसमुख स्वभाव से हमेशा नसीहत भरी शिक्षा ही दी। पीलीभीत में पढ़ाये उनके स्टूडेंट्स विदेशों व अन्य शहरों में रह कर भी उनसे लगातार जुड़े हुए थे। 7 अगस्त 2022 (रविवार) को किन्ही कारणों से रानू सर ने सुसाइड कर ली, उनके निधन की खबर से उनके स्टूडेंटस, पैरेंटस व मिलने वालों को काफी दुख हुआ, हर कोई आवाक रह गया। सोमवार को उनके भाई अमित फ्रांसिस ने उनके अंतिम संस्कार का सीधा प्रसाारण (लाइव) किया जिससे पीलीभीत से उनके शागिर्द भी जुड़े और अपने चहेते रानू सर को नम आखों से अंतिम विदाई दी। 

नुजहत उरूज शम्सी, स्वपनिल हाण्डा, शमशाद हुसैन, एश्वर्या चैहान, अंजलि बाजपेई, खुशबू रजा, हरप्रीत सिंह, शिखा, अंकित, सौम्या, अमित वर्मा, पूजा जायसवाल, ललि, अशीष अरोरा, शारिब शाहीन, शायान खां, शानीजा शाहीन सहित सैकड़ों छात्र-छात्राओं ने अपने चहेते सर को अंतिम विदाई देते हुए दुख व्यक्त किया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया