पेट्रोल डीजल का पैसा विधायकों को ख़रीदने के लिए डायवर्ट किया जा रहा है, भाजपा ने राज्य सरकारों को गिराने के लिए करीब 6300 करोड़ ख़र्च किया है- आतिशी*

नई दिल्ली, 31 अगस्त, 2022 आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता आतिशी ने बताया कि आम आदमी पार्टी का प्रतिनिधिमंडल आज सीबीआई दफ्तर जाएगा। सीबीआई निदेशक से भाजपा के ऑपरेशन लोटस की जांच की मांग करेगा। पेट्रोल डीजल का पैसा विधायकों को ख़रीदने के लिए डायवर्ट किया जा रहा है। भाजपा ने राज्य सरकारों को गिराने के लिए करीब 6300 करोड़ ख़र्च किया है। भाजपा के पास ऑपरेशन लोटस के तहत करीब 6300 करोड़ रुपए ख़र्च करने के लिए पैसा कहां से आया ? भाजपा ने ऐसा करके अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, कर्नाटक, गोवा, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र में सरकार गिराई हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा ऑपरेशन लोटस के पहले चरण में राज्य सरकार के मंत्रियों-विधायकों पर सीबीआई-ईडी की रेड करवाती है। दूसरे चरण में संदेश भेजती है कि भाजपा में आ जाओ तो सारे केस ख़त्म हो जाएंगे। तीसरे चरण में विधायकों को करोड़ों रुपए देकर ख़रीदा जाता है। भारत में पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाकर पैसे का ऑपरेशन लोटस में इस्तेमाल हो रहा है‌। अगर भाजपा ऑपरेशन लोटस बंद कर दे तो पेट्रोल-डीज़ल के दाम गिर जाएंगे।


आम आदमी पार्टी की वरिष्ठ नेता और विधायक आतिशी ने दिल्ली विधानसभा स्थित कॉन्फ्रेंस हॉल में महत्वपूर्ण प्रेस वार्ता को संबोधित किया। विधायक आतिशी ने कहा कि पूरा देश आजादी की 75 वीं सालगिरह मना रहा है। हम इस बात पर गर्व कर रहे हैं कि हमारे देश को आजाद हुए 75 साल हो गए हैं। 75 साल से हमारे देश में लोकतंत्र कायम है। लेकिन आज भारत के लोकतंत्र को भारत की ही सत्तारूढ़ पार्टी भारतीय जनता पार्टी से खतरा हो रहा है। भाजपा की केंद्र और कई राज्यों में सरकार है। भाजपा जब किसी भी राज्य में चुनाव हार जाती है और दूसरी पार्टी की सरकार बन जाती है। तब भाजपा का ऑपरेशन लोटस शुरू हो जाता है। ऑपरेशन लोटस के पहले कदम में केंद्र सरकार की सभी जांच एजेंसियों का इस्तेमाल किया जाता है। राज्य सरकार के विधायकों, नेताओं और मंत्रियों पर सीबीआई-ईडी के केस को खोले जाते हैं और छापे मारे जाते हैं। उन्हें जेल भेजने की धमकियां दी जाती हैं। इसके बाद उनको संदेश भेजा जाता है कि अगर भारतीय जनता पार्टी में आ जाओ तो तुम्हारे खिलाफ सीबीआई-ईडी की सभी जांचों को बंद कर दिया जाएगा। तीसरे कदम में उनको करोड़ों रुपए ऑफर किए जाते हैं कि आप अपनी पार्टी को छोड़कर और तोड़कर अगर भाजपा में आ जाओ। वहां भाजपा की सरकार बना दो तो हम तुम्हें करोड़ों रुपए नगद देंगे। भारतीय जनता पार्टी ने यह फार्मूला एक दो बार नहीं, बल्कि बार-बार अलग-अलग राज्यों में प्रयोग किया है। भाजपा ने अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, कर्नाटक, गोवा, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र में सरकार गिराई है। भारतीय जनता पार्टी दिल्ली में भी सरकार गिराने का ऑपरेशन लोटस का फार्मूला लागू करने की कोशिश कर रही है। जिस तरह से सीबीआई के पहले झूठे केस होते हैं। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को धमकाया जाता है और फिर मुख्यमंत्री बनने का ऑफर दिया जाता है। आम आदमी पार्टी के विधायकों को 20-20 करोड़ का ऑफर दिया जाता है कि तुम आम आदमी पार्टी छोड़कर भाजपा में आ जाओ।


उन्होंने कहा कि अभी तक पूरे देश में भाजपा 277 विधायकों को ऑपरेशन लोटस के तहत खरीद चुकी है। जिस तरह भाजपा ने आम आदमी पार्टी के विधायकों को 20-20 करोड़ का ऑफर दिया है। अगर 277 और दिल्ली के 40 विधायकों को जोड़ दें तो देश भर में ऑपरेशन लोटस के लिए भाजपा ने 6300 करोड़ रुपए का खर्चा किया है। भाजपा से सवाल पूछना चाहती हूं कि यह है 6300 करोड़ रुपए कहां से आया। महाराष्ट्र, कर्नाटक, अरुणाचल, मेघालय, गोवा और मध्यप्रदेश में सरकारों को गिराने का पैसा कहां से आया? ऐसे में ऑपरेशन लोटस पर आज एक जांच की जरूरत है कि आखिरकार इतना पैसा भारतीय जनता पार्टी कहां से लेकर आ रही है। 


विधायक आतिशी ने कहा कि देश में पेट्रोल-डीजल के दाम आसमान को छू रहे हैं। पूरी दुनिया में जहां पेट्रोल और डीजल के दाम गिर रहे हैं वहीं भारत में आसमान छूते जा रहे हैं। पेट्रोल और डीजल के जो बढ़ते हुए दाम है, उससे आने वाले पैसे को भाजपा डाइवर्ट करके ऑपरेशन लोटस पर खर्च कर रही है। अगर भारतीय जनता पार्टी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश भर में ऑपरेशन लोटस लागू करना, सरकारें गिराना और विधायकों को खरीदना बंद कर दें तो पूरे देश में पेट्रोल-डीजल के दाम गिर जाएंगे।


उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी के विधायकों का प्रतिनिधिमंडल आज सीबीआई दफ्तर जाएगा। हमने सीबीआई निदेशक से समय मांगा है। आम आदमी पार्टी के विधायकों का प्रतिनिधिमंडल दोपहर 3 बजे सीबीआई दफ्तर जाएगा। इस पूरे ऑपरेशन लोटस पर एक देशव्यापी जांच की मांग करेगा कि आखिर किस तरह से पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों से आने वाला पैसा अलग-अलग राज्यों में विधायकों को खरीदने के लिए डाइवर्ट किया जा रहा है। किस तरह से 6300 करोड़ रुपए भारतीय जनता पार्टी ने देशभर में अलग अलग राज्य की सरकारों को गिराने में खर्च किया है। दिल्ली के विधायकों को खरीदने के लिए 800 करोड रुपए भारतीय जनता पार्टी ने तैयार रखा है, यह पैसा कहां से आया? इसके अलावा 277 विधायकों को आज तक भारतीय जनता पार्टी खरीद चुकी है, इन विधायकों को खरीदने का पैसा कहां से आया?

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया