*शमीम अली की मौत के मामले में श्रीनगर पुलिस ने दो को किया गिरफ्तार*

शमीम अली नाथ पुत्र अली मोहम्मद नाथ निवासी वीर क्षेत्र चटाबल, 05.07.2022 से लापता था।  बाद में उनका शव मंगलवार यानी 19.07.2022 को श्रीनगर के संगम इलाके से बरामद किया गया.  इसके बाद पीएस संगम में सीआरपीसी की धारा 174 के तहत जांच की कार्यवाही शुरू की गई।  डॉक्टरों की एक टीम द्वारा मृतक का पोस्टमार्टम किया गया और कानूनी औपचारिकताओं के बाद मृतक के शव को अंतिम संस्कार के लिए नॉक को सौंप दिया गया।


पूछताछ के दौरान यह सामने आया कि मृतक को दो व्यक्तियों द्वारा मानसिक और शारीरिक रूप से प्रताड़ित किया गया था, अर्थात् i) आशिक वानी (50) पुत्र गुलाम वानी चटाबल, श्रीनगर और ii) फैयाज अहमद मेवाफोरश (51) पुत्र अब अजीज मेवाफोरश  मृतक और दोनों के बीच कुछ आर्थिक लेन-देन के कारण सरनाल, अनंतनाग।  यहां यह उल्लेख करना उचित है कि दोनों आरोपियों ने 5 जुलाई 2022 को, जिस दिन मृतक लापता हो गया था, कुछ कर्ज के कारण चटाबल क्षेत्र में स्थित मृतक के आवासीय घर को अवैध रूप से बंद कर दिया था।  (सफाकदल पीएस को सूचना मिलते ही घर व ताला खोल दिया गया है)

 उपलब्ध मौखिक और तकनीकी साक्ष्यों के आधार पर प्राथमिकी संख्या के तहत जांच की कार्यवाही को औपचारिक मामले में बदल दिया गया।  137/2022 आईपीसी पी/एस सफाकदल की धारा 306,452,427 और 506 के तहत।

 आरोपी आशिक वानी और फैयाज अहमद दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है।  इस मामले में गहन जांच के लिए एसडीपीओ एमआर गंज, मोहम्मद फारूक भट जेकेपीएस की अध्यक्षता में एक एसआईटी का गठन किया गया है।

 पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट, कुछ एफएसएल रिपोर्ट का इंतजार है और पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के निष्कर्षों के आधार पर हत्या, सबूतों को नष्ट करना और अन्य संबंधित धाराओं जैसी अन्य धाराओं को मामले में जोड़ा जाएगा।

 श्रीनगर पुलिस नागरिकों को आश्वस्त करती है कि कोई भी अपराध पकड़ में नहीं आएगा और ऐसे अपराधों का पता लगाने के लिए जांच के सभी आधुनिक साधनों का उपयोग किया जाएगा।



*Srinagar Police arrests two in Shameem Ali death case*


Shameem Ali Nath son of Ali Mohammad Nath resident of weir area Chatabal,  was missing since 05.07.2022. His dead body was later on recovered from Sangam area of Srinagar on Tuesday i.e 19.07.2022. Subsequently Inquest proceedings under section 174 of CRPC were initiated in PS Sangam. The post-mortem of the deceased was conducted by a team of doctors and after medico legal formalities the dead body of the deceased was handed over to NOK’s for last rites. 


During inquest it came to fore that the deceased was mentally and physically harrassed by two individuals namely i) Ashiq Wani( 50) S/o Ghulam Wani of Chatabal, Srinagar and ii) Fayaz Ahmad Mewaforash (51) S/o Ab Aziz Mewaforash from Sarnal, Anantnag on account of some financial dealings between the deceased and the two. Pertinent to mention here that both the accused had illegally locked the residential house of the deceased situated at weir area Chatabal on account of some debt that he owed them, on 5th of July 2022, the date when the deceased went missing. (The house and lock has been opened as soon information was recieved by safakadal PS)

On the basis of available oral and technical evidences, the inquest proceedings were converted into a formal case under  FIR NO. 137/2022 under sections 306,452,427 and 506 of IPC P/S Safakadal. 

Both the accused Ashiq Wani and Fayaz Ahmad have been arrested. An SIT headed by SDPO MR Gunj,  Mohd Farooq Bhat JKPS has been formed for in-depth investigation in this case. 

The Post mortem report, some FSL reports are awaited and other sections like murder, destruction of evidence and other relevant sections will be added to the case based on the findings of the Post mortem report. 

Srinagar Police assures the citizens that no crime shall go undetected and all modern means of investigation will be utilised to unearth such crimes.

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया