आज उर्स ए शाह जी के आग़ाज़ के मौके पर उर्स की परंपराग के तौर पर जिला अधिकारी पुलकित खरे एवं पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी सहित पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों के पगड़ी बांधी गई|

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए पीलीभीत से ब्यूरो चीफ शाहिद खान की रिपोर्ट|

जिला प्रशासन की ओर से चादर चढ़ाई जाने के साथ ही मुल्क में अमन चैन खुशहाली और भाईचारे के लिए दुआएं मांगी|

कुतुब ए पीलीभीत हज़रत हाजी शाह जी मुहम्मद शेर मियां के 119 वे उर्स ए शाह जी का आगाज आज अधिकारियों के दस्तारबंदी के साथ हुआ| आज उर्स ए शाह जी के आग़ाज़ के मौके पर दरगाह शाह जी मियां पहुंचे, जिला अधिकारी पुलकित खरे, पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी, व अपर पुलिस अधीक्षक पवित्र मोहन त्रिपाठी, एवं क्षेत्र अधिकारी सुनील दत्त,  प्रभारी निरीक्षक कोतवाली हरीश वर्धन सिंह, वरिष्ठ उप निरीक्षक सदाकत अली,  नगर पालिका प्रशासनिक अधिकारी सुरेंद्र प्रताप सहित सभी अधिकारी गण को दरगाह शाह जी मियां के सज्जादा नशीन मुन्ने मियां ने जिला अधिकारी पुलकित खरे व पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी0 व अपर पुलिस अधीक्षक पवित्र मोहन त्रिपाठी व क्षेत्र अधिकारी सुनील दत्त, थाना कोतवाली प्रभारी हरीश वर्धन सिंह, वरिष्ठ उप निरीक्षक सदाकत अली, नगर पालिका प्रशासनिक अधिकारी सुरेंद्र प्रताप सहित सारे अधिकारियों के उर्स की परंपरा के तौर पर पगड़ी बांधी गई| इस मौके पर जिला अधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने कहा कि कोविड के बाद इस बार शाहजी मियां का उर्स परंपरागत तरीके से व पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा जनपद और देश में अमन चैन और खुशहाली के लिए पुलिस प्रशासन की तरफ से चादर चढ़ाई व दुआएं मांगी और सुरक्षा की दृष्टि से दरगाह को आने वाले सारे रास्तों पर बैरिकेडिंग लगाकर पुलिस फोर्स तैनात किया गया| जिला अधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने जनपद के सारे मुसलमान भाइयों को एडवांस में ईद की बधाई व शुभकामनाएं दी






इसी क्रम में पुलिस अधीक्षक व नगरपालिका प्रशासनिक अधिकारी द्वारा प्लास्टिक बैग की रोक पर सभी आम जनमानस को शपथ दिलाई गई व सभी को इसके लिए जागरूक किया गया|

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

सिविल डिफेंस में काम करने वाली राबिया की हत्या करके हत्यारा हरियाणा से दिल्ली के कालंदिकुंज थाने में आकर क्यों करता है सिरेंडर, खड़े हो रहे हैं कुछ सवाल?

लापता दो आदिवासी युवकों की संदिग्ध मौत की तुरंत जांच की मांग