झोलाछाप के इलाज ने ली महिला की जान सेवा अस्पताल में चल रहा था इलाज


अनीता देवी की रिपोर्ट
 उत्तर प्रदेश जिला बरेली तहसील बहेड़ी  क्षेत्र के गांव शकरस में एक झोलाछाप डॉक्टर के इलाज ने महिला की जान ले ली। महिला की मौत के बाद से परिजनों में डॉक्टर के प्रति आक्रोश व्याप्त कर जमकर हंगामा काटा। सूचना पर पहुँची पुलिस ने मामले को शांत कराकर मृतक के परिजनों पर दबाव बनाकर लिखित फैसला कराया। परिजनों के आरोप व  सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार एक गर्भवती महिला की मौत का मामला है।

क्षेत्र के गांव शकरस निवासी शाइस्ता (28) पत्नी दानिश गर्भवती थी बीती शाम अचानक उसकी तबियत खराब होने पर उसके परिजन उसे गाँव के ही सेवा अस्पताल ले गए, जहां चिकित्सक ने महिला को खून की कमी बताई जिसके बाद मृतका को खून चढ़ाने के लिए भर्ती कर लिया इलाज से हालत और ज्यादा खराब हो गई। सोमवार सुबह इलाज के दौरान ही महिला की मौत हो गयी। महिला की मौत होने पर परिजनों ने अस्पताल में तैनात अप्रशिक्षित डॉक्टर इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लागते हुए हंगामा शुरू कर दिया। ग्रामीणों का आरोप है कि यह अस्पताल बिना अनुमति के व झोलाछाप डॉक्टर चला रहे है। अक्सर इन्ही झोलाछाप डॉक्टरो के इलाज से इंसान की मौत हो जाती है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया