पूर्व कैबिनेट मंत्री कद्दावर नेता सपा विधायक मोहम्मद आजम खान की तबीयत बिगड़ी, सर गंगाराम अस्पताल में कराया गया भर्ती|

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए मुस्तकीम मंसूरी की रिपोर्ट, 

आजम खान को सांस लेने में हो रही है परेशानी डॉक्टरों की निगरानी में रखा गया है आजम खान को, अस्पताल सूत्रों ने बताया आजम खान को सांस लेने में परेशानी होने के चलते उन्हें अस्पताल में  कराया गया भर्ती|

नई दिल्ली:- समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता पूर्व कैबिनेट मंत्री सपा विधायक मोहम्मद आजम खान की तबीयत खराब हो गई है| उन्हें इलाज के लिए दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल में भर्ती कराया गया है| बताया जा रहा है कि आजम खान को सांस लेने में परेशानी हो रही है|




आजम खान को डॉक्टरों की निगरानी में रखा गया है| अस्पताल सूत्रों ने बताया आजम खान को सांस लेने में परेशानी होने के चलते परिजनों ने उन्हें अस्पताल में दाखिल करवाया| अस्पताल में उनकी हालत भी स्थिर है| फिलहाल आजम खान चिकित्सकों की निगरानी में है| समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता पूर्व कैबिनेट मंत्री विधायक आजम खान काफी समय से जेल में बंद थे, वहां पर भी उनकी तबीयत खराब हो गई थी| और इससे पहले उन्हें कोरोना भी हो गया था| आजम खान को तबीयत खराब होने की वजह से देर शाम शनिवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया है|

आपको बताते चलें की समाजवादी पार्टी के संस्थापक सदस्य विधायक आजम खान 812 दिन के बाद सीतापुर जेल से हाल ही में रिहा हुए है| आजम खां की रिहाई के समय उनके बड़े बेटे अदीब आजम सबसे पहले अस्पताल पहुंचे थे उसके बाद आजम खां के विधायक बेटे अब्दुल्लाह आजम खान के सात सपा के विधायक आशु मलिक भी सीतापुर जेल पहुंच गए थे| सपा विधायक आजम खान को रामपुर में विभिन्न मामलों में आरोपित होने के बाद 22 फरवरी 2020 में सीतापुर  जिला जेल भेजा गया था| उसके बाद आजम खान की पत्नी तंज़ीन फातिमा व छोटे पुत्र अब्दुल्लाह आजम भी सीतापुर जेल भेजे गए थे| करीब 10 माह बाद आजम खान की पत्नी तंजीन फातिमा को जमानत मिल गई थी| और आजम खान के बेटे अब्दुल्लाह आजम 15 जनवरी 2022 को रिहा हुए थे| उसके बाद जमानत मिलने पर आजम खान करीब 27 महीने बाद रिहा हो गए| आपको बताते चलें जिला जेल सीतापुर में बंद आजम खान ने विधानसभा का चुनाव भी जेल से ही लड़ा| आजम खान चुनाव जीतकर रामपुर सदर सीट से विधायक बने| बीते महा सपा विधायक से नेताओं की मुलाकात भी खासी चर्चा में रही| प्रसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव की मुलाकात के बाद कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम भी जिला जेल पहुंचे थे| उसी दौरान आजम खान से सपा के प्रतिनिधिमंडल के साथ पहुंचे विधायक रविदास मल्होत्रा से आजम खान ने मिलने से इनकार भी कर दिया था| इस तरह सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव की वजह से आजम खां की नाराजगी सपा से जगजाहिर है|

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया