कुछ तो है जिसकी पर्देदारी है? अखिलेश यादव से मिलने पहुंचे उनकी सीट पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, मिलाया हाथ... की बात-आखिर क्यों?

 बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए मुस्तकीम मसूरी की रिपोर्ट,

अखिलेश यादव व  उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य में एक दिन पहले तीखी नोकझोक होने पर दोनों नेताओं को शांत कराने वाले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बृहस्पतिवार को अखिलेश यादव से मिले और दो मिनट तक उनसे की बातचीत, 

लखनऊ, उत्तर प्रदेश विधानसभा में बुधवार को शब्दों की मर्यादा को लेकर सपा सुप्रीमो एवं नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव को तल्ख़ अंदाज में  नसीहत देने के अगले दिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सदन में अलग ही अंदाज में नजर आए|

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बृहस्पतिवार को 10:55 बजे विधानसभा में पहुंचे| मंडप में पहुंचते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सीधे नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव से मिलने उनकी सीट पर पहुंचे| योगी आदित्यनाथ ने अखिलेश यादव से हाथ मिलाते हुए बातचीत शुरू की| योगी आदित्यनाथ को अखिलेश यादव के साथ हंसते खिलखिलाते देख सत्ता पक्ष और विपक्ष के विधायक भी उनके पास जा खड़े हुए| अखिलेश यादव और योगी आदित्यनाथ में करीब दो मिनट तक बातचीत हुई, उसके बाद योगी आदित्यनाथ अपनी पार्टी के विधायकों का अभिवादन स्वीकार करते हुए, अपनी सीट पर बैठ गए| इस दौरान उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य भी अपनी सीट पर बैठे रहे|
वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने बजट प्रस्तुत करने के बाद हाथ जोड़कर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का आभार प्रकट किया| मुख्यमंत्री योगी ने भी खन्ना की पीठ थपथपाते हुए बजट पेश करने के लिए उन्हें बधाई दी| वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने एक घंटे 27 मिनट में 38 पेज का बजट भाषण पढ़ा| विधानसभा में बजट विधायकों की सीट पर लगे टेबलेट पर डाउनलोड किया गया था| परंतु कुछ विधायकों के टेबलेट में बजट डाउनलोड नहीं होने के कारण उन्हें बजट भाषण की प्रतियां उपलब्ध कराई गई| वहीं कुछ विधायकों को ऑनलाइन बजट देखने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा| हालांकि विधानसभा के कर्मचारियों ने विधायकों की परेशानी दूर करने में मदद भी की|

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया