पीलीभीत में सच्ची घटना पर बनी संजीव त्रिपाठी की नई फिल्म शेर दिल:द पीलीभीत सागा| आदमी, जंगल और जानवर तीनों की जमीन एक ही है और सीमित है|

 फिल्म 'शेरदिल: द पीलीभीत सागा' की कहानी पीलीभीत टाइगर रिजर्व की सीमा से लगे गांवों में दुखद घटनाओं की वास्तविक घटना से प्रेरित है, कि कैसे परिवार को बचाने के लिए अपने जीवन का बलिदान देने के लिए बहुत साहस की आवश्यकता होती है|

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए पीलीभीत से ब्यूरो चीफ शाहिद खान की रिपोर्ट, 

पीलीभीत, बॉलीवुड के मंझे हुए कलाकार अभिनेता पंकज त्रिपाठी जल्दी ही अपनी नई फिल्म 'शेरदिल: द पीलीभीत सागा' के साथ दर्शकों का मनोरंजन करने को तैयार हैं। इस फिल्म का निर्माण टी-सीरीज और रिलायंस एंटरटेनमेंट ने मैच कट प्रोडक्शन के साथ मिलकर बनाया है। इस फिल्म के सेट से तस्वीरें भी सामने आ चुकी है और मेकर्स की तरफ से फिल्म की रिलीज का ऐलान भी कर दिया गया है।


पंकज त्रिपाठी की डार्क ह्यूमर से भरपूर यह फिल्म 'शेरदिल: द पीलीभीत सागा' सच्ची घटनाओं से प्रेरित है। फिल्म को राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता निदेशक, श्रीजीत मुखर्जी द्वारा निर्देशित किया गया है। वास्तविक घटनाओं से प्रेरित इस गाथा में पंकज त्रिपाठी के अलावा नीरज काबी और सयानी गुप्ता भी अहम भूमिकाओं में हैं।

'शेरदिल: द पीलीभीत सागा' फिल्म में शहरीकरण के प्रतिकूल प्रभावों, मानव-पशु संघर्ष और गरीबी के बारे में एक अंतर्दृष्टि पूर्ण कहानी सामने रखी जाएगी, जो जंगल के किनारे बसे एक गांव की लोगों के बारे में है। फिल्म की तस्वीरों में पंकज त्रिपाठी साधारण व्यक्ति की वेशभूषा में जंगलों में दिखाई दे रहे हैं। यह फिल्म श्रीजीत मुखर्जी का ड्रीम प्रोजेक्ट है।

फिल्म 'शेरदिल: द पीलीभीत सागा' की कहानी पीलीभीत टाइगर रिजर्व की सीमा से लगे गांवों में दुखद घटनाओं की वास्तविक घटना से प्रेरित है, कि कैसे परिवार को बचाने के लिए अपने जीवन का बलिदान देने के लिए बहुत साहस की आवश्यकता होती है और श्रीजीत मुखर्जी की यह फिल्म वीरता के इर्द-गिर्द घूमती है, जो मनुष्य और प्रकृति के संघर्ष पर केंद्रित है। यह फिल्म 24 जून, 2022 को बड़े पर्दे पर दस्तक देगी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया