खुटार नगर पंचायत क्षेत्र के तालाबों पर अवैध कब्जे के सिलसिले को रोकने में प्रशासन हुआ पूरी तरह नाकाम,

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए मिर्जा तौहीद बैग की रिपोर्ट, 

तालाबों के पटने में खुटार नगर पंचायत की भूमिका संदेह के घेरे में, 

खुटार-शाहजहांपुर। नगर पंचायत क्षेत्र में लगभग 28 तालाब बताए जा रहे हैं जिन पर धीरे-धीरे कब्जा होता जा रहा है तालाबों का दायरा सिमट रहा है कब्जे दार तालाबों को पाट-पाटकर उन पर भवन निर्माण करा रहे हैं प्रशासन मौन रूप धारण कर यह सब देख रहा है

जागरूक नगरवासी तालाबों को लेकर समय-समय पर प्रशासन से शिकायत भी करते रहते हैं फिर भी कोई ठोस कार्रवाई अमल में नहीं लाई जा रही है जिसके चलते जलीय जीव एवं तालाबों पर आधारित जीवों के नष्ट होने की संभावना से भी इनकार नहीं किया जा सकता है।

कुछ नगर वासियों की माने तो नगर पंचायत भी तालाबों को पाटने में अपना अहम रोल निभा रही है नगर पंचायत से कूड़ा करकट लेकर जाने वाली नगर पंचायत की ट्रालियां नगर के तालाबों में अपना कूड़ा डालकर नगर के तालाबों को पाटने में सहयोग सा कर रहीं हैं जिसके चलते तालाबों की गहराई कम हो जाने पर कूड़ा करकट के ऊपर लोग मिट्टी डलवा कर कब्जा कर लेते हैं एवं मकान बनवा लेते हैं जागरूक नगर वासियों ने तालाबों पर अवैध कब्जों को लेकर प्रशासन से ठोस कार्यवाही की मांग की है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

विधायक अताउर्रहमान के भाई नसीम उर्रहमान हज सफर पर रवाना

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र