सूफी मोहम्मद उस्मान कादरी के दसवें उर्स के दूसरे दिन सज्जादा नशीन मोहम्मद हसन मियां क़दीरी ने दरगाह शाहजी मियां व लुत्फ़ फुल्ला शाह के मजार पर चादर पोशी कर मुल्क में अमन के लिए दुआएं की,

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए पीलीभीत से दानिश अली की रिपोर्ट, 

सूफी मोहम्मद उस्मान काद़री रहमतुल्लाह अलेह के दसवें उर्स के दूसरे दिन अकीदत मन्दो की  खानकाहे उस्मानिया में  उमड़ी भीड़, 

पीलीभीत 7 मार्च, ख़नकाहे उस्मानिया मोहल्ला शेर मोहम्मद पीलीभीत में सूफी मोहम्मद उस्मान क़ादरी रहमतुल्ला अलेह का 10 वां तीन रोज़ा सालाना उर्स का आगाज 6 मार्च से मोहम्मद हसन मियां क़दीरी की ज़ेरे सरपरस्ती शुरू हुआ।




उर्स के दूसरे दिन परंपरागत तरीके से खानकाहे उस्मानिया के सज्जादा नशीन मौलाना मुफ्ती हसन मियां क़दीरी  ने आज अपने मुरीदैन के साथ कुतुब ए पीलीभीत हाज शाहजी मोहम्मद शेर मियां की दरगाह व लुत्फ़ फुल्ला शाह मियां के मजार पर चादर पोशी के साथ ही अपने मुल्क हिंदोस्तान में अमानो अमान की दुआ के साथ ही पूरी दुनिया की सलामती के लिए खुसूसी दुआएं की गई इस मौके पर कोरोना वायरस जैसी गंभीर बीमारी जो हमारे मुल्क में चल रही है और पूरी दुनिया वायरस के चपेट में है उसके खात्मे के लिए खुसूसी दुआ की गई इसके साथ ही मुल्क की गंगा जमुनी तहजीब को बरकरार रखने और सभी मजहब के मानने वालों से आपस में मोहब्बत और भाईचारे को बरकरार रखने के लिए भी तमाम हिंदुस्तान के बाशिंदों से अपील के साथ ही सज्जादा नशीन मौलाना मुफ्ती हसन मियां कादरी ने कहा कि हमारा मुल्क एक गुलदस्ते की मानिंद है जिसमें अलग-अलग मतलब के मानने वाले अपनी अपनी आस्थाओं के हिसाब से अपने-अपने त्योहारों को मनाते हैं और उन त्योहारों की खूबसूरती यह होती है के सभी एक दूसरे के त्योहारों में खुशियां आपस में बांटते हैं जो खूबसूरती हिंदुस्तान की आवाम के अखलाक में है वह पूरी दुनिया में कहीं नहीं मिलेगी हसन मियां ने कहा की हम सभी मुल्क के बाशिंदों से अपील करते हैं कि अपने अखलाक की खूबसूरती को जिस तरह बरकरार रखा है उसके लिए सभी दुआ करें कि हिंदुस्तान का गुलशन हमेशा आबाद रहे और मुलक की गंगा जमुनी तहजीब की दुनिया में मिसाल बनी रहे, इस मौके पर चादर पेशी के दौरान डॉक्टर आजम मीर खां, नफीस अहमद, मौलाना इरफान मियां कादरी, सुभान मियां कादरी, सज्जादा नशीन मौलाना मुफ्ती हसन मियां कादरी के साथ चादर पोशी के दौरान मौजूद रहे इसके अलावा बड़ी तादाद में मुरीदैंन भी साथ रहे,

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

सिविल डिफेंस में काम करने वाली राबिया की हत्या करके हत्यारा हरियाणा से दिल्ली के कालंदिकुंज थाने में आकर क्यों करता है सिरेंडर, खड़े हो रहे हैं कुछ सवाल?

लापता दो आदिवासी युवकों की संदिग्ध मौत की तुरंत जांच की मांग