कोरोना अंतरराष्ट्रीय षड़यंत्र है" "न्यू वर्ल्ड आर्डर हम भारतीयों को मंज़ूर नहीं" को लेकर दिल्ली सचिवालय पर धरना प्रदर्शन

नई दिल्ली (अनवार अहमद नूर)

"जागरूक बनें गुलाम नहीं", मानव चिप मंज़ूर नहीं, हमें कम्प्यूटर से संचालित नहीं होना, कर्ज़ में डूबा हर इंसान, मेरा शरीर बिल गेट्स व सरकार के परिक्षण का चूहा नहीं, कोरोना अंतरराष्ट्रीय षड़यंत्र, न्यू वर्ल्ड आर्डर हमें मंज़ूर नहीं, जैसे स्लोगन और नारे लिखे प्ले कार्ड्स के साथ आज दिल्ली सचिवालय के गेट नंबर छह के सामने भारतीय जागरूकता अभियान के नेतृत्व में लोगों ने धरना प्रदर्शन किया जिसमें बड़ी संख्या में स्त्री पुरुष नौजवान और एक बाबा जी भी शामिल रहे। पीएम मोदी और सीएम केजरीवाल के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गयी। साथ ही साथ वंदे मातरम के नारे भी लगे और लोगों को बताया गया कि जबरन वैक्सीन लगवाना, जबरन मास्क लगवाना,



यह सभी लोगों को बेवकूफ बनाया जा रहा है क्योंकि कोरोना एक अंतरराष्ट्रीय षड्यंत्र है। यहां जो पंपलेट बांटे गए उसमें कोरोना  वैक्सीन में बड़े खतरनाक और हानिकारक तत्व का होना बताया है। कई घंटों तक सचिवालय के गेट पर, धरने पर रहे लोगों ने कहा कि हमारी सरकारें पूरी दुनिया के षड़यंत्र के तहत हम लोगों को गुलाम बना रही हैं। हमें हमारे बच्चों के शरीरों को परीक्षण का चूहा समझा जा रहा है। वैक्सीन के साइड इफेक्ट हो रहे हैं लेकिन इस पर कोई चर्चा या चिंता नहीं है इसलिए हम यहां इकट्ठा हुए हैं कि लोग जागरूक बने गुलाम नहीं। और सरकारें जन हित के फैसले करें लोगों को परेशान करने वाले नहीं।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

विधायक अताउर्रहमान के भाई नसीम उर्रहमान हज सफर पर रवाना

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र