उत्तराखंड चुनाव में हार के डर से भाजपा वोटों के ध्रुवीकरण के लिए रुद्रपुर का सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने का असफल प्रयास कर रही है - फरीद मंसूरी

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए मुस्तकीम मंसूरी की रिपोर्ट, 

उधम सिंह नगर/ रुद्रपुर, अल्पसंख्यक कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष फरीद मंसूरी ने प्रतिबंधित पशु को काटकर फेंकने की घटना को शर्मनाक बताते हुए कहा भाजपा उत्तराखंड चुनावों में हार के डर से प्रदेश का सांप्रदायिक वातावरण खराब करने का प्रयास कर रही है,

फरीद मंसूरी ने कहा चुनाव का बिगुल बज चुका है और चुनावी रण में भाजपा शहर का माहौल खराब कर सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने के लिए प्रतिबंधित पशुओं को काटकर फेंकने की शर्मनाक घटना को तूल दिलवा कर चुनावी फायदा उठाने का प्रयास कर रही है जिसे रुद्रपुर की जनता किसी भी कीमत में बर्दाश्त नहीं करेगी उन्होंने कहा चुनावी मौके पर माहौल खराब करने वालों के खिलाफ कार्यवाही होना चाहिए और ऐसे असामाजिक तत्व को कहीं ना कहीं भाजपा का संरक्षण अवश्य प्राप्त है, जिसकी  उच्च स्तरीय जांच होने पर सारा मामला खुलकर सामने आ जाएगा, फरीद मंसूरी ने कहा अल्पसंख्यक कांग्रेस प्रतिबंधित पशुओं के काटे जाने की घटना की कड़ी निंदा करते हुए घटना में शामिल दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग करती है और उक्त प्रकरण में शामिल लोगों के षड्यंत्र का पर्दाफाश करने की भी मांग करती है गोकशी की घटना की जितनी भी निंदा की जाए वह कम है उन्होंने कहा हमारे शहर के अमन और शांति पूर्ण माहौल को कुछ असामाजिक तत्व बिगाड़ने का प्रयास कर रहे हैं ऐसे तत्वों को चिन्हित कर जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन को कठोरतम कदम उठाकर दोषियों को शीघ्र गिरफ्तार कर जेल भेज कर शहर के अमनो अमान को बचाना होगा, फरीद मंसूरी ने कहा चुनाव से पहले यह घटना भाजपा का राजनीतिक षड्यंत्र भी हो सकता है क्योंकि भाजपा को अपनी हार सामने से नजर आ रही है इसलिए भाजपा के लोग असामाजिक तत्वों के द्वारा इस तरह की घटनाओं को अंजाम दिलवाकर चुनाव को हिंदू-मुस्लिम करना चाहते हैं परंतु भाजपा के लोगों को मालूम होना चाहिए उत्तराखंड के लोग किसी भी कीमत पर सांप्रदायिकता को पनपने नहीं देंगे और जिस भाई चारे के साथ सभी धर्म सभी जाति के लोग उत्तराखंड में रहते हैं उसी भाईचारे के साथ उत्तराखंड चुनाव में संप्रदायिक ताकतों को सत्ता से बेदखल करने में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेंगे, फरीद मंसूरी ने कहा कांग्रेस के शासनकाल में जिस तरह उत्तराखंड विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा था विकास की रफ्तार को भाजपा सरकार में रोक दिया गया है, उत्तराखंड की जनता भाजपा के फरेब में फंस कर उत्तराखंड की बदहाली को देख चुकी है उत्तराखंड में बदलाव की अलख जाग चुकी है और चुनाव में उत्तराखंड की जनता भाजपा की विनाशकारी सरकार को उखाड़ फेंक कर उत्तराखंड में कांग्रेस को सत्ता सौंपने का मन बना चुकी है अब उत्तराखंड में कांग्रेस का राज होगा और उत्तराखंड का भरपूर विकास होगा,

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र

ज़िला पंचायत सदस्य पद के उपचुनाव में वार्ड नंबर 16 से श्रीमती जसविंदर कौर की शानदार जीत