लखीमपुर खीरी में बवाल, मंत्री के बेटे ने किसानों पर गाड़ी चढ़ाई के किसानों की मौत


 लखीमपुर खीरी: भारतीय किसान नेता राकेश टिकैत ने मामले को संज्ञान लेते हुए लखीमपुर जाने का फैसला  किया है। उन्होंने कहा कि यह घटना बेहद दुख पहुंचाने वाली है। उन्होंने कहा धरना प्रदर्शन कर रहे किसानों पर गाड़ी से हमला किया गया है। जिसमें कई नेताओं की मौत हो गई। उन्होंने कहा किसानों पर फायरिंग तक की गई। हम इसके लिए लखीमपुर के लिए पहुंच रहे हैं। जो ही होगा हम उसे अवगत कराएंगे।बता दें कि उत्तर प्रदेश में लखीमपुर खीरी के तिकुनिया क्षेत्र में रविवार को धरने पर बैठे किसानों को एक कार ने कुचल दिया। इस हादसे में तीन से चार किसानों की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि अपनी मांगों को लेकर धरने पर किसान डटे हुए थे। सूत्रों की मानें तो भाजपा नेता के बेटे की गाडी बताई जा रही है। फिलहाल घटना से गुस्साए लोगों ने कई गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया है। घटना पर भरी पुलिस मौजूद कर  रहे हैं। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

गौरतलब है पिछले 9 महीने से ज्यादा समय से तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों अब इस विरोध को देशभर में फैलाने में लगे हैं. इसी के तहत वह लखीमपुर खीरी में मंत्री की सभा का विरोध कर रहे थे, जब यह घटना हुई.

सोशल मीडिया पर कुछ नेताओं और यूजर्स के ट्वीट से पता चला है कि किसान मंत्री की एक जनसभा का विरोध कर रहे थे, जिस दौरान यह घटना हुई. तस्वीरों में दिख रहा है किसानों ने कुछ गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया हैछोटे चौधरी के नाम से जाने जाने वाले लोकदल के नेता अजीत चौधरी ने ट्वीट किया है, ‘लखीमपुर खीरी से दिल दहलाने वाली खबरें आ रहीं हैं! केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा का क़ाफ़िला आंदोलनकारी किसानों पर चढ़ा दिया गया! 2 किसानों की मौत हो गई और कई घायल हैं. विरोध को कुचलने का काला कृत्य जो किया है, साज़िश जब गृह मंत्री रच रहे हैं, फिर कौन सुरक्षित है?’एक किसानों से जुड़ी वेबसाइट से बात करते हुए किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा, ‘विरोध-प्रदर्शन से लौटते किसानों पर गाड़ियों से हमला किया और फायरिंग हुई वे गाजीपुर बॉर्डर से लखीमपुर के लिए रवाना हो रहे हैं.’दलित नेता चंद्रशेखर आजाद ने ट्वीट कर लखीमपुर खीरी में गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र के पुत्र आशीष मिश्रा के काफिले द्वारा किसानों को रौंदने की जानकारी दी है. उन्होंने दो किसानों की मौत और 8 घायल होने बात कही है. उन्होंने इसे हादसा नहीं हत्या कहा है.राजस्थान सीपीआईएम के पूर्व विधायक और किसान महासभा के नेता आमरा राम ने ट्वीट किया है कि यूपी के लखीमपुर खीरी में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री के कार्यक्रम का विरोध कर रहे सड़क किनारे किसानों पर मंत्री के काफिले की गाड़यां द्वारा कुचले जाने पर 2 किसानों की मौत हो गई है व 8 किसान घायल हैं.एक यूजर रणविजय सिंह ने ट्वीट किया है कि प्रदर्शन में शामिल एक किसान ने बताया – हम लोग विरोध करके लौट रहे थे. तभी मंत्री के बेटा 5 गाड़ियों से आया और किसानों को रौंदते गया.

किसानों ने दौड़ाकर कुछ गाड़ियां पकड़ लीं. गाड़ियों में सवार लोग असलहों से लैस थे, फायरिंग करते निकल गए.

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया