जनपद बागपत में मिशन शक्ति नारी एक पहल कार्यक्रम का आयोजन


बागपत (उत्तर प्रदेश)मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को मिशन शक्ति फेज-3 के तहत 'निर्भया-एक पहल' कार्यक्रम का शुभारंभ किया। सीएम योगी ने लोकभवन में आयोजित कार्यक्रम में प्रतीकात्मक रूप से कुछ महिलाओं को प्रशिक्षण किट दिया। इसी के साथ प्रदेश के सभी जिलों में कुल 75000 महिलाओं को उद्यमिता की प्रशिक्षण किट भी दिया गया। इस मौके पर सीएम योगी 'एक जनपद, एक उत्पाद योजना' का विशेष डाक टिकट और लिफाफा का भी विमोचन किया।


बागपत जनपद में आयोजित वात्सायन मैरिज होम में सहायक अधीक्षक बडौत डाकघर अजय कुमार जैन ने विशेष कवर का विमोचन किया । इस मौके पर मुख्य अतिथि डिस्ट्रिक्ट इंडस्ट्रीज कमिश्नर आरती तिवारी ने महिलाओं को संबोधित करते हुए
कहा कि महिलाएं आज आत्मनिर्भर की ओर कदम बढ़ा रही है,नारी शक्ति सम्मान के साथ आगे बढ़ रही है। नारियों को आत्म स्वावलंबनी बनने के लिए सरकार ने जो योजना शुरू की है उसका महिलाओं को फायदा उठाना चाहिए। उन्होंने महिलाओं को बताया कि किसी भी प्रकार की लघु इकाई स्थापित करने के लिए वह उनके कार्यालय से संपर्क कर सकती हैं। इस मौके पर दर्पण समाज सेवा समिति के डायरेक्टर डॉक्टर मोहम्मद हाशिम मलिक ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि महिलाओं को जागरूक करना उन्हें उनके अधिकार बताना और महिलाओं से भय दूर करना आज समाज की एक जरूरत है। दर्पण समाज सेवा समिति के माध्यम से वह समाज में महिलाओं की भलाई के लिए कार्य करते रहते हैं उनकी संस्था गरीब लड़कियों की शादी भी कराती रहती है।  फिरोज खान ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि आज का यह कार्यक्रम माननीय मुख्यमंत्री द्वारा नारी शक्ति को प्रेरणा देगा और इससे महिलाओं को सशक्त होने में बहुत बड़ी शक्ति मिलेगी। दिल्ली से आए पत्रकार एस ए बेताब ने महिलाओं को उनके कानूनी अधिकार, सम्मान और समानता के बारे में बताया ।  महिलाएं आज किसी से भी कम नहीं है वह हर क्षेत्र में आगे बढ़ रही हैं, और महिलाओं को शिक्षित होकर अपने परिवार और  राष्ट्र का नाम रोशन करना चाहिए।इस अवसर पर अफरोज खान, शहरीन, गुलफ्शां फारुकी़, कृष्णपाल, राजपाल शर्मा, राजकुमार सिंह सोम एवं सैकड़ों महिलाएं उपस्थित थी इस कार्यक्रम में ऑनलाइन मुख्यमंत्री का कार्यक्रम दिखाया गया। इस कार्यक्रम का आयोजन यूपीकोन संस्था द्वारा किया गया

इस मौके पर उत्तर प्रदेश के सीएम योगी ने कहा कि तीन दिन तक इन महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा, फिर अगले तीन माह में प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के माध्यम से उन्हें बैंक और केंद्र व राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ दिलाकर उद्यम शुरू कराकर स्वावलंबी बनाया जाएगा। इस दौरान सभी 75 जिलों में एक जिला एक उत्पाद योजना के तहत चिन्हित उत्पादों पर आधारित डाक लिफाफों का अनावरण भी किया गया।

मिशन शक्ति को सरकार मिशन मोड में चला रही है
सीएम ने कहा कि सुरक्षा, सम्मान और स्वावलंबन एक दूसरे के साथ जुड़े हुए हैं। यदि सुरक्षा का माहौल है तो हर व्यक्ति सम्मान के साथ अपने जीवन को आगे बढ़ा सकता है। मिशन शक्ति का अभियान इसी लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए प्रदेश सरकार ने पूरे राज्य में मिशन मोड में लिया है। जिस प्रकार से 'एक जिला एक उत्पाद' योजना पूरे देश में छा रही है, उसी प्रकार से मिशन शक्ति का यह अभियान भी पूरे देश में छा जाएगा।

पहले बेटियों को स्कूल भेजने में अभिभावकों को दिक्कत होती थी
मिशन शक्ति में अलग-अलग चरण में अलग-अलग कार्यक्रम चले। पहले चरण में सुरक्षा को आधार रखा गया। पहले अराजकता का माहौल था, बेटियों को स्कूल भेजने में अभिभावकों को दिक्कत थी। इसी क्रम में एंटी रोमियो स्क्वायड का गठन हुआ। इसी क्रम में आज हर जिले में हर थाने में महिला डेस्क की स्थापना की गई, तीसरे चरण में ग्रामीण स्तर पर इसका कार्य हुआ। महिला कांस्टेबल बीट को स्थापना की गई। हमने डेढ़ लाख पुलिस भर्ती में 20 प्रतिशत बेटियों की भर्तियां की गई। 30 हजार महिला कांस्टेबल की भर्ती की गई। उन्हें महिला बीट की जिम्मेदारी दी गई। मिशन शक्ति अभियान के तहत आपको यूपी के हर शहर में महिला पिंक बूथ दिखाई देगा। हर थाने में महिला डेस्क देखने को मिलेगी


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया