आज़मगढ़ के निज़ामाबाद के गंधुवई गांव में हुए पुलिसिया उत्पीड़न के बाद आज नट बस्ती में पीड़ितों से रिहाई मंच ने मुलाकात की.

 आज़मगढ़ के निज़ामाबाद के गंधुवई गांव में हुए पुलिसिया उत्पीड़न के बाद आज नट बस्ती में पीड़ितों से रिहाई मंच ने मुलाकात की. 


रिहाई मंच प्रतिनिधि मंडल में रिहाई मंच महासचिव राजीव यादव, मसीहुद्दीन संजरी, एडवोकेट विनोद यादव, इमरान, अवधेश यादव, हीरालाल यादव शामिल थे.

महिलाओं-बच्चों को पुलिस ने बर्बर तरीके से मारा-पीटा. 18 से अधिक महिलाओं को गंभीर चोटें आईं. छोटे-छोटे बच्चे भी पुलिसिया हिंसा के शिकार बने.




पीड़ितों ने बताया कि दोषी पुलिस वालों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई. 

रिहाई मंच दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई की मांग करते हुए पीड़ितों के साथ इंसाफ की मांग करता है.

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र

ज़िला पंचायत सदस्य पद के उपचुनाव में वार्ड नंबर 16 से श्रीमती जसविंदर कौर की शानदार जीत