*💚-भारत देश मे इस्लाम धर्म है कि मुसलमान धर्म है इस पर बहस हो*

 *💚-भारत देश मे इस्लाम धर्म है कि मुसलमान धर्म है इस पर बहस हो*



*💚-भारत देश के वफादार मुस्लमाँ भाईयो को मुसलमान माना जाता है कि मुगल समझा जाता है इसका फैसला कौन करेगा*


*✍️-यह लेख बहुत ही मेहनत से लिखा गया है 20 मिनट समय निकालकर सच्चाई समझो यदि गलत लगे तो बहुजन हसरत पार्टी BHP के संस्थापक राष्ट्रीय अध्यक्ष जनाब मुहम्मद मैराज शेख को देशहित-जनहित मे भीमवादी-हसरत मोहानीवादी बनकर माफ करो यदि सही लगे तो देश के कोने-कोने तक पहुंचाओ*

🙏🙏🌹🌹👏👏✅✅🔥🔥😭

*छूआछूत और 2-50% वाले अल्पसंख्यक पंडित पुजारी के आतंक कि वजह से "बुद्ध" के समय के शूद्रो ने मानवता वादी-समानता वादी पाक मजहबे दीन ऐ ईस्लाम कबूल किया थाभारत देश के वफादार मुसलमान भाईयो को ये शम्भूख ऋषि कि हत्या करने वाले अपराधी के वंशज व मनु कि नाजायज औलादो के औलाद मुसलमान नही बल्कि "मुगल-मुगल-मुगल" समझती है अब वफादार मुसलमान भाईयो को समय निकालकर इस लेख को पढ़ो अगर सही लगे तो देश के कोने-कोने मे शेयर करो यदि गलत लगे तो देशहित-जनहित मे माफ करो*

✍️💚💙💚💙😭😭🌹🌹🌹🙏

*नोटः भारत देश मे इस्लाम धर्म कबूल करने वाले 90% मुस्लिम भाई लोग भारत के ही भूमि-पुत्र और "बुद्ध" के समय के "शूद्र-शूद्र-शूद्र" है इन 2.50% वाले नीच घटिया विदेशी पंडित पुजारी कि सत्ता और नीच मनुस्मृति को नष्ट करने के लिए इन शूद्रों ने मानवता-वादी समता-वादी "पवित्र इस्लाम धर्म" कबूल किया था "बुद्ध" के समय के ये शूद्र भविष्य में राजनैतिक तौर पर कभी एक न होने पावे और मौर्य साम्राज्य जैसा शूद्रों का राज्य स्थापित न हो सके इसीलिये SC ST OBC भाईयों को हिन्दू बनाकर शूद्र नाम के भँवर से निकालकर हिन्दू के नाम पर मुस्लिम भाईयों का डर दिखाकर ये आज 2021 के सभी धर्म के शूद्रों को गुलाम बनाने के लिए ये देश मे हिन्दू×MUSLIM नाम पर दंगा-फसाद व नफरत फैलाकर देश मे ऐसी नफ़रत कि व्यवस्था कायम कर दी है इस व्यवस्था को अमलीजामा पहनाने के लिऐ पंडित पुजारी ने इसीलिये पाकिस्तान बनाया था...तथा हिन्दू-MUSLIM नफरत के साथ-साथ ये OBC और दलित मे भी सछूत-अछूत का system बनाकर इनमे भी नफरत होवे तथा इतना ही नही दलित को दलित से भी लड़ाने का शगूफा तैयार कर दिया गया जैसे चमार विरुद्ध पासी आदि है ये शूद्र कभी हुक्मरान न बने इसलिए ये कोल्जियंम सिस्टम (29/4/1946 व 1993) तथा EVM देवता यंत्र का आविष्कार (1982) मे किया गया है अर्थात शूद्रराज रोकने के लिए पैदा किया गया?*

*-------------------------------------------*

*(1)--क्या 5000 साल पहले 2.50% वाले विदेशी पंडित पुजारी ने भारत पर आक्रमण करके मोहन जोदड़ो-हड़प्पा सिंधु घाटी सभ्यता को नष्ट करके भारत के भूमि-पुत्रों को गुलाम बनाया है ?*


*(2)-क्या भारत को गुलाम बनाने के लिए भूमि-पुत्रों को पंडित पुजारी ने 4 वेद व और 4 वर्ण (1)-ब्राम्हण २)-क्षत्रिय 3)-वैश्य 4)-शूद्र को क्रमिक- "कला और पेशा" कि व्यवस्था का निर्माण अपने फायदे के लिऐ किया था और भूमि-पुत्रों को सबसे नीचे निम्न स्थान 4 पर रखे थे जिसे शूद्र वर्ण कि उपाधि मे रखा गया था?*


*(3)--क्या पंडित पुजारी ने  अपनी सेवा करने के लिए इन शूद्रों को "सेवा और ख़िदमत" के नाम पर जबरजस्ती "कला और "पेशा" थोप दिया?*


*(4)--क्या शूद्रों के राजनैतिक गुरु ''तथागत बुद्ध'' ने घटिया वेदो कि धज्जियाँ उड़ाकर पंडित पुजारी कि सत्ता नष्ट करके शूद्रों को पुनःह हुक्मरान बनाया था ?*


*(5)--क्या आखरी मौर्य सम्राट महान बृहद्रथ मौर्य कि हत्या उनके ही पंडित पुजारी सेनापति पुष्य मित्र श्यन्गु ने धोख़े से करके महान मौर्य साम्राज्य के शासन को नष्ट किया था ?*


*(6)--क्या मौर्य साम्राज्य ख़त्म करके इन पंडित पुजारी ने "तथागत बुद्ध" के समय के शूद्रों पर मनुस्मृति लागू करके सछूत-अछूत बनाकर गैर-बराबर वाली ऊँच-नीच जाति बनाकर ज्ञानी शूद्रो को 6743 ×7= 47,201 जातियों जैसी उप-जाति में क्यों बाँटा था?*


*(7)--क्या भविष्य में ये शूद्र कभी फिर से एक होकर पंडित पुजारी कि सत्ता को नष्ट न कर सके इसलिए मनुस्मृति द्वारा इन शूद्रों को शिक्षा लेने-सम्पति रखने-शस्त्र रखने पर पाबंदी लगाई थी..?*  


*(8)--क्या पंडित पुजारी कि सत्ता तथा मनुस्मृति को नष्ट करने और पुनःह शूद्रराज  स्थापित करने के लिए इन शूद्रों ने छुआछूत से परेशान होकर मानवता-वादी व समता-वादी "पवित्र इस्लाम" धर्म को अपनाया था?*


*(9)--क्या अपनी छिनी हुई सत्ता प्राप्त करने के लिए इन पंडित पुजारी ने मुगल शासकों को अपनी बहन-बेटियाँ देकर/उनसे विवाह कराकर सत्ता-सम्पति-पद-प्रतिष्ठा पाई थी.. क्या इसी को असली लव जिहाद कहते है?*


*(10)--क्या "पवित्र इस्लाम" कबूल किये हुऐ शूद्रों को भी पुनःह गुलाम करने के लिए आखिर पंडित पुजारी ने "पवित्र इस्लाम" धर्म क्यों अपनाया था और "पवित्र इस्लाम धर्म" में भी गन्दी वर्ण व्यवस्था कायम करके इसमे भी जाति व्यवस्था का जहर फैलाकर पाक इस्लाम धर्म को मुसलमान धर्म क्यों बनाया?* 


*(11)--क्या पंडितों के कारण ही 1901 के कलकत्ता जनगणना के रिकॉर्ड में इस्लाम में 3 वर्ण/वर्ग बने है.. ((क))••अशरफ़-ऊँची जाति ((ख))••अज़लफ-OBC पसमांदा-फँसमांदा जिसका उपाय कलाकार जाति पेशेवर जाति है ((ग))--अजराल-दलित जाति को दर्शाया गया है?*


*(12)--क्या 1906 में मुस्लिम लीग मुस्लिम नाम कि आड़ में सिर्फ जमीदार अशरफ़-ऊँची जाति वाले मुस्लिमों के हित और फायदे के लिए बनाई गई थी?*


*(13)--क्या 1908-09 मे मौलाना असिम बिहारी जी ने समस्त अज़लफ-OBC पसमांदा-फँसमांदा जाति के मुस्लिम समाज जो अजराल-दलित जाति वाले मुस्लिम समाज के लिए पसमांदा-फँसमांदा नाम का आंदोलन चलाया था?*


*(14)--क्या अलीगढ़ यूनिवर्सिटी सिर्फ जमींदार जो ऊँची जाति वाले अशरफ मुस्लिमों के लिए बनाई गयी थी क्या 1947 के बँटवारे तक शूद्र-वंश के मुस्लिम भाईये को अलीगढ़ यूनिवर्सिटी में पढ़ने कि इजाजत नहीं थी?*


*(15)--क्या अंग्रेजो ने मनुस्मृति कि धज्जियाँ उड़ाकर शूद्रों को शिक्षा प्राप्त करने-सम्पति रखने तथा शस्त्र धारण करने का अधिकार दिया था.. क्या इसलिए पंडित पुजारी ने 1857 में अंग्रेजो से विफल बगावत कि थी?*


*(16)--क्या महात्मा फुले साहब जी ने जिसकी जितनी  संख्या भारी उसकी उतनी भागीदारी दि जाये ऐसी माँग 19/10/1882 में इंग्लैंड कि रानी विक्टोरिया से जातिय संख्या के अनुपात आरक्षण कि माँग इसलिए कि थी?*


*(17)--क्या पंडित पुजारी ने अपनी खुद कि आबादी 2.50% है इसे शूद्रों से छिपाने के लिए 1901 में जाति आधारित जनगणना का विरोध किया था?*


*(18)--क्या हर हिन्दू का जन्म भारत में अपनी जाति में ही होता है ऐसा कहकर 1901 में अंग्रेज के जनगणना आयुक्त ने पंडित पुजारी के जाति आधारित जनगणना के विरोध को ठुकराया था..?*


*(19)--क्या मुस्लिम  OBC भाईयों कि आबादी 90% प्रतिशत है इसे छुपाने के लिए और उनको संख्यानुरूप आरक्षण न मिले इसलिए पंडित नेहरू ने 1948 में नेशनल सेन्सस अक्ट बनाकर धर्म-निहाय जनगणना चालू कर दिया..?*


*(20)--क्या 1902 में राजर्षी शाहू जी महाराज ने अपनी कोल्हापुर रियासत में इन शूद्रों को/गैर-ब्राम्हणो को 50% आरक्षण देकर शूद्रराज का बिगुल बजाया था..?*


*(21)--क्या दलित-पिछड़े ^हिन्दू^ नहीं है इसलिए 1911 में इनकी जनगणना गैर-हिन्दू में करे ऐसा स्मरण पत्र मुस्लिम नेताओं ने 27/01/1910 को अंग्रेजो को दिया था?*


*(22)--1916 मे महाराष्ट्र के ^शाहू जी महाराज^ जी के आंदोलन कि भाँति दक्षिण भारत में भी "बुद्ध" के समय के  शूद्रों का गैर-ब्राम्हण आंदोलन चरम सीमा पर था?*


*(23)--1917-18 मे साउथ बैरो आयोग के सामने ^शाहू जी महाराज^ बाबा साहेब जी आदि ने शूद्रों के लिए हिन्दू के बजाय गैर-ब्राम्हण के नाम से आरक्षण कि माँग क्यों कि थी?*


*(24)--तेली-तंबोली कुर्मी संसद में जाकर क्या हल चलायेंगे ऐसा कहकर काँग्रेस के नेता बाल गंगाधर तिलक ने 1919 में OBC को मिले आरक्षण का विरोध किया था?*


*नोटः--भारत देश के 90% मुस्लिम भाई शूद्र है सभी SC ST OBC और खुद वफादर मुस्लिमों से भी छुपाने के लिए हिन्दू MUSLIM दंगा का गेम और नफ़रत तथा पाकिस्तान मुद्दा ये 2.50% वाले पंडित पुजारी षड्यंत्र के तहत इसलिए फैलाता है ताकि यह शूद्र भविष्य में कभी एक न हो और आजीवन हिन्दू बने रहे और वफादार मुसलमान भाईयो से धर्म-आस्था-मजहब के नाम पर आपस मे लड़ते रहे जिससे कभी शूद्रराज स्थापित न कर सके गुलाम बने रहे?*


*(25)--क्या शूद्रों को वोट का अधिकार न हो और शूद्र हमेशा के लिए को गुलाम बने रहे इसीलिऐ पंडित पुजारी कि काँग्रेस ने सिर्फ 10% शिक्षित और टैक्स देने वाले अमीर लोगो को ही वोट का अधिकार देना चाहती थी..?*


*(26)--क्या बाबासाहेब ने काँग्रेस के नीच षड्यंत्र को धूल चटाते हुए भारत के सभी प्रौढ़ नागरिकों को शूद्रराज लाने हेतु वोट के साथ चुनाव लड़ने का भी अधिकार दिया है?*


*(27)--क्या 25/12/1927 को बाबासाहेब ने हिन्दू नाम पर शूद्रों को गुलाम बनाने वाली मनुस्मृति को जलाकर SC ST OBC हिन्दू नहीं है ये सायमन कमिशन के सामने क्यों जाहिर किया था?*


*(28)--क्या SC ST OBC को राजनैतिक आरक्षण आदि मिले इसलिए बाबासाहेब ने सायमन कमिशन को सामाजिक-आर्थिक-शैक्षणिक क्षेत्र में पिछड़े लोगो कि सूची बनाकर दी थी?*


*(29)--क्या बाबासाहेब ने पिछड़े भाईयों को OBC नाम देकर 1928 स्टार्ट-कमिटी के सामने इन OBC भाईयों के लिए भी संवैधानिक आरक्षण कि माँग कि थी?*


*(30)--क्या SC ST कि तरह इन OBC को लामबंद करके बाबा-साहेब इन्हें भी आरक्षण न देवे इसीलिए काँग्रेस ने सायमन कमीशन का विरोध किया था?*


*(31)--क्या डॉ.अम्बेडकर के चक्कर में मत पड़ो वह तुम्हे अछूत बनाना चाहते है ऐसा झूठा प्रचार करके काँग्रेस और पंडित पुजारी OBC भाईयों को गुमराह किया था क्या इसीलिऐ आज तक 3743 OBC कलाकार जाति पेशेवर जाति वालो को SC ST भाईयों कि तरह राजनैतिक आरक्षण नही मिल पाया है ?*


*(32)--क्या बाबासाहेब ने 1932 में लन्दन गोलमेज परिषद में दलितो के लिए 2 वोट और स्वतंत्र निर्वाचन क्षेत्र का अधिकार दिलाया था?*


*(33)--क्या गाँधी जी ने दलितो को मिले 2 वोट और स्वतंत्र निर्वाचन क्षेत्र के अधिकार को ख़त्म करने के लिए अनशन किया?*


*(34)--क्या 24/09/1932 को मज़बूरी में बाबासाहेब ने दलित समाज कि सुरक्षा के लिए गाँधी जी के अनशन को तोड़कर पूना पैक्ट पर दस्तखत किये थे?*


*(36)--क्या पूना पैक्ट के कारण सुरक्षित सीट से जीतने  वाले SC ST साँसद-विधायक दलित समाज के हित कि रक्षा करने के बजाय रामवादी-मनुवादी पार्टी का गुलाम बनने मे दिलचस्पी दिखा रहे है?*


*(37)--क्या OBC भाई काँग्रेस के जाति कि झूठे शान के चक्कर में आकर 3743 OBC भाई खुद को नाई से ठाकुर बढ़ई से विश्वकर्मा कुम्हार से प्रजापति आदि लिखकर OBC भाई शूद्र होने कि बजाय हिंदू बनकर अपना राजनैतिक आरक्षण खो दिया है?*


*(38)--क्या बाबासाहेब ने अपने संघर्ष से OBC भाई को दे रहे संवैधानिक आरक्षण को तथा 1941 से आज 2021 तक OBC जनगणना को 3743 जाति में बाँटा गया है OBC भाई धर्म के चक्कर में फँसकर/गुमराह होकर अपने को खो बैठा?*


*(39)--क्या OBC भाई ^शाहू महाराज जी^ कि बात मानते हुए बाबासाहेब अम्बेडकर जी को अपना नेता चुनते या उनके साथ आते तो 1932 से ही OBC भाइयों को भी SC ST भाई कि तरह राजनैतिक आरक्षण आदि मिल जाता?*


*(40)--क्या बाबासाहेब ने हिन्दू धर्म में नहीं मरूँगा ऐसी घोषणा 1935 में नाशिक में आखिर क्यों कि थी?*


*(41)--क्या 1935 के कानून के तहत हिन्दू-मुस्लिम-क्रिशन-बौद्ध आदि सभी धर्मों के दलित समाज को राजनैतिक अधिकार था..आज का 341:- है?*


*(42)--क्या बाबासाहेब ने 1936 में स्वतंत्र मजदूर पार्टी बनाकर पुनःह सभी MUSLIM SC ST OBC भाईयों को शूद्रराज लाने के लिए लामबन्द किया था?*


*नोटः--क्या यही हिन्दू-मुस्लिम दंगा और नफ़रत के भौकाल कि आड़ में पंडित पुजारी लोग दलित के विरुद्ध दलित को लड़ाकर जैसे चमार जाति के प्रति अन्य पासी-धरिकार-कोल-वाल्मिकी आदि अन्य दलित जाति में नफ़रत भी फैलाते है ताकि चमार जाति के साथ अन्य दलित जातियाँ एकता का पैगाम न फैलाने पावे और न एक साथ न आने पावे और ये अन्य दलित जातियाँ सिर्फ हिन्दू नाम के धर्म कि आड़ में खाली पंडित पुजारी कि गुलाम बनकर उनके इशारे से नाचती रहे है और OBC भाईयों को जाति कि झूठी शान के नाम पर गुमराह करके राजनैतिक आरक्षण पर साँप कि तरह "फन" मारकर सत्ता कि कुर्सी पर ये काँग्रेस-BJP चिपकी रहे ऐसा षड्यंत्र रचा गया है दलित-पिछड़े वर्गो के लोग हिन्दू जाति कि झूठी शान के नाम पर मुस्लिम आदि धर्मों के खिलाफ लड़ते रहे और इन जैसे पंडित पुजारी के गुलाम बनकर रहे आजीवन ये SC ST OBC हिन्दू नाम के इशारे पर नचाते है तथा अंदरूनी दरवाजे से अंधभक्त OBC कलाकार जाति पेशेवर जाति के बल पर ही धर्म को कंधा बनाकर धर्म-आस्था-मजहब के नाम पर दहशत फैलाकर राजनीति के क्षेत्र मे 3743 OBC जाति के लोगो को नपुंसक बनाते रहेगे ये हम 2-50% वाले अल्पसंख्यक पंडित पुजारी कि घोर फितरत है?*


*(43)--क्या 1940 में ही सूदखोर/ब्याजखोर मुस्लिमों के नये पाकिस्तान के निर्माण कि माँग का पुरजोर विरोध मौलाना असिम बिहारी जी ने किया था?*


*(44)--क्या मज़बूरी में बाबा-साहेब को 1942 में सर्व समाज कि स्वतंत्र मजदूर पार्टी का नाम बदलकर सिर्फ दलितों तक सीमित हो ऐसी शेड्यूल कास्ट फेडरेशन बनानी पड़ी थी?*


*(45)--क्या 1943 में बंगाल में दलित+मुस्लिम गठजोड़ कि सत्ता बाबा-साहेब ने 1939 में बनी बंगाल में हिन्दू महासभा+मुस्लिम लीग (श्यामा प्रसाद मुखर्जी+फजरुल हक़) गठजोड़ कि सरकार को हराकर बनाई थी?*


*(46)--क्या वल्लभ भाई पटेल जी OBC होने के कारण 29/04/1946 को 15 में से 12 वोट पाने के बावजूद भी गाँधी जी ने उन्हें भारत का P.M नहीं बनने दिया?*


*(47)--क्या 15 में से सिर्फ 1-वोट पाने वाला ये पंडित नेहरू P.M बनकर हारने के बावजूद षड्यंत्र के तहत सेलेक्टेड होकर "कोल्जियंम-सिस्टम" कि शुरूवात कि थी?*


*(48)--क्या दलित-पिछड़े अल्पसंख्यक लोगो को संविधान में उचित आरक्षण संरक्षण आदि दिया जायेगा ऐसा रीजोलेशन 13/12/1946 को संविधान सभा में पास हुआ था?*


*(49)--क्या बंगाल कि भाँति बाबासाहेब पूरे देश-प्रदेशों में दलित+मुस्लिम गठजोड़ कि सत्ता न बनाने पावे इसलिए पंडित पुजारी ने पाकिस्तान  बनाकर बाद मे बंग्लादेश बनाकर दलितो को वफादार मुस्लमाँ भाईयो से दूर करके मुस्लिम भाईयो को तीन-तीन देशो मे बाँटकर टुकड़ो मे क्यों बिखेर दिया गया?*


*(50)--क्या पाकिस्तान बनाने का विरोध मौलाना असिम बिहारी खान अब्दुल गफार खान यूनिनिस पार्टी जी.एम. सैय्यद मजलिसे अहरार जमियतुल उलेमा शेख अब्दुल्ला आदि ने किया था?*


*(51)--क्या बंगाल के विभाजन के विरोध में कुल 220 वोट में से 127 दलित+मुस्लिम विधायको ने देश के बँटवारे के खिलाफ 20/06/1947 को वोट दिया था?*


*(52)--क्या 20/06/1947 को बंगाल के विभाजन के पक्ष में कुल 220 वोट में से 93 उच्च हिन्दू तथा हिन्दू महासभा+काँग्रेस+ज्योति बसु कम्युनिस्ट ने वोट किया था?*


*(53)--क्या बहुसंख्यक मुस्लिम भाईयों के विरोध के बावजूद 1947 को पाकिस्तान का निर्माण पंडित नेहरू व सूदखोर-ब्याजखोर जिन्ना दोनों ने प्रधानमंत्री बनने के लिए ऐसा घटिया काम किया था?*


*(54)--क्या सिर्फ बंगाल और पंजाब में ही आखिर भारत के विभाजन के लिए वोटिंग क्यों कि गई?..पूरे देश मे विभाजन के लिऐ वोटिंग क्यों नहीं ली गई?*


*(55)--क्या बँटवारे के पहले 1935 मे मुस्लिम भाईयों को 35% राजनैतिक आरक्षण तथा पृथक निर्वाचन क्षेत्र था जो आज 2021 मे "0" है आखिर वफादार मुसलमान भाईयों के 1935 का आरक्षण किसने खत्म किया ?*


*(56)--क्या 11 में से 9 राज्यों और देश में दलित+मुस्लिम गठजोड़ कि सरकारे बन जाती उसे छोड़कर जिन्ना ने पंडित नेहरू से मिलकर इन दोनो ने खुद को P.M बनने के लिए घटिया काम करके पाकिस्तान बनाया ?* 


*(56-A)--क्या बाबा साहेब को बंगाल से संविधान सभा में चुनकर भेजे हुए 3 जिलों को सजा देने के लिए 50% से ज्यादा दलित--हिंदू कि आबादी होने के बावजूद करार के विरुद्ध जाकर पाकिस्तान में क्यों सामिल किया गया?*


*(56-B)--क्या देश में दलित+मुस्लिम गठजोड़ का प्रभाव देशभर में न फैले उसे रोकने के लिए तथा बाबा-साहेब को संविधान सभा में चुनकर लाये हुए राजनैतिक गढ़ खुलना-जैस्सर जिले से तोड़कर इन जिले को पाकिस्तान को क्यों दे दिया गया ?*


*(56-C)--क्या बाबासाहेब ने मुस्लिम भाईयों को अवगत कराया था कि काँग्रेस ने 1947 के ग़दर(दंगल) में मुस्लिमों को सहारा-ठिकाना न देकर बल्कि दंगाईयों को ही प्रोस्ताहन देकर मुस्लिमों को इस कदर भयभीत कर दिया गया जिससे इन मुसलमान भाईयो को यह लगना चाहिए कि काँग्रेस के सिवाय हम मुस्लिमों का कोई हमदर्द और निगेहबान नहीं है?* 


*नोटः--डॉ. बाबासाहेब अम्बेडकर जी को प्रधानमंत्री बनने से रोकने के लिए तथा 1943 कि भाँति देश-प्रदेशो में दलित+MUSLIM गठजोड़ कि सरकारे न बनने पावे और SC ST OBC के संग अर्थात  MUSLIM समाज के हाँथो में यानि वफादार सर ख्वाजा नजीमुद्दीन,असिम बिहारी जी, मौलाना हसरत मोहानी जी आदि के हाँथो में अर्थात दलित मुस्लिम के हाँथो मे सत्ता वाली राजनीति कि कमान न जाने पावे इसीलिए 11 में से 9 राज्य और केंद्र में दलित+मुस्लिम गठजोड़ कि सत्ता बनाने का सुनहरा मौका छोड़कर अर्थात सबको ठोकर मारकर सूदखोर जिन्ना ने नेहरू से मिलकर पाकिस्तान बनवाया?*


*(57)--क्या कश्मीर पर पूरा कब्ज़ा करके लाहौर तक सेना घुसने तक कश्मीर मुद्दा UNO या अंतरराष्ट्रीय न्यायालय मत लेकर जाओ ऐसी सख्त ताकीद बाबासाहेब के देने के बावजूद इस नेहरू ने जान-बूझकर कश्मीर मुद्दा UNO क्यों लेकर गए थे?*


*(58)--क्या आजाद भारत में रहने वाले मुस्लिम OBC भाई और हिन्दू OBC भाई कभी SC ST भाई कि तरह राजनैतिक आरक्षण आदि कि माँग न करे तो क्या इसीलिये   हिन्दू-मुस्लिम-पाकिस्तान मुद्दे पर दंगा-नफरत का माहौल बनाने के लिए बाबासाहेब के विरोध के बावजूद षड्यंत्र के तहत पंडित नेहरु ने कश्मीर मुद्दा UNO ले गए थे?*


*(59)--क्या दलित+पिछड़े एक होंगे तो पंडित गोविन्द वल्लभ पन्त जैसे लोग तुम्हारे जूते कि लेस बांधने में ख़ुद अपने आपको भाग्य मानेगे ऐसा बाबा-साहेब ने 24-25 अप्रैल 1948 को लखनऊ में आखिर क्यों कहा था..?*


*(60)--क्या मुस्लिम SC ST OBC भाई और OBC भाई हिन्दू SC ST भाई कि तरह राजनैतिक आरक्षण आदि कि माँग न करे तो उसे गुमराह करने के लिए पंडित नेहरू के इशारे से नवम्बर 1949 में बाबरी मस्जिद में रामलल्ला कि मूर्ती रखी गई थी?*


*(61)--क्या बाबा साहेब MUSLIM भाईयों को राजनैतिक आरक्षण आदि दे रहे थे उसका विरोध नेहरू के कहने पर गद्दार मौलाना अबुल  कलाम आजाद आदि सूदखोर मुस्लिम नेताओं ने किया था?*


*(62)--क्या बाबा साहेब OBC भाईयों को SC ST भाई कि तरह राजनैतिक आरक्षण आदि देने के लिए संविधान में आर्टिकल 340 का प्रावधान किया है?*


*(63)--क्या 1953 में बाबा-साहेब ने OBC आरक्षण मिले इसलिए मंत्री पद से इस्तीफा दिया था जिसके कारण काका-कालेलकर आयोग (पहला जिन्न ) का गठन किया गया था?*


*(64)--क्या 1967 में 9 राज्यो में बनी गैर-कांग्रेसी तथा गैर-ब्राम्हणी (शूद्र) कि सरकारे भविष्य में पूरे देश में अपनी  सत्ता न बना पावे तथा OBC जनगणना न हो इसलिए 1971 इंदिरा गांधी ने पाकिस्तान में से बांग्लादेश बनाया था*


*(64-A)--क्या 1971 में भारत कि सेना लाहौर में घुसने के बावजूद इंदिरा गाँधी ने शिमला करार पर हस्ताक्षर करके अपने पिताजी के भाँति कश्मीर का मुद्दा UNO में लटका रखा ताकि हिंदू-मुस्लिम के नफरत को हवा दि जा सके?*


*(65)--क्या जागृति हुए इन शूद्रों को देश कि सत्ता लेने से रोकने के लिए जिन्ना कि भाँति हिन्दू--मुस्लिम नफरत को बढ़ावा देने के लिए 1973 में इंदिरा गाँधी जी ने राष्ट्रीय मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड बनाया था?*


*(66)--क्या जागृत हुए OBC शूद्रों को M.P M.L.A बनने से रोकने के लिये 1976 में M.P=M.L.A कि संख्या 25 साल तक न बढ़ाने वाला काला कानून लाने के लिऐ इंदिरा गांधी जी ने 1975 में आपात-काल लगाया..जिसे अटल बिहारी वाजपेयी जी ने और 25 साल और बढ़ाया जो 2026 तक लागू है?*


*(67)--क्या आपात-काल लगाकर इंदिरा गांधी जी ने बड़े तौर पे संविधान भी बदला और न्यापालिका के ऊपर भी कब्ज़ा किया था..क्या केरल के केशवानंद भारती ने तब संविधान को बचाया था?*


*(68)--क्या जागृत हुए शूद्रों के हाँथ में सत्ता न जाने पावे उसे रोकने के लिए न काँग्रेस ने अपनी B टीम BJP (पूर्व कि जन-संघ) को हिंदू××मुस्लिम मे नफरत का माहौल बनाकर देश में सत्ता का दूसरा विकल्प बनाने के लिए 1977 में अपनी C टीम जनता पार्टी की अस्थाई सरकार बनाई*


*(69)--क्या बाबासाहेब द्वारा जागृत हुए शूद्रों के दबाव के कारण जनता पार्टी को 1978 में 3743 OBC कलाकार जाति पेशेवर जाति वाले लोगो के उद्धार के लिए मंडल आयोग (दूसरा जिन्न ) का गठन करना पड़ा?*


*(69-A)--क्या मंडल आयोग लागू न हो इसलिए 1964 में बनी (VHP)विश्व हिंदू परिषद ने 1949 के 1980 मे आखिर रामजन्म भूमि-बाबरी-मस्जिद जैसा शातिर मुद्दा उठाकर हिंदू एकता यात्रा क्यों शुरू कि थी?*


*(69-B)--क्या मंडल आयोग लागू न हो इसलिए इंदिरा गांधी जी ने हिंदू××मुस्लिम के खिलाफ माहौल बनाने के लिए विश्व हिंदू परिषद द्वारा हिंदू एकता यात्रा को हरी झंडी दि थी?*


*(69-C)--क्या मंडल आयोग लागू न हो इसलिए इंदिरा गाँधी जी के आदेश से जनसंघ ने 1980 में जनता पार्टी कि सरकार गिराकर BJP नाम का उदय/अख्तियार करके हिंदू××मुस्लिम मे घोर नफरत कि राजनीति करने के लिए बाबरी मस्जिद मुद्दे पर सवार हुई?*


*(70)--क्या मंडल आयोग लागू करवाने के लिए शूद्र सड़क से संसद तक सरकार के खिलाफ आंदोलन न करे इसलिए इंदिरा गाँधी जी ने 1980 में रा.सु.का कानून लाया था आखिर "रासुका" कानून लाने का क्या कोई दूसरी वजह हो सकती है ?*


*नोटः--जब भी भविष्य MUSLIM भाई और हिन्दू  OBC भाई SC ST भाई कि तरह राजनैतिक आदि आरक्षण कि माँग करे तो उस माँग से ध्यान हटाने के लिए भारत में हिन्दू××MUSLIM दंगा करके देश में muslim समाज के प्रति OBC भाईयों के मन में नफ़रत फैलाकर मुस्लिमों का डर दिखाकर OBC भाईयों को हिन्दू नाम कि आड़ मे धर्म-आस्था-मजहब को कंधा बनाकर राम नाम कि संजीवनी बूटी पैदा करके बड़े चालाकी से वह बूटी इन 3743 OBC को पिलाकर इन लोगो का राजनैतिक आरक्षण छीनकर इन्ही 3743 OBC भाई को पक्का राम भक्त बनाकर मंदिर-मस्जिद के नाम पर षड्यंत्रकारी मुद्दा का गठन किया गया था इसलिए बाबरी मस्जिद में जबरजस्ती रामलल्ला कि मूर्ति रखी गई--तथा 13/02/1949 को मुस्लिम बौद्ध सिख क्रिशचन आदि सभी धर्म के दलितों को 1935 के भाँति हिन्दू धर्म के दलितो कि तरह आरक्षण मिले इसलिए बाबासाहेब अम्बेडकर जी ने अपनी अध्यक्षता में  राष्ट्रपति अध्यादेश में से 3 नंबर के मुद्दे को हटाने के लिये प्रस्ताव पारित किया था..परंतु जिसे 1950 के राष्ट्रपति अध्यादेश में काँग्रेस ने उसे ठुकराया दिया था ताकि मुस्लिम समाज को नपुंसक बना दिया जाय और OBC को भी हमेशा के लिए गुलाम बना दिया*


*(71)--क्या मान्यवर काँशीराम साहब ने MUSLIM SC ST OBC को DS4-के जरिये बहुजन नाम से लामबंद करके मंडल आयोग लागू करो वरना कुर्सी खाली करो ऐसा कारगर आंदोलन चलाकर 101% सफल होकर शूद्रों कि सत्ता बनाने वाले थे जिसे रोकने के लिए इंदिरा गाँधी जी ने 1982 में EVM देवता यंत्र को भारत में बुलाया?*


*(72)--क्या मान्यवर काँशीराम साहब के BSP वाली भीमवादी राजनैतिक क्रांति को रोकने के लिए देश में धार्मिक तनाव पैदा करवाने के लिए इंदिरा गाँधी जी ने 1984 में "ऑपरेशन ब्ल्यू स्टार" करवाने के लिए VHP कि अगुवाई मे हिन्दू एकता यात्रा को हरी झंडी क्यों दि थी?*


*(73)--क्या काँग्रेस व गाँधी  परिवार ने 1984 हिंदुस्तान × खालिस्तान का नारा देकर 1986 मेरठ दंगा,1989 भागलपुर दंगा आदि करवाकर देश में हिंदू ×सिख, हिंदू × मुस्लिम सांप्रदायिक माहौल पैदा करके..तथा देश में सिख MUSLIM के कत्ले-आम का सिलसिला शुरू किया था ?*


*(74)--क्या मान्यवर काँशीराम साहब G भविष्य में हम पंडित पुजारी कि पार्टी काँग्रेस-BJP के साँसद /विधायक तोड़कर BSP कि सत्ता न बना सके इसलिए 1985 राजीव गांधीजी ने 414 साँसद होने के बावजूद दल-बदल कानून बनाया था?*


*(75)--क्या मंडल आयोग लागू न हो इसलिए राजीव गाँधी ने हिंदू×मुस्लिम मे नफरत का माहौल बनाने के लिए बाबरी मंदिर का ताला खुलवाकर...मस्जिद परिसर में शिलान्यास करवाया था और सँसद में वगैर पानी पिये 4 घंटा बहस करके मंडल आयोग का घोर विरोध किया था?*


*(76)--क्या 1989 का आम चुनाव बोफोर्स काण्ड कि बजाय मेरठ दंगे और भागलपुर  दंगे पर होता तो क्या "दलित-मुस्लिम" भाई इस काँग्रेस को जिस तरह U.P-बिहार से मिटा दिये थे उसी भाँति काँग्रेस और उसकी B टीम BJP को पूरे देश से उखाड़ फेंकते ?*


*(77)--क्या अपनी सरकार काँग्रेस द्वारा गिराए जाने के बाद मा.V.P सिंह साहब के समझ में आया कि मेरी आड़ में BSP को रोकने के लिए काँग्रेस ने मेरठ दंगा,भागलपुर दंगा,बाबरी मस्जिद मुद्दे को दबाकर हिंदू-मूस्लिम नाम पर BJP को देश में फ़ैलाने के बोफोर्स काण्ड को आगे करके खूब हवा दि?*


*(78)--क्या मंडल आयोग लागू होने से जो OBC भाई शूद्र रूप में आये थे उन्हें पुनःह हिन्दू बनाने और उनके आरक्षण को नष्ट करने के लिए BJP ने रथ-यात्रा निकाली थी और बाबरी मस्जिद का खून इसी काँग्रेस ने अपनी पैदा कि हुई B टीम BJP द्वारा करवाया था?*


*(79)--क्या 16/11/1992 में सुप्रीम कोर्ट ने मंडल आयोग के केस में क्रिमी-लेयर शब्द  जोड़कर OBC के आरक्षण में जहर का एक बून्द डाला था*


*(80)--क्या समाजवादी नेता मधु-लिमये द्वारा क्रिमी-लेयर का जहरीला मुद्दा लाया गया था इसलिए मुलायम सिंह यादव लालू प्रसाद यादव आदि OBC नेताओं ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश के खिलाफ क्रिमी-लेयर पर REVIEW पेटिशन नहीं डाली?*


*(81)--क्या क्रिमी-लेयर के आदेश के खिलाफ OBC नेताओं ने सुप्रीम कोर्ट में REVIEW-(रिव्यु) पेटिशन डाली होती तो शूद्रराज आ गया होता और OBC जनगणना 2001 में ही पूरी होती बहुजन हसरत पार्टी BHP देश के OBC नेताओ से देशहित-जनहित मे सवाल करती है ?*


*(82)--क्या क्रीमी-लेयर से 3743 OBC ध्यान हटाने के लिए काँग्रेस के RSS वाले प्रधानमंत्री P.V नरसिम्हा राव कि सरकार ने BJP को अंदरूनी/खुला सपोर्ट देकर 6/12/1992 को बाबरी मस्जिद का खून किया?*


*(83)--क्या बाबा साहेब के महा-परिनिर्वाण दिन 6 दिसंबर को बाबरी मस्जिद का खून इसलिए किया गया था ताकि OBC के साथ दलित को भी हिन्दू बनाकर मुस्लिम भाईयों प्रति नफ़रत फैलाकर मुस्लिम भाईयों का कत्ले-आम करके मंडल आयोग साथ क्रिमी-लेयर भी दफनाया जा सके?*


*(84)--क्या 1993 में BSP+SP=शूद्रों कि सरकार बनी थी भविष्य में देश-प्रदेशों में BSP ऐसी सरकारे न बना सके इसलिए काँग्रेस के RSS वाले P.M-P.V नरसिम्हा राव सरकार ने EVM से चुनाव कराने का कानून बनाया*?


*नोटः MUSLIM SC ST OBC शूद्रों को BAMCEF-DS4-BSP के माध्यम से बहुजन नाम से लामबन्द करके बहुजन समाज को शासक बनाने के लिए कालेलकर आयोग जिन्न और मंडल आयोग जिन्न को पूरे भारत में  घुमाकर मा० काँशीराम साहब  ने मंडल आयोग लागू करो वरना कुर्सी खाली करो यह देशव्यापी आंदोलन को चलाने वाले तीसरे जिन्न यानि बाबासाहेब का ऐकला आदर्शवादी चेला मान्यवर काँशीराम साहब जी के बहुजन आंदोलन BSP को रोकने के लिए तथा इस शूद्र के गठजोड़ को तोड़ने के लिए काँग्रेस/इंदिरा गाँधी जी ने हिन्दू××सिख लड़ाई के बीज बोकर "ऑपरेशन ब्ल्यू" करवाकर देश में साम्प्रदायिक नफरत फैलाकर हजारों सिख भाई का कत्ले-आम करवाकर, राजीव गाँधी द्वारा मुस्लिमों के खिलाफ मेरठ दंगा/भागलपुर दंगा काँग्रेस के RSS वाले P.V नरसिम्हा राव कि सरकार ने अपनी B टीम BJP के कंधे पर बाबरी मस्जिद का खून करवाकर हजारों मुस्लिम भाई का कत्ले-आम करवाकर तथा EVM से चुनाव कराने का कानून बनवाया और शूद्रों को सत्ता से रोका गया?*



*(85)--क्या 1993 में BSP+SP सरकार में MUSLIM समाज को OBC जाति प्रमाण पत्र दे रही BSP के ओर MUSLIM के बढ़ते प्रभाव/झुकाव को रोकने के लिए पंडित पुजारी ने मुलायम सिंह को मुल्ला-मुलायम कि उपाधि दि थी?*


*(86)--क्या मान्यवर काँशीराम जी के साथ मुलायम सिंह यादव गद्दारी न करते तो मान्यवर काँशीराम साहब जी देश के पहले भीमवादी दलित बब्बर शेर के रूप मे P.M होते और 1996 में ही शूद्रराज आ गया होता?*


*(87)--क्या मुलायम सिंह यादव काँग्रेस+BJP का प्यादा है इसीलिए क्या तभी 2003 में "दल-बदल" कानून का उल्लंघन करके BSP के विधायक तोड़कर SP कि असंवैधानिक सरकार काँग्रेस  कि B टीम BJP ने बनाई और काँग्रेस ने उसे बरकार रखी?*


*(88)--क्या भीमवादी दलित शेरनी बहन मायावती जी को प्रधानमंत्री बनने से रोकने के लिए परमाणु डील मुद्दे पर काँग्रेस कि अल्पमत वाली सरकार को मुलायम सिंह यादव और BJP ने 2008 गिरने से क्यों बचाया था?*


*(89)--क्या 2003 में 14% वोट के बाद 2008 में दिल्ली राज्य में BSP सरकार बनाने जा रही उसे रोकने के लिए काँग्रेस+BJP ने EVM में घोटाला करके अपनी ही E टीम आम आदमी पार्टी कि सरकार बनाई?*


*(90)--क्या 2009 मे देश में EVM के बजाय बैलेट पेपर से चुनाव होते तो बहुमत कि सरकार बनाकर भीमवादी दलित शेरनी बहन मायावती जी देश कि P.M बनकर देश में भीमवादी-हसरत मोहानीवादी सरकार बनाकर शूद्रराज का बिगुल बजा देती अर्थात शूद्रराज लाती?*


*(91)--क्या 2009 में EVM में गड़बड़ी होने का आवाज उठाने वाले लालकृष्ण आडवाणी आदि BJP नेता 2010 में EVM कि गड़बड़ी का सबूत देने वाले महान इंजिनियर श्री.हरी प्रसाद जी का साथ दिये होते तो काँग्रेस का यह EVM देवता यंत्र 2010 में ही समाप्त हो जाता?*


*(92)--क्या 2009 में EVM पर बवाल मचाने वाली BJP को अगले 10 साल (2014 व 2019 में) सत्ता दि जायेगी ऐसा काँग्रेस के साथ BJP कि डील हुईं है इसलिए BJP और  काँग्रेस EVM के खिलाफ आंदोलन नहीं करते है?*


*(93)--क्या BSP को सत्ता से रोकने और देश से संविधान को हटाने व OBC जनगणना रुकाने व शूद्रों कि नागरिकता ख़त्म करने के लिए काँग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट के 08/10/201 के आदेश कि धज्जियाँ उड़ाकर अपनी B टीम BJP को 2014 के चुनाव में बिना VVPAT लगाकर EVM से चुनाव जितवाया है?*


*(94)--क्या देश कि पहले नंबर कि पार्टी भीमवादी पार्टी BSP को देश से ख़त्म करने के लिए केंद्र कि काँग्रेस सरकार ने 2012 मे SP कि 2017 मे BJP कि बहुमत कि सरकार इस EVM में गड़बड़ी करके बनाई है?*


*(95)--क्या BSP कि सरकार UP के अलावाँ दिल्ली मे 14% वोट हरियाणा मे 15% वोट तथा राजस्थान उत्तराखंड पंजाब मध्यप्रदेश छत्तीसगढ़ बिहार महाराष्ट्र आदि राज्यों मे बनने जा रही थी उसे रोकने के लिए 2016 में नोटबंदी लाई गई थी 1967 का वह दूसरा रूप-नजारा 2000 से 2011-12 मे आराम से देखने को मिल गया होता ?*


*नोट:::---2016 में नोटबंदी नहीं होती तो देश मे केंद्र कि सत्ता के साथ-साथ उत्तर प्रदेश U.P कि भाँति दिल्ली हरियाणा राजस्थान उत्तराखंड पंजाब मध्यप्रदेश छत्तीसगढ़ बिहार महाराष्ट्र कर्नाटका आंध्र तेलंगाना आदि राज्यो में बड़े पैमाने के तौर पर फैली BSP देश मे तथा इन सभी राज्यों से काँग्रेस+BJP कि सत्ता उखाड़ फेंककर देश में और इन राज्यो में BSP यानि शूद्रों कि सरकारे बना लेती और 2004 से काँग्रेस+BJP जो EVM द्वारा घोटाला करके सत्ता बनाने का खेल खेलती चली आ रही थी वह EVM का खेल उसी समय BSP ख़त्म कर देती यह बात बहुजन हसरत पार्टी BHP बड़े फक्र से कह रही है---तथा भारत देश में वंचित हजारों कलाकार जाति पेशेवर जाति वाले लोगो को "कला और पेशा" में बाँटा गया था तो इन्ही ::बुद्ध:: के समय के शूद्रों को बहुजन नाम से पुनःह लामबन्द करने का काम BSP ने किया था जिस तरह मुस्लिम भाईयों ने "U.P-बिहार से काँग्रेस+BJP को उखाड़ फेंका था ठीक वैसा पूरे देश से उखाड़कर फेंक दिया होता तथा मौर्य साम्राज्य कि भाँति BSP-को केन्द्र मे सत्ता बनाने का मौका मिल गया होता और सम्राट अशोक के भारत देश का उदय हो गया होता तभी तो इसीलिये मान्यवर काँशीराम साहब-बहन मायावती जी को देश में भीमवादी-हसरत मोहानीवादी सरकार बनाने से रोकने के लिए गेम खेला गया था एक बात बड़ी दिलचस्प है पूरे देश के वफादार मुसलमान भाईयो का झुकाव काँशीराम साहब कि तरफ इतना बढ़ गया था कि पूंछो मत?? इस भीमवादी-हसरत मोहानीवादी बब्बर शेर काँशीराम साहब को मुसलमान अपना मसीहा न माने इसीलिये पंडित पुजारी ने बड़ी चालाकी से मुलायम सिंह को "मुल्ला-मुलायम" उपाधि दे दी थी?*


*((क))--7 से 8 पर्सेंट यादव भाई U.P मे है यह अहीर जाति बहुत ही नसीबदार है इसलिए मुस्लिम वोट कि ताकत पर अनेको बार U.P का C.M बन जाता है इसलिए यादव भाई महान है*


*((ख))--21% के इर्द-गिर्द U.P मे वफादार मुसलमान भाई सबसे बड़ा बदनसीब है वह U.P मे सपा-आदि का गुलाम व रखैल बनते चले आ रहा है उसे डिप्टी C.M भी नही बनाया जाता है 9819316944* 


*((ग))--जब कि U.P मे करीब 24% के इर्द-गिर्द दलित भाई है वह बाबासाहेब कि वजह से जागकर सत्ता मे बराबरी भागीदारी ले रहे है*


*((घ))--बहुजन हसरत पार्टी BHP कि बात पर भीमवादी-हसरत मोहानीवादी बनकर तर्क करो*


*(96)--क्या 11-3-2017 बहन मायावती जी ने EVM देवता के खिलाफ जंग का ऐलान किया था यदि अन्य पार्टियाँ उनका साथ देती तो क्या 2017 में ही इस काँग्रेसी EVM देवता का राम नाम सत्य  हो गया होता?*


*(97)--क्या 11-3-2017 को बहन मायावती जी ने काँग्रेसी EVM देवता यंत्र के खिलाफ जंग का ऐलान करने से चुनाव आयोग ने डरकर आनन-फानन में EVM मशीन को बिना हाँथ लगाये हैक-करने का कुछ पार्टियो को आखिर आमंत्रण क्यों दिया था?*


*(98)--क्या आज का कोल्जियंम सिस्टम ही मनुस्मृति का शासन कहा जा सकता है जिसमे सिर्फ एक ही समुदाय के परिवार को न्यायाधीश होने का अधिकार प्राप्त होता है?*


*(99)--क्या कोल्जियंम सिस्टम मतलब ELECT नहीं SELECT होना है कोलजियम सिस्टम व काँग्रेसी EVM देवता यंत्र ही देश का असली भाग्य-विधाता है ?*


*(100)--क्या कोल्जियंम सिस्टम के जनक पंडित जवाहर लाल नेहरू ही है जो 29/04/1946 को इलेक्टेड व सिलेक्टेड का सिस्टम बना था वही आज का कोलजियम सिस्टम है तभी तो 15 में सिर्फ 1 वोट पाकर पंडित नेहरू जी कैसे P.M बन गये जब कि 15 वोट मे 12 वोट पाकर नादान ना-समझ बेवकूफ OBC नेता सरदार पटेल P.M नही बन सके क्योंकि जिस तरह अब 2021 मे जनता द्वारा M.P=M.L.A का इलेक्शन होता है ठीक वैसा 29/4/1946 को चुनाव हुआ होता तो बाबा-साहेब P.M होते देश तस्वीर आज कुछ अलग होती*


*(101)--क्या बाबासाहेब का अन्य दूसरा नाम संविधान-न्याय-कानून व अदालत है?*


*(102)--क्या न्यापालिका के इस कोल्जियंम सिस्टम को 1993 में काँगेस के RSS वाले प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव ने लागू किया था..जिसने बाबरी मस्जिद का भी खून किया था?*


*(103)--क्या कोल्जियंम सिस्टम व काँग्रेस के EVM देवता ने बाबासाहेब को हैक करके तमाम सरकारी SYSTEM को बेड़ियों में बाँधकर रखा है या कैद करके अपाहिज कर दिया है?*


*(104)--क्या भारत के 135-40 करोड़ जनता इस काँग्रेस के EVM देवता को ईंट-पत्थर से कुचलना चाहती है तथा इस काँग्रेसी EVM देवता यंत्र का अंत-खात्मा-इस कोल्जियंम सिस्टम के होते हुए क्या संभव है?*


*(105)--क्या कोल्जियंम सिस्टम ही काँग्रेस के EVM देवता का रक्षक और बॉडीगार्ड या कवच है ?*


*(106)--क्या सिर्फ और सिर्फ भीमवादी बब्बर शेर दलित P.M या भीमवादी दलित शेरनी बहन मायावती जी ही यह नीच असंवैधानिक कोल्जियंम सिस्टम व काँग्रेसी EVM देवता यंत्र वाले पापी सिस्टम को ख़त्म करके बाबा साहेब के संविधान को आजाद करेगी?*


*नोटः 2009 का चुनाव बैलेट-पेपर से होता तो 2008 मे ही परमाणु डील मुद्दे पर ही P.M बनने से चूकने वाली बहन मायावती जी 2009 में देश कि पहली भीमवादी दलित शेरनी प्रधानमंत्री होती..और भारत में वंचित हजारों जाति में बाँटे गए "बुद्ध" के समय के शूद्रों को जिन्हे कलाकार जाति पेशेवर जाति कहा गया है इन्ही को ही बहुजन और कामगार-मजदूर-श्रमिक भी कहते है इनको SC ST भाईयो कि तरह "सेवा और खिदमत" के नाम पर राजनैतिक आरक्षण दे दी होती:::::काँग्रेस कि इंदिरा गांधी ने जो 1982 में EVM लाया और 1994 में काँग्रेस के RSS वाले P.M/ प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव ने EVM से चुनाव कराने का कानून बनाया जब कि 95% लोग आज इस EVM के खिलाफ आंदोलन करने पर उतारू है मगर 95% लोग उस नेता को ढूँढ रहे है जो खुलकर रोड पर धरना-प्रदर्शन करने के लिए आगे आवे एक बात और पूर्व मे इसी काँग्रेस के नेहरू ने 29/4/1946 और 1993 में काँग्रेस के RSS वाले प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव द्वारा चालू किए कोर्ट कोल्जियंम सिस्टम से EVM को बार-बार बचाया जा रहा है ये कोल्जियम सिस्टम ही EVM देवता का रक्षक और संविधान तथा बाबासाहेब जी का भक्षक बन बैठा है..अब हमें इस कोल्जियंम SYSYEM और EVM देवता यंत्र के कैद से बाबासाहेब और संविधान और कानून-अदालत को किसी भी ढंग से किसी भी हद को पार करके आजाद करना ही होगा?*


*(107)--क्या संविधान में अपने देश का नाम हिंदुस्तान है कि इंडिया That इस भारत है?..और क्या हिंदुस्तान का मतलब हिंदू-राष्ट्र है तो यदि जो नेतागण जैसे राहुल गाँधी -ओवैशी महराज प्रभु आदि लोग है जो हिन्दुस्तान-हिन्दुस्तान बोलकर संविधान अर्थात कानून का उल्लंघन करते है तो ऐसे नेताओ के ऊपर राष्ट्रद्रोह का मुकदमा दर्ज होना चाहिए?*


*(108)--क्या राजीव गाँधी ने हिंदुस्तान-खालिस्तान का नारा भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने के लिए दिया था और इसी काँग्रेस का असली मिशन यही है कि इस महान सम्राट अशोक के भारत देश को कैसे हिंदू-राष्ट्र बनाया जाय RSS-BJP आदि कि जननी यह काँग्रेस पार्टी आज भी इसकी तरकीब ढूँढ रही है:---*?


*(109)--क्या MUSLIM SC ST OBC शूद्र कलाकार जाति पेशेवर जाति को पुनःह गुलाम बनाने के लिए तथा अन्य देश को भारत/INDIA बोलने के बजाय षड्यंत्र के तहत हिंदुस्तान बोलकर और SC ST OBC को धर्म कि आड़ में शूद्र कि बजाय हिंदू बोला जाता है क्या इसी फितरत से 2-50% वाला अल्पसंख्यक पंडित पुजारी सत्ता का शहंशाह बना हुआ है ?*


*(110)--क्या काँग्रेस+BJP आदि रामवादी-मनुवादी पार्टियाँ पूर्व में मनुस्मृती कि भाँति SC ST OBC को शिक्षा धन-सम्पति शस्त्र धारण करना आदि अधिकारों से वंचित कराने के लिए भारत को हिंदुस्तान बोलती है?*


*(111)--क्या काँग्रेस+BJP आदि रामवादी-मनुवादी पार्टियों द्वारा पुनःह SC ST OBC/शूद्रों को गुलाम बनाने के लिए मुस्लिम भाई के प्रति नफरत फैलाकर मुस्लिम भाईयों के कत्ले-आम करके हिंदू-राष्ट्र बनाने के नाम पर ब्राम्हण राष्ट्र बनाने का षड़यत्र तो नही किया खेला गया है इसलिए भारत देश को भारत बोलने के बजाय हिन्दुस्तान-हिन्दुस्तान बोलकर कुछ नया प्लान तो नही खेला जा रहा है?*


*नोटः--आज के भारत देश के पहले के प्राचीन नाम:-- "गोंडवाना-भूमि" का छोटा देश द्रविड़-भारत तथा समय-समय पर भारत को आर्यव्रत वैदिक-भारत जम्बूद्वीप बौद्ध-भारत, बलिस्तान (बळीस्थान) मुगल भारत ब्रिटिश भारत अब "भीमयुग"- संवैधानिक युग में भारत यानि इंडिया कहा जाता है...परंतु षड़यंत्र के तहत ही भारत को हिंदू-राष्ट्र-अर्थात राष्ट्र/मनुस्मृति कालीन ब्राम्हण भारत/वैदिक भारत बनाने के लिए काँग्रेस-राहुल गाँधी तथा उसकी B टीम भारतीय जनता पार्टी (BJP) जिसके नाम में भारतीय शब्द है भारतीय शब्द होकर भी BJP हिदुस्तान बोलती है पूर्व में भारतीय जन संघ थी ठीक वैसे ही BJP कि B टीम सूदखोर-ब्याजखोर गद्दार जिन्ना और अबुल कलाम आजाद के वंशज बैरिस्टर औवैसी महाराज प्रभु कि AIMIM नाम में INDIA होने के बावजूद लिखा है भारत/INDIA को हिंदुस्तान ही बोलते है (सुद्दखोर गद्दार जिन्ना और अबुल कलाम आजाद के वंशज के माफिक) अपनी पार्टी में ALL INDIA नाम रखकर भी भारत को हिंदुस्तान बोलते है भारत पर पुनःह आधुनिक तरीके से मनुस्मृति का राज लाने के लिए ये लोग भारत को ही हिंदुस्तान बोलकर काँग्रेस भारत को हिन्दूराष्ट्र बनाना चाहती है?*


*(112)--क्या MUSLIM SC ST OBC शूद्र भाइयों को कलाकार जाति पेशेवर जाति जैसा महान नया नाम बहुजन हसरत पार्टी के संस्थापक जनाब मोहम्मद मैराज शेख जी ने 3-3 संस्था के माध्यम से अदालत में 7-7 P.I.L में करके दिया है?*


*(113)--क्या कलाकार जाति पेशेवर जाति वाले लोगो को SC ST भाईयों कि तरह "सेवा और ख़िदमत" के नाम पर  राजनैतिक आरक्षण मिलने के लिए BHP के संस्थापक जनाब मोहम्मद मैराज शेख जी ने अदालत में लड़ाई लड़ी है?*


*(114)--क्या कलाकार जाति पेशेवर जाति वाले लोगो के उद्धार और भलाई और तरक्की और विकास और खुशहाली के लिए BHP के संस्थापक जनाब मोहम्मद मैराज शेख जी बहुजन समाज पार्टी के जन्मदाता मान्यवर काँशीराम साहब के जन्मदिन 15/03/2017 को बहुजन हसरत पार्टी BHP कि स्थापना कि है?*


*नोटः--🌹इन्ही शूद्रों को..शूद्र-अतिशूद्र..MUSLIM SC ST OBC अन्य अल्प-संख्यक..इन्ही को बहुजन.. इन्ही को श्रमिक-कामगार-मजदूर भी कहते है? जो आज के कलाकार जाति पेशेवर जाति है..*


 *नोटः---🌹नीचे कुछ system को देशहित-जनहित मे भीमवादी बनकर समझिऐ जिससे आप सभी कि दया और दुआ और आशीर्वाद से मालूम हो जावे कि आखिर कलाकार जाति पेशेवर जाति नाम क्यों देना पड़ा क्या है भीमवादी-हसरत मोहानीवादी बनकर तर्क लगाकर समझिऐ*


*1-💙-"'राष्ट्रपिता"' ज्योतिबा फुले साहब---ने "शूद्र-अतिशूद्र" नाम दिया*

*2-💙-आरक्षण के जनक "छत्रपति शाहूजी महाराज" ने "ब्राम्हण"--"गैर ब्राम्हण" नाम दिया*

*3-💙-"बाबासाहेब" ने SC ST OBC MINORITIES नाम दिया*

*4-💙-विश्व ज्ञानी बाबा साहेब के ऐकला आदर्शवादी चेला मान्यवर काँशीराम साहब ने उन्ही को बहुजन समाज-शोषित समाज नाम दिया*

*5-💙💚--बहुजन हसरत पार्टी BHP के संस्थापक राष्ट्रीय अध्यक्ष जनाब मुहम्मद मैराज शेख ने इन्ही को "'कलाकार जाति पेशेवर जाति"' जैसा महान नया नाम अदालत मे 7/7 P.I.L और SLP (C) दाखिल करके दिया*


*✍️...शूद्रो अब अपनी अक्ल लगाओ*

*✍️...संगठित होकर एक हो जाओ*

*✍️...दलित मुस्लिम फिर होश मे आओ*  

*✍️...अब अपनी सत्ता खुद बनाओ*

*✍️...पंडित पुजारी का आतंक मिटाओ*

*✍️...भीमवादी दलित को P.M बनाओ*

*✍️...OBC जनगणना भीमवादी दलित P.M से कराओ*

*✍️...भीमवादी दलित P.M के द्वारा मुस्लिम भाई फिर वापस नवाब बन जाओ*

*✍️...कलाकार जाति पेशेवर जाति हिन्दू=मुस्लिम दोनों समुदाय में पायी जाती है*

*✍️...ये कलाकार जाति पेशेवर जाति 96% OBC कहलाती है*

*✍️...मुस्लिम भाई "कुराने हाफिज" के साथ-साथ संविधान का भी हाफिज बनो*

*✍️...वफादार मुसलमान भाईयों हिकमत के तौर पर "बुद्ध" को अपना राजनैतिक गुरु मानो*

*✍️...नवाब बनने के लिऐ नवाबी मुद्दे पर भीमवादी दलित को P.M बनाना होगा*

*✍️...मुस्लिम भाईयों वापस नवाब बनो उसके लिए नवाबी छीनना होगा*

*--------------------------------------------*

*✅🌹...नवाब का मतलब आज का M.P M.L.A C.M व डिप्टी P.M होता है*

*--------------------------------------------*

*🙏बहुजन हसरत पार्टी के संस्थापक राष्ट्रीय अध्यक्ष जनाब मुहम्मद मैराज शेख साहब का मुस्लिम होने के चलते कभी भी काम तमाम हो सकता है...? हो सकता कि बहुजन हसरत पार्टी का रजिस्ट्रेशन रद्द भी करवाया जा सकता है*


*🙏काँग्रेसी EVM देवता यंत्र व कोलजियम सिस्टम ही देश का असली विधाता है पता नही कोलजियम व EVM देवता यंत्र कि मौज-मस्ती कौन खत्म करेगा इन दोनो हथियार का इलाज-हल-उपाय देशहित-जनहित मे ईंट-पत्थर के अलावाँ कुछ नही है बहुजन हसरत पार्टी BHP कि बात को भीमवादी-हसरत मोहानीवादी बनकर समझना होगा और इसका अंत करना होगा 9819316944*


*✍️लिखना अभी बहुत बाकी है सदियाँ गुजर जायेगी परन्तु काँग्रेस पार्टी का षड़यत्र कोई  भी जल्दी लिख नही सकता जो लिखेगा उसे मौत को गले लगाना होगा*


*जय भीम जय हसरत मोहानी*


*बहुजन हसरत पार्टी जिन्दाबाद-जिन्दाबाद*


*कलाकार जातियाँ जिन्दाबाद-जिन्दाबाद*


*पेशेवर जातियाँ जिन्दाबाद-जिन्दाबाद*


*5-5-2021-9819316944*

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया