बहेड़ी में पत्रकारों ने मनाया काला दिवस

 माहेश्वरी की रिपोर्ट

बरेली। बरेली के तहसील बहेड़ी में रविवार को महिला पत्रकार पर सीओ द्वारा लिखाए फर्जी मुकदमा के विरोध में काला दिवस मनाया। सभी पत्रकारों ने एक सुर में कहा की हम पब्लिक की आवाज हैं। जब पब्लिक को कहीं न्याय नहीं मिलता है तो वह उम्मीद से हमारे पा आती है। हम शासन-प्रशासन की बात जनता और जनता की बात शासन-प्रशासन तक पहुंचाने में सेतु की भूमिका निभाते हैं। सूबे के मुखिया सीएम योगी आदित्यनाथ भी कहते हैं की ईमानदारी से काम करने वालों को किसी से डरने की जरूरत नहीं है।


फिर सीओ बहेडी में पत्रकारों पर फर्जी मुकदमा लिखाकर खुद को सपाई होने की मानसिकता पेश कर रहे हैं। पत्रकारों ने रविवार को सीओ का विरोध करते हुए अपने हाथों में काली पट्टी बांधी और कहा फर्जी मुकदमा समाप्त होने तक लडाई जारी रहेगी। पत्रकार अनीता अकेली नहीं है। इधर बरिष्ठ पत्रकार एवं लेखक व यूनियन के अध्यक्ष रविन्द्र सिंह सूर्यवंशी का कहना है अगर फर्जी मुकदमा खत्म नहीं होता तो इस लडाई में जीत तो हमारी ही होगी वो ऐसे रिश्वत लेने का अधिकार किसी को नहीं है हमारे पास रिश्वत के सबूत हैं और रिश्वत कांड में कई बड़े चेहरे हवा के झरोके के साथ उड़ जाएंगे। इस अवसर पर पत्रकार राजेश, विवेक सिंह, विशाल खान, मोहम्मद वसीम, मनोज, हेमंत, शाहिद अंसारी, फजल उर रहमान, एजाज अहमद, आर.के सवसेना आदि मौजूद रहे

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश