पांच लाख रुपए की मांग पूरी न होने पर वैशाली को निकला घर से, मीरगंज पुलिस ने किया मुकदमा दर्ज कप्तान के आदेश पर।

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए बरेली से नाजिश अली की रिपोर्ट,

बरेली, उत्तराखंड के काशीपुर निवासी वैशाली पाल का विवाह 23 जनवरी 2015 को हिंदू रीति रिवाज के साथ जनपद बरेली की तहसील व थाना मीरगंज के गांव चुरई दलपतपुर निवासी लालता प्रसाद पुत्र चंद्रसेन पाल के साथ हुआ था। शादी के बाद दो पुत्रियां पहलपल 5 वर्ष व प्रिशा पाल 17 माह हुई। वैशाली ने बताया कि मेरी शादी में अपनी सामर्थ्य दान दहेज देकर की थी। दो पुत्रियां पैदा होने के कारण मेरे ससुरालीजन जिसमें पति लालता प्रसाद, ससुर चंद्रसेन पाल, सर श्रीमती ओमवती देवी, जेठानी श्रीमती नीतू स्वरूप पत्नी लक्ष्मण स्वरूप, जेठानी राधा रानी पत्नी महेंद्र पाल, देवर संतोष कुमार, लक्ष्मण पाल, आए दिन कम दहेज का तना देकर मेरे साथ मारपीट व गाली गलौज व जान से मारने की धमकी देते और कहते कि अपने पिता से दहेज के रूप में 5 लाख  लाओ तभी रखूंगा। मैंने कहा कि मेरे पिता के पास अतिरिक्त दहेज देने की सामर्थ्य नहीं है। तब मुझे पहने कपड़ों में 19 अक्टूबर 2023 को उपरोक्त सभी लोगों ने मुझे मारा पीट, गाली गलौज करते हुए घर से निकाल दिया।


और मेरा स्त्री धन तथा पैसे दो लाख, एटीएम, पैन कार्ड, बैंक पासबुक, राशन कार्ड, वोटर आईडी, आदि सामान अपने पास रख लिया। और मेरे पति ने मेरी दोनों पुत्रियों को अपने पास रोक लिया है। और मेरे पति मुझसे तलाक मांग रहे हैं। फोन पर मेरी पुत्रीयों से बात भी नहीं करते हैं। इस संबंध में मैंने कोतवाली मीरगंज जनपद बरेली में 24 नवंबर 2023 को धारा 498 ए, 323, 504, 506 उपरोक्त धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया था। उसके बाद से ही मेरे पति द्वारा मुझ पर लगातार मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाने के लिए तरह-तरह की धमकियां दी जा रही है। तमाम प्रयासों के बाद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बरेली के आदेश पर थाना मीरगंज पुलिस द्वारा मुकदमा दर्ज किया गया है। परंतु मुकदमा वापस न लेने पर गंभीर परिणाम भुगतने की लगातार धमकियां मिल रही है। परंतु पीड़िता वैशाली का कहना है, कि अब केवल मुझे मीरगंज पुलिस से ही न्याय की आशा है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश