मतदाता जागरूकता अभियान के माध्यमिक विद्यालयों के नोडल अधिकारी बने इंतजार ख़ान

 बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए पीलीभीत से शाहिद खान की रिपोर्ट*

जनपद के माध्यमिक एवं महाविद्यालयों में स्वीप से संबंधित विषय पर समस्त गतिविधियों के सुचारू रूप से संचालित करने हेतु जिला विद्यालय निरीक्षक गिरजेश कुमार चौधरी ने जनपद स्तर पर जागरूकता अभियान के अंतर्गत एवं विगत


विधानसभा सामान्य निर्वाचन 2022 में मतदाता जागरूकता अभियान में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले एस एन इंटर कॉलेज के शिक्षक इन्तजार खान को माध्यमिक विद्यालयों का स्वीप नोडल अधिकारी नामित किया है। अवगत है कि विगत विधानसभा चुनाव 2022 के अंतर्गत जनपद स्तर पर तत्कालीन डीएम पुलकित खरे ने स्वीप से संबंधित विषय पर एवं मतदाताओं को जागरूक करने के उद्देश्य से विद्यालयों में स्वीप कार्यक्रम आयोजित कराने के आदेश दिए थे और स्वयं भी कार्यक्रमो में प्रतिभाग कर नवीन वोट बनवाने एवं मतदाताओं को जागरूक करने हेतु जनपद स्तर पर अभियान चलाया जिसमें एस एन इंटर कॉलेज के स्वीप नोडल अधिकारी रहे इंतजार ख़ान ने अपनी प्रतिभागिता सुनिश्चित की थी और लगभग 35 ग्राम पंचायतों में मतदाता जागरूकता अभियान में रैली व गोष्ठियों का आयोजन कर मतदाताओं को मतदान प्रतिशत बढ़ाने एवं नवीन वोट बनवाने हेतु जनमानस को प्रेरित किया। इंतजार ख़ान ने जिन ग्राम पंचायतों में मतदाता जागरूकता अभियान चलाया वहां 80% से अधिक मतदान हुआ और कुछ ग्राम पंचायतों में 90% से अधिक मतदान हुआ जिसमें ग्राम पंचायत मुढ़िया रतनपुरी, सेमर खेड़ा के ग्राम पंचायत के प्रधानों को संमानित भी किया गया मतदाता जागरूकता अभियान के परिणामस्वरूप जनपद में लगभग 70% प्रतिशत मतदान हुआ और उत्तर प्रदेश में जनपद को पांचवां स्थान प्राप्त हुआ। विद्यालयों के छात्र छात्राओं द्वारा ग्रीटिंग कार्ड बनाने का रिकॉर्ड भी बना सात लाख ग्रीटिंग कार्ड छात्र छात्राओं के बनाए गए एवं समस्त जनपद में बांटे गए। स्वीप नोडल अधिकारी इंतजार ख़ान ने तत्कालीन जिलाधिकारी के साथ समस्त ब्लॉक में मतदाता जागरूकता अभियान चलाया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश