निरहुआ ने कहा था कि एयर कंपनियों ने कहा है कि एयरपोर्ट बहुत छोटा है, उड़ान नहीं हो सकती, ऐसे में कैसे निरहुआ बयान दे रहे कि मंदिर उद्घाटन से पहले मंदुरी से शुरू होगी उड़ान

 आजमगढ़ 24 दिसंबर 2023. भाजपा सांसद दिनेश लाल यादव निरहुआ के मंदुरी से उड़ान वाले बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए किसान नेता राजीव यादव ने कहा कि निरहुआ ने कहा था कि एयर कंपनियां आजमगढ़ नहीं आना चाहतीं हैं क्योंकि एयरपोर्ट इतना छोटा है कि उड़ान नहीं हो सकती तो वह अब कैसे उड़ान के दावे कर रहे हैं. निरहुआ के अनुसार डीजीसीए की लाइसेंसिंग प्रक्रिया अगर पूरी हो चुकी है तो सवाल है कि इस छोटे एयरपोर्ट को जहाँ से एयर कम्पनियां कहती हैं कि उड़ान नहीं हो सकती को कैसे अनुमति मिल रही. यह नागरिकों के जीवन से जुड़ा गंभीर मसला है. निरहुआ के अनुसार एयरपोर्ट छोटा है तो मानक के अनुरूप न होने के बावजूद किसी एयरपोर्ट को लाइसेंस या अनुमति कैसे दी जा सकती है.

सोशलिस्ट किसान सभा के प्रदेश अध्यक्ष राजीव यादव ने कहा कि सालों से आजमगढ़ एयरपोर्ट को लेकर जो झूठी हवा हवाई बयानबाजी हो रही है उससे इस परियोजना पर संदेह होता है. प्रधानी से लेकर प्रधानमंत्री तक के चुनाव जब जब आते हैं भाजपाई हवाई जहाज उड़ाने के हवाई दावे करते फिरते हैं. 2019 का लोकसभा चुनाव, 2021 का पंचायत चुनाव, 2022 का विधानसभा चुनाव, 2022 का सदर लोकसभा का उपचुनाव हो या फिर हाल में घोसी में हुए उपचुनाव हर बार दावा उड़ान का. इससे पहले भाजपा सांसद दिनेश लाल यादव ने बोला था कि 7 सितंबर को लाइसेंस मिलेगा ऐसा इसलिए क्योंकि 5 सितंबर को घोसी में उपचुनाव हो चुका होगा. और अब निरहू कह रहे कि मंदिर उद्घाटन से पहले उड़ान शुरू हो जाएगी और एयरपोर्ट उद्घाटन के लिए प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री से निवेदन किया है. मुख्यमंत्री को निरहू से जरूर पूछना चाहिए कि उनके कहने पर जब उन्होंने एयर लाइन कंपनियों से बात की थी तो उन्होंने कहा कि एयरपोर्ट इतना छोटा है कि उड़ान नहीं हो सकती तो कैसे फिर उड़ान होने का बयान निरहू दे रहे. भाजपा नेताओं का एयरपोर्ट के सवाल पर आ रहे बयान झूठ का पुलिंदा ही नहीं बल्कि भ्रष्टाचार की तरफ इशारा करता है. आजमगढ़ एयरपोर्ट का पूरा मामला संदेह के घेरे में है. निरहुआ के अनुसार जब एयरलाइन कंपनियों ने कहा की उड़ान हो ही नहीं सकती तो किस आधार पर लाइसेंस की मांग की गई और दावा किया गया कि लाइसेंस मिल गया है. 

गौरतलब है कि जून में निरहुआ ने बोला था कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कहने पर एयर कंपनियों से बात की तो कोई एयर कंपनी आजमगढ़ आने को तैयार नहीं हैं क्योंकि एयरपोर्ट बहुत छोटा है, उड़ान नहीं हो सकती. 

किसान नेता ने कहा कि निरहुआ को किसी की भावना से क्या मतलब उन्हें तो बस डायलाग मरना हैं. बस चंद दिनों का इंतजार, मंदुरी एयरपोर्ट से भरिए सीधी उड़ान जैसे सांसद निरहुआ के बयान आजमगढ़ की जनता की भावनाओं को आहत करते हैं. पंद्रह साल से अधिक समय से जमीन अधिग्रहित है जिसपर करोड़ों की लागत से योगी सरकार में एयरपोर्ट बनाकर रोज उड़ान को लेकर हवाई बयान दिए जाते हैं लेकिन उड़ान नहीं हुई.राजीव यादव ने कहा कि डीजीसीए की लाइसेंसिंग प्रक्रिया पूरी होने की बात करने वाले निरहुआ ने मार्च में ही कहा था कि लाइसेंस मिल गया है, जल्द ही एक टीम निरीक्षण के लिए आएगी उसके बाद अगले महीने उड़ान शुरू हो जाएगी. घोसी में उपचुनाव के वक्त कहा कि  7 सितंबर को डीजीसीए के लोग आ रहे हैं और लाइसेंस देंगे जिसके बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से इसका उद्घाटन कराया जाएगा. और अब फिर कह रहे कि एयरपोर्ट उद्घाटन के लिए प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री से निवेदन किया है.


द्वारा:

राजीव यादव

प्रदेश अध्यक्ष, सोशलिस्ट किसान सभा

9452800752

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश