पुलिस ने झुठला दिया कुमार विश्वास का हमले वाला दावा, अब पल्ला झड़ रहे कवि,

रिपोट-मुस्तकीम मंसूरी

गाजियाबाद,आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता मशहूर कवि कुमार विश्वास के एक टूटे ने सोशल मीडिया से लेकर पुलिस महक में तक में हलचल पैदा कर दी। कुमार विश्वास ने काफिले पर हमले का दावा किया था। कुमार विश्वास ने दावा किया की गाजियाबाद में उनके काफिले पर हमला किया गया है। और सुरक्षा कर्मियों से मारपीट की गई। लेकिन कुछ ही देर बाद सामने आए एक जख्मी डॉक्टर ने खुद को पीड़ित बताते हुए कहा कि साइड नहीं देने पर उन्हें पिटा गया है।


अब गाजियाबाद पुलिस ने भी शुरुआती जांच के बाद कुमार विश्वास के आरोपी को गलत बताया तो कवि ने पूरे मामले से पल्ला झाड़ लिया है। गाजियाबाद पुलिस ने सोशल मीडिया पर संक्षिप्त बयान जारी किया और यह साफ कर दिया कि कुमार विश्वास के काफिले पर हमला नहीं हुआ था, जैसा की कवि ने दावा किया था। पुलिस ने एक्स पर लिखा, आज संज्ञान में आए प्रकरण में कुमार विश्वास के काफिले पर किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा हमले के संबंध में प्रारंभिक जांच के क्रम में आरोप सिद्ध नहीं हुए हैं। थाना इंदिरापुरम पुलिस आगे की जांच और कार्रवाई कर रही है। चेहरे से टपकती खून के साथ डॉक्टर की ओर से लगाए गए मारपीट के आप और पुलिस के बयान के बाद सोशल मीडिया पर कुमार विश्वास की घेराबंदी शुरू हो गई। लोगों ने उनसे सवाल डालने शुरू कर दिए तो पूर्व नेता बैक फुट पर नजर आए।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश