वार्ड नंबर 29 में डेयरी संचालकों की मनमानी से क्षेत्र में संक्रामक रोग फैलने का बढ़ रहा है खतरा।

 रिपोट-नाजिश अली

बरेली, वार्ड नंबर 29 रहपुरा  चौधरी  यहां के  डेरी वाले अपनी डेरी का गोबर नालियों में बहाते हैं, जबकि वहां पर एक सरकारी स्कूलों के होने की जानकारी भी स्थानीय निवासियों द्वारा दी गई है। परंतु नगर निगम क्षेत्र की घनी आबादी के बीच देरी संचालकों से सांठगांठ करके मौन धारण किए रहता है। स्थानीय लोगों का कहना है की डेयरी संचालक लगातार नालियों में गोबर बहते हैं।

जिसकी वजह से मठ कमल नैनपुर से निकलने वाला नाला पूरी तरह से चोक हो चुका है अब गोवर नाले में ना जाकर सड़कों पर आ रहा है वार्ड के सफाई नायक और वार्ड पार्षद द्वारा किस तरीके से करते  अपने वार्ड में काम जनता  का आरोप है 

कि हमारे यहां सफाई कर्मी आते ही नहीं है जिसकी वजह से हमारे नाले चोक होते है 

वहीं पूरे नाले को ना साफ करके कहीं बीच में से एक पत्थर को उठाकर उसकी सफाई करके निकल जाते हैं 

वार्ड की जनता पस्त वार्ड पार्षद व दूध की डेरी वाले मस्त आखिर नालियों में जो गोबर बहाया जा रहा है उसका जिम्मेदार कौन दूध की डेरी वाले वार्ड पार्षद या सफाई कर्मचारी अब नगर निगम  इस समस्या का समाधान किस तरहा करेंगा कौन इस समस्या से जनता को बाहर निकलेगा।

वह स्थानीय नागरिकों का कहना है कई बार पार्षद से भी शिकायत की गई परंतु पार्षद पूरी तरह से मौन धारण किए हुए हैं।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश