कपड़ा व्यवसाय पिता व पुत्र की उनकी दुकान में घुसकर पड़ोसी ने गोली मारकर कर दी हत्या

 

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिल के महराजगंज थाना क्षेत्र के सरदहा बाजार में बुधवार सुबह कपड़ा व्यवसायी पिता व पुत्र को उनकी दुकान में घुसकर पडोसी  ने गोली मारकर हत्या कर दी. डबल मर्डर की सूचना मिलते ही पुलिस महकमे में भी हड़कंप मच गया. सूचना के बाद आईजी रेंज आजमगढ़ अखिलेश मीणा, पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य सहित भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंचा और घटना की छानबीन के साथ ही बदमाशों की तलाश में जुट गई.महाराजगंज थाना क्षेत्र के गोपालपुर गांव निवासी रसीद अहमद  पुत्र मुस्तफा सरदहा बाजार में स्थित अपने मकान में रेडीमेड कपड़े का व्यवसाय करते थे.


बुधवार की सुबह करीब आठ बजे वह अपने छोटे बेटे शोएब के साथ दुकान खोल कर साफ-सफाई कर रहे थे, तभी बाइक सवार तीन बदमाश मौके पर पहुंचे और दुकान में घुसकर रसीद पर गोलियां बरसाना शुरू कर दिया. बेटा जान बचाने के लिए दुकान के दूसरे हिस्से में निर्माणाधीन मकान की तरफ भागा तो बदमाशों ने उसे दौड़ा कर गोली मार दी, जिससे मौके पर ही दोनो की मौत हो गई. स्थानीय लोगों का कहना है कि मृतक की दुकान के सामने एक और कपड़े की दुकान है। दोनों दुकानदारों के बीच लगभग चार साल पहले ग्राहकों को अपनी तरफ बुलाने का लेकर विवाद हुआ था। इसके साथ ही कुछ महीने पहले मारपीट भी हुई थी। मारपीट के मुकदमे में मृतक पक्ष से लोग जेल भी जा चुके हैं। इसी बात को लेकर दोनों पक्षों में विवाद होता रहता था। थाना अध्यक्ष संतोष कुमार कि मामले में मृतक के बेटे ने तहरीर दी है। आरोपियों के खिलाफ जांच कर जल्द ही कार्रवाई की जाएगी।

एसपी ने घटना के खुलासे के लिए चार टीमों का किया गठन


एसपी अनुराग आर्य ने घटना के खुलासे के लिए चार टीमों का गठन किया है। उन्होंने कहा कि साल 2022 में ग्राहकों को बुलाने को लेकर दोनों पक्षों में विवाद हुआ था। मामले में मुकदमा दर्ज किया गया था। चार्जशीट भी लगी है। एसपी सिटी शैलेन्द्र लाल के नेतृत्व में एसओजी और सर्विलांस टीम लगा दी गई है। आस-पास के CCTV खंगाले जा रह रहे है। जल्द ही हमलावरों को पकड़कर घटना का खुलासा किया जाएगा।


पांच आरोपियों के विरूद्ध दर्ज हुआ नामजद मुकदमा


मृतक रशीद अहमद के बेटे मोहम्मद आरिफ की तहरीर पर इस मामले में पांच आरोपियों के विरूद्ध नामजद मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। महाराजगंज थाने में दी तहरीर में मृतक के बेटे मोहम्मद आरिफ ने आरोप लगाया कि जब हमारे पिता और भाई दुकान में झाड़ृ लगा रहे थे। उसी समय दिनेश अपनी पत्नी निर्मला के साथ आया। इसके साथ ही दिनेश ने अपने तीनों बेटों पंकज गुप्ता, प्रदीप गुप्ता और पवन गुप्ता को ललकारते हुए गोली चलाने के लिए उकसाया। जिसके बाद आरोपित के बेटों ने गोली मारकर बाप-बेटे की हत्या कर दी। पुलिस का कहना है कि सभी आरोपियों की तलाश की जा रही है। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश