अरविंद केजरीवाल के नारी सुरक्षा नारी सम्मान के दावों को ठेंगा दिखाते हुए छात्रा को अपनी रखेल बनाना चाहते हैं आप पार्षद पंकज गुप्ता।

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए मुस्तकीम मंसूरी की रिपोर्ट,

आप पार्षद पंकज गुप्ता और उनके गुरगों के आतंक से भयभीत होकर छात्र ने अपनी आबरू बचाने के लिए प्रार्थना पत्र देकर संगम विहार पुलिस से लगाई न्याय की गुहार।

नई दिल्ली, थाना संगम विहार क्षेत्र से एक ताजा मामला प्रकाश में आया है जहां पर आम आदमी पार्टी के नेता पंकज गुप्ता निगम पार्षद सत्ता के नशे में चूर बाहुबली अंदाज में अपने गुरगों से एक छात्रा को अपनी रखेल बनाने का दबाव बना रहे हैं। ऐसा नहीं करने पर अपने रसूक के बल पर फर्जी मुकदमे में फंसा कर जेल भिजवाने की धमकियां दे रहे हैं।


आम आदमी पार्टी के नेता पार्षद पंकज गुप्ता और उनके गुरगों की धमकियों से भयभीत छात्र ने पुलिस उपायुक्त डीसीपी ऑफिस सरिता विहार नई दिल्ली में एक प्रार्थना पत्र देकर न्याय की गुहार लगाते हुए कहा कि मैं दिल्ली विश्वविद्यालय प्रथम वर्ष के पात्रमान में पढ़ती हूं। आम आदमी पार्टी नेता पंकज गुप्ता एवं उनके गुंडे निशु मोहम्मद, राशिद, सोहेल शूटर, यशपाल यादव, इरफ़ान सिद्दीकी, सलमान मॉडल, व अन्य मुझे पंकज गुप्ता के साथ शारीरिक संबंध बनाने का दबाव डाल रहे हैं। एवं अपने मोबाइल फोन द्वारा मेरी बात करवाते थे। और पंकज गुप्ता कहता है, कि यदि मेरे साथ मेरी रखेल बनाकर रहेगी तो तुझे आम आदमी पार्टी में अच्छा पद दिलवा दूंगा। और एक ट्यूबवैल तेरे नाम करवा दूंगा व ऐश करवाऊंगा। मेरे बार-बार मना करने पर भी यशपाल मेरे घर पर जबरदस्ती आता था। और किसी अन्य फोन से मेरी बात पंकज गुप्ता से करवाता था। जब मैंने मना किया कि यह गंदा काम है, मैं नहीं करूंगी और मैं तेरी शिकायत दिल्ली पुलिस को करूंगी, तो कहता है, थाना निगम पार्षद पंकज गुप्ता के अंदर आता है। इरफ़ान सिद्दीकी, सलमान मॉडल मेरे घर में आये और मुझे धमकी देने लगे की अगर ज्यादा बोलेगी तो तेरे घर का चालान कटवा दूंगा, डेंगू मलेरिया का चालान काटवा दूंगा। एवं तेरे परिवार को झूठे केस में फसवा देंगे।  इरफ़ान सिद्दीकी, सलमान मॉडल ने मेरे सामने पेशाब किया और मेरी छाती को दबाया। छात्रा ने प्रार्थना पत्र में कहा की इरफ़ान सिद्दीकी, सलमान मॉडल, निशु मोहम्मद, रशीद, सोहेल शूटर मुझे अक्सर रोड पर धमकियां देते थे। कि तेरे भाई व बाप को मरवा देंगे, मैं डर की वजह से कोई शिकायत नहीं की। अब सवाल यह उठता है सत्ता पक्ष के पार्षद जिन्हें क्षेत्र की जनता ने जनप्रतिनिधि चुनकर मान सम्मान दिया। वहीं पार्षद सम्मान पाने के बाद सत्ता के नशे में चूर होकर एक छात्रा को अपनी रखेल बनाने का प्रयास अपने पालतू गुरगों के जरिए करके क्षेत्रीय जनता में आतंक और भय का माहौल पैदा करने का प्रयास कर रहे हैं। क्या पुलिस प्रशासन छात्र द्वारा दिए गए प्रार्थना पत्र पर सत्ता के दबाव में आए बिना छात्रा को न्याय दिलवा सकेगा? क्या क्षेत्रीय विधायक छात्रा को न्याय दिलाने के लिए आगे आएंगे? क्या मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नारी सुरक्षा नारी सम्मान के दावे सही है? इन विषयों पर संगम विहार की जनता को गंभीरता पूर्वक विचार करना होगा!

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश