साढ़े 5 साल में 312 को सस्पेंड किया गया, केस दर्ज होने के बाद भी 60 पुलिसकर्मी तैनात

 दिल्ली में 63 पुलिसकर्मियों पर दुष्कर्म के केस दर्ज लेकिन गिरफ्तारी सिर्फ 13 की,


रिपोर्ट -रूबी न्यूटन

दिल्ली पुलिस के 63 पुलिसकर्मियों पर दुष्कर्म के केस दर्ज हुए हैं। इनमें से केवल 13 आरोपियों को ही गिरफ्तार किया गया। यह आंकड़ा साढ़े 5 साल का है। फिलहाल, कोर्ट में एक भी आरोपी का दोष साबित नहीं हुआ है। वहीं, सात आरोपी पुलिसकर्मियों को कोर्ट बरी कर चुकी है। कुछ केस में आरोपी को अग्रिम जमानत मिल गई, जबकि कुछ में पीड़िता के साथ समझौता हो गया। अभी कई मामले कोर्ट में विचाराधीन हैं। बता दें RTI कार्यकर्ता जीशान हैदर के सवालों के जवाब में ये आंकड़े सामने आए हैं।


ऐसे मामलों में पुलिस के 312 कर्मियों को सस्पेंड किया जा चुका है। सबसे ज्यादा कार्रवाई वेस्ट जिले में हुई जहां 145 कर्मी सस्पेंड हुए। आउटर जिले में 72, नार्थ में 59 और PCR यूनिट में 23 को सस्पेंड किया गया। इस दौरान 106 पुलिसवालों पर आपराधिक मुकदमे भी दर्ज किए गए, जिनमें सबसे ज्यादा मामले 63 रेप के हैं। इनमें रेप का एक केस हरियाणा पुलिस का है। इस संबंध में दिल्ली पुलिस के एक अफसर ने कहा कि कानून सबके लिए बराबर है। बेशक कोई पुलिसकर्मी ही क्यों न हो। अगर किसी ने गुनाह किया है तो उस पर कानूनी कार्रवाई निश्चित तौर पर होती है। काम में लापरवाही बरतने वाले कर्मियों को सस्पेंड किया जाता है। गलत काम में लिप्त पाए जाने वाले जवानों को नौकरी से बर्खास्त तक किया गया है।

39 पुलिसकर्मियों के खिलाफ विभागीय जांच भी की गई। वहीं, 31 कर्मियों को नौकरी से ही बर्खास्त किया जा चुका है। वर्तमान में 60 पुलिसकर्मी ऐसे हैं, जो आपराधिक मुकदमे दर्ज होने के बाद अलग-अलग जगह तैनात हैं। तैनाती वाली जगहों में क्राइम ब्रांच, सिक्योरिटी यूनिट, डिस्ट्रिक, पुलिस स्टेशन, राष्ट्रपति भवन से लेकर दिल्ली सशस्त्र पुलिस शामिल है। दूसरी तरफ, दिल्ली पुलिस हेडक्वार्टर, साउथ वेस्ट डिस्ट्रिक्ट, विशेष पुलिस इकाई महिला एवं बच्चे, सेंट्रल डिस्ट्रिक्ट व नार्थ वेस्ट डिस्ट्रिक्ट की ओर से जवाब देते हुए दावा किया गया कि बीते साढ़े पांच साल में उनके यहां किसी भी पुलिसकर्मी के खिलाफ रेप का केस दर्ज नहीं हुआ है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश