शाहदाना हॉस्पिटल के डायरेक्टर डॉक्टर हसरत अली की श्रवण मास व मोहर्रम को लेकर प्रदेश एवं जनपद वासियों से ख़ास अपील|

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए बरेली से मुस्तकीम मंसूरी की रिपोर्ट, 

बरेली,शहर के डाक्टर हसरत अली की शाहदाना हॉस्पिटल परिवार की ओर से सभी प्रदेश एवं जनपद वासियों से ख़ास अपील|


डाक्टर हसरत अली ने कहा जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं कि इस बार मोहर्रम और कांवर एक साथ पड़े हैं, ऐसे में जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन की जिम्मेदारियां काफी बढ़ गई है, वही उससे भी अधिक जिम्मेदारियां बरेली वासियों की बरेली के अमनो- अमान को कायम रखने और जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन को सहयोग करने की है,क्योंकि मोहर्रम का महीना नए इस्लामिक साल से शुरू होता है, जिसमें मुस्लिम समाज के लोग ताजियादारी करते हैं, वही श्रवण मास के महीने में हमारे हिंदू समाज के भाई जुलूस की शक्ल में कांवर लेकर जाते हैं, ऐसे में दोनों समुदाय के लोगों की जिम्मेदारी बनती है, कंवर यात्रा और मोहर्रम के ताजिए निकलने में एक दूसरे का सहयोग करें, 

कुछ शरारती तत्व शहर के शांतिपूर्ण वातावरण को दूषित करने का प्रयास करते हैं, वही जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन और बरेली के अमन पसंद शहरी उनके नापाक मंसूबों को ना काम करने का हर संभव प्रयास करते हैं, और उनके प्रयासों में सफलता भी मिलती है, शर पसंद लोगों की तादाद बहुत कम होती है, परंतु बड़ी तादाद अमन पसंद लोगों की होती है, यह अमनपसंद लोग किसी भी सूरत में अपने शहर के अमनो- अमान एवं शांति व्यवस्था को बनाए रखने का हर संभव प्रयास करते हैं, ऐसे में शाहदाना हास्पिटल परिवार की ओर से आप सभी जनपद एवं शहर वासियों से अपील करते हैं ,की मोहर्रम के ताजि़यों और कावड़ यात्रा के जुलूस को  संयम और शांति के साथ निकालने में प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन का सहयोग करें,बरेली के अमनो- अमान को बरकरार रखने एवं शांति व्यवस्था बनाए रखने में जिला एवं पुलिस प्रशासन का सहयोग करें,शांति व्यवस्था,आपसी भाईचारा, सांप्रदायिक सौहार्द बना रहे,मोहर्रम और कांबर दोनों के जुलूस शांतिपूर्ण तरीके से निकल सकें, इसके लिए सभी अमन पसंद लोगों को अपने-अपने क्षेत्रों की जिम्मेदारियां लेते हुए जिला एवं पुलिस प्रशासन का सहयोग करना चाहिए, एक बार फिर सभी जनपद एवं शहर वासियों से अपील करता हूं कि सभी धर्मों के लोग एक दूसरे की धार्मिक भावनाओं का ख्याल रखते हुए,मोहर्रम के ताजियों एवं कांवर ले जा रहे  लोगों को कोई परेशानी उत्पन्न ना हो पाए, 

मोहर्रम और श्रवण मास शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो सके, शाहदाना हास्पिटल परिवार आप सभी लोगों से अपील करता है कि भ्रमक अफवाहों से बचें।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश