एबीपी न्यूज़ सी वोटर सर्वे देश की जनता को भ्रमित करने वाला, संघ भाजपा और गोदी मीडिया की बौखलाहट को दर्शाता है| उज़मा

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए मुस्तकीम मंसूरी की रिपोर्ट, 

भाजपा का पहले मुकाबला बिखरे हुए विपक्ष से हुआ करता था, परंतु इस बार एनडीए का मुकाबला इंडिया से है|

बरेली, उत्तर प्रदेश महिला कांग्रेस कमेटी की प्रदेश सचिव उज़मा रहमान ने देश में होने वाले अगले लोकसभा चुनाव 2024 से पहले 25 जुलाई तक किए गए एबीपी न्यूज़ सी वोटर सर्वे को गोदी मीडिया की चाटुकारिता बताते हुए कहा कि एबीपी न्यूज़ के लिए सी वोटर ने राजस्थान चुनाव से पहले ओपिनियन पोल के जरिए 14 हजार 85 लोगों से बात की है, लोकसभा चुनाव को लेकर, वही राजस्थान की राजनीति के मौजूदा मुद्दों पर त्वरित सर्वे भी किया है|


जिसमें 1 हजार 85 लोगों की राय ली गई है, और लोगों से पूछा गया है, मोदी या राहुल पीएम चुनाव हो तो किसको चुनेगें, तो एबीपी न्यूज़ के लिए सी वोटर सर्वे में नरेंद्र मोदी को 70% और राहुल गांधी को 25% वहीं 3% लोगों ने दोनों को रिजेक्ट किया है| और 2% ऐसे लोग हैं, जिनकी राय कुछ नहीं है|

उज़मा रहमान ने कहा कि एबीपी न्यूज़ सी वोटर का यह सर्वे देश की जनता को भ्रमित करने वाला और संघ भाजपा और गोदी मीडिया की बौखलाहट को दर्शाता है| उन्होंने कहा यह राय देने वाले 14 हजार 85 लोग संघ और भाजपा के हो सकते हैं आम जनता के नहीं, वही राजस्थान के बारे में 1 हजार 885 लोगों की रायशुमारी की गई यह लोग भी संघ और भाजपा के ही कार्य करता है| जो गोदी मीडिया के जरिए देश की जनता को भ्रमित करना चाहते हैं|उज़मा रहमान ने सवाल करते हुए कहा की 2019 लोकसभा चुनाव में भाजपा को 37 फ़ीसदी वोट हिन्दू-मुस्लिम, मंदिर- मस्जिद और राष्ट्रवाद के नाम पर हासिल हुए थे, जबकि 63 फ़ीसदी वोट भाजपा व संघ के एजेण्डे के खिलाफ इस देश के संविधान और  धर्मनिरपेक्षता की बात करने वालों को मिले थे| परंतु उस समय विपक्ष बिखरा हुआ था जिसका फायदा उठाकर भाजपा दोबारा सत्ता में आयी| परंतु इस बार परिस्थितियां अलग है और विपक्ष भी एकजुट है| बस यही भाजपा और गोदी मीडिया की बौखलाहट का कारण है| उज़मा रहमान ने कहा पहले भाजपा का मुकाबला बिखरे हुए विपक्ष से हुआ करता था, परंतु इस बार एनडीए का मुकाबला इंडिया से है| उज़मा रहमान ने कहा एनडीए के 38 दलों को मिलाकर कुल वोट 25 करोड़ बनते हैं, वही इंडिया के 26 दलों के कुल वोट 25 करोड़,75 लाख बनते हैं| यही मोदी और शाह की  घबराहट का सबब है, क्योंकि 2024 में एनडीए जाएगा और इंडिया आएगा|

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

विधायक अताउर्रहमान के भाई नसीम उर्रहमान हज सफर पर रवाना

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र