गाजियाबाद के थाना विजयनगर में पुलिस कस्टडी में एक व्यक्ति के मौत के मामले में ए आई एम आई एम के नेताओं ने पुलिस के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है

 आज गाजियाबाद पुलिस द्वारा जिलाध्यक्ष डा मेहताब अली,महानगर अध्यक्ष पंडित मनमोहन झा गामा, पूर्व मेयर प्रत्यासी दिलशाद मलिक,शाहिद सैफी,मोहसिन राणा,बहादुर प्रधान,नौशाद सैफी,हाफिज इलियास,लियाकत,इमरान, को लोनी एसीपी रजनीश उपाध्याय के कार्यालय पर डिटेन किया गया है,

    पंडित मनमोहन झा गामा ने कहा की मेरा मकसद हंगामा खड़ा करना मकसद नहीं है,दिलशाद के हत्यारे  थाना विजय नगर पुलिस के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो ,इसकी उच्च स्तरीय जांच कराई जाए,एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा पीड़ित परिवार को 30 लाख की सहायता करने की मांग करता हूं,

  एवं गाजियाबाद पुलिस का आभार व्यक्त करता हूं की उन्होंने पुलिस के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया।

   जब रक्षक ही भक्षक बन जाए तो आम लोगो का क्या होगा,लोकतंत्र में ऐसी घटना का विरोध करना,एवं पीड़ित को न्याय दिलाने के लिए संघर्ष करना हमारा धर्म है।

         जब्बार मालिक

           मीडिया प्रभारी

AIMIM पार्टी महानगर गाजियाबाद

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश