पुलिस व्यवस्था में सुधार और देश में चुनाव सरकारी स्तर पर कराया जाएगा : लोक समाज पार्टी *हर खेत को पानी, हर हाथ को काम मिलेगा *

 *लोक समाज पार्टी  की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के चुनाव में गौरी शंकर शर्मा (ऐडवोकेट) पुनः निर्विरोध राष्ट्रीय अध्यक्ष  चुने गए।

नई दिल्ली ( अनवार अहमद नूर)


लोक समाज पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के चुनाव बीएड छात्रा सृष्टि पांडे ने चुनाव अधिकारी के रूप में संपन्न कराए और जिसमें गौरी शंकर शर्मा एडवोकेट पुनः निर्विरोध राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने गए। अखिलेश पांडे, कमल नैन विश्वकर्मा, आद्या प्रसाद शर्मा को निर्विरोध उपाध्यक्ष चुना गया। बचन सिंह कनौजिया, श्याम भजन विश्वकर्मा एडवोकेट निर्विरोध राष्ट्रीय महासचिव चुने गए। देवेंद्र कुमार शर्मा और दुर्गेश्वर विश्वकर्मा राष्ट्रीय सचिव निर्विरोध चुने गए। साथ ही साथ नरेश कुमार सेन लोक समाज पार्टी मजदूर सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष निर्विरोध चुने गए।


फारूक मंसूरी राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी बनाए गए। शाहनवाज अली राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष, डॉक्टर अरुण शर्मा राष्ट्रीय महिला अध्यक्ष बनाई गई। इस मौके पर छत्तीसगढ़ से 9 सक्रिय सदस्यों की अगुवाई मनोहर नाना जी अरे ने की। छत्तीसगढ़ से साहू, संतोष शर्मा मध्यप्रदेश से, महेश कुमार शर्मा और राजेश शर्मा बिहार से, दिल्ली से रामगोपाल चौहान कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में शामिल हुए, इस कार्यक्रम में कई सौ लोग सक्रिय सदस्यों के रूप में शामिल हुए । साथ ही मनोज कुमार मांझी, सुमित्रा बघेल, विरासिया बाई ओटी, समता दास साहेब, अनुपम सागर, अमर बहादुर, केसरी प्रसाद विश्वकर्मा, सोपान काका अहिरे, विष्णु मुर्लधार गौडे, अरूण चंद्रकान देवडे, दीपक नानाजी अहिरये मोटा भाई पूंजा राम अहिरे, विश्वनाथ दौलत वाह, सुनील दया राम अहिरे,धर्मेंद्र अहिरवार ऋषि राम शर्मा इंद्र भान विश्वकर्मा सहित अनेक लोग शामिल रहे। सामाजिक कार्यकर्ता कैलाश झा,मीडिया के अनेक लोग शामिल रहे। इस अवसर पर राष्ट्रीय अध्यक्ष गौरीशंकर शर्मा ने कहा कि लोक समाज पार्टी एक विकसित राष्ट्र बनाने के लिए अन्य पार्टियों से अलग निर्वाचन आयोग में फरवरी 2019 में रजिस्टर्ड हुई है और जिसका मुख्य उद्देश्य अटल बिहारी बाजपेई से लेकर के नरेंद्र मोदी तक जितनी भी सरकारी संपत्ति प्राइवेट हुई है उन सभी का राष्ट्रीयकरण करके देश के युवाओं के लिए पुनः सरकारी नौकरी का अधिकार बहाल करना रहेगा। क्योंकि आज निजीकरण ठेकेदारी के दौर में सरकारी नौकरी का अधिकार लगभग ख़त्म कर दिया गया। जो इंडस्ट्रीज़ बीमार हैं उनको पुनः चालू किया जाएगा और हर वर्ष  सरकारी औद्योगिकीकरण चालू किया जाएगा। यहां तक कि जितने भी स्कूल अस्पताल कॉलेज विश्वविद्यालय इंस्टिट्यूशन काले धन से बने होंगे उन सभी का राष्ट्रीयकरण किया जाएगा पूरे देश में एक समान शिक्षा नीति लागू होगी।किसानों की समस्या पर उन्होंने कहा कि हर खेत को पानी, हर हाथ को काम की नीति पर लोक समाज पार्टी देश में सरकार चलाएगी। पुलिस व्यवस्था में सुधार किया जाएगा। देश में चुनाव के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि किसी भी कीमत पर चुनाव काले धन से नहीं लड़ा जाएगा जस्टिस डीएम की रिपोर्ट जो 1978 में आई है उसको लागू किया जाएगा यानि विधानसभा, लोकसभा का चुनाव सरकारी स्तर पर कराया जाएगा।



टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश