भारतीय समन्वय संगठन (लक्ष्य) के कमांडरों ने बहुजन नायक मान्यवर कांशीराम साहब की जयंती के अवसर पर लखनऊ के माननीय कांशीराम जी स्मारक पार्क में रैली निकाली गई|

 बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए लखनऊ से मुस्तकीम मंसूरी की रिपोर्ट, 

बदलाव की परिभाषा को समझ जाओ तो देश में खड़ी-खड़ी व्यवस्था ढेर हो जायेगी : लक्ष्य

लखनऊ, भारतीय समन्वय संगठन (लक्ष्य) के कमांडरों ने बहुजन नायक मान्यवर कांशीराम साहब की जयंती के अवसर पर  लखनऊ के मा.कांशीराम जी स्मारक पार्क में एक जागरूकता रैली निकाली और उनके सम्मान में जोशीले नारे लगाए तथा मान्यवर कांशीराम साहब के संघर्ष पर विस्तार से प्रकाश डाला।

बदलाव की परिभाषा को समझ जाओ तो देश में खड़ी खड़ी व्यवस्था ढेर हो जायेगी। यह वर्ण व्यवस्था दूषित मानसिकता वाले लोगों की एक बड़ी सोची समझी चाल है जोकि बहुजन समाज को हजारों वर्षो से गुलामी की जंजीरों में जकड़े हुए है।

इस खड़ी खड़ी व्यवस्था में एक बहुत बड़ा समाज अर्थात् बहुजन समाज कड़ी मेहनत के बावजूद हजारों वर्षो से कमजोर, लाचार व शोषित बना हुआ है और मुट्ठी भर लोग बिना कुछ करे धरे, चालाकी के बलबूते देश की सम्पूर्ण धन धरती पर कब्जा जमाए हुए हैं। यह बात लक्ष्य कमांडरों ने कही

उन्होंने कहा कि इस खड़ी खड़ी व्यवस्था के खिलाफ बहुजन समाज में जन्मे महापुरुषों ने समय-समय पर आंदोलन चलाए जोकि काफी हद तक सफल भी हुए इसी कड़ी में मान्यवर कांशीराम जी ने पैदल चलकर, गांव-गांव घर-घर जाकर एक एक व्यक्ति को सामाजिक क्रांति के द्वारा जागरूक किया तथा एक वोट और एक वोट की अहमियत को समझाया तथा बिकने वाले समाज को ना बिकने वाला बनाया। मां.कांशीराम जी ने अपनी ईमानदारी और कड़ी मेहनत के बलबूते देश के कमजोर लाचार मांगने वाले बहुजन समाज को हुक्मरान बना दिया।

लक्ष्य कमांडरों ने बताया कि उनकी इसी तर्ज पर लक्ष्य के कमांडर जनवरी 1999 से  समाज में निरंतर कार्य कर रहे है और जिसके परिणाम समाज में साफ दिखाई देने लगे है।

इस कार्यक्रम के नेतृत्व की कमान लक्ष्य कमांडर रेखा आर्या, अंजु सिंह, राज कुमारी कौशल, संघमित्रा गौतम, रजनी सोलंकी, चेतना राव, विजय लक्ष्मी गौतम, छाया कौशल, रागनी चौधरी,रश्मि गौतम ने संभाली ।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

विधायक अताउर्रहमान के भाई नसीम उर्रहमान हज सफर पर रवाना

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र