*बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ के नारे देने वाले भाजपा के नेताओं से हमें अपनी बेटियों को बचाने की जरूरत है- सरिता सिंह*

*नई दिल्ली, 24 सितबंर 2022*आम आदमी पार्टी की महिला विंग की नेता सरिता सिंह ने कहा कि बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ के नारे देने वाले भाजपा के नेताओं से हमें अपनी बेटियों को बचाने की जरूरत है।  उत्तराखंड के बच्ची अंकिता भंडारी जी की निर्मम हत्या कर नहर में फेंकना भयावह स्थिति है।


उतराखंड में मन और दिल दहला देने वाली इस घटना को भाजपा के बड़े नेता विनोद आर्य के पुत्र पुलकित आर्य द्वारा अंजाम दिया गया। वरिष्ठ नेता अंजली सिंह ने कहा कि 19 वर्षीय अंकिता भंडारी बहुत ही अनुशासित लड़की थी। उसका सपना अपने माता-पिता के बोझ को कम करना था। देश में 2021 में 31 हजार 677 रेप केस दर्ज हुए। जिसमें योगी सरकार वाली उत्तरप्रदेश सबसे अव्वल पर है। प्रदेश महिला प्रभारी निर्मला कुमारी ने कहा कि 2022 में देश की जनता और बेटी का नारा है कि “बहुत हुआ नारी पर वार अब कभी नहीं चाहिए मोदी सरकार”। गृह मंत्री अमित शाह महिलाओं और बेटियों की सुरक्षा में असमर्थ हैं। देश की सारी बेटियां उनसे त्यागपत्र मांग कर रही है।


आम आदमी पार्टी की महिला विंग की नेता सरिता सिंह, अंजली सिंह, महिला प्रदेश प्रभारी निर्मला सिंह ने प्रेसवार्ता को संबोधित किया। जिसमें नेत्री सरिता सिंह ने कहा कि पूरे देश में महिलाओं के प्रति अत्याचार और अपराध के समाचार लगातार बढ़ते जा रहे हैं। उत्तराखंड की बच्ची अंकिता भंडारी जी की निर्मम हत्या के बारे में सुना, जो भयावह स्थिति है। वह 19 वर्षीय बच्ची एक रिसॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट की जॉब कर रही थी। उनको वहां पर वेश्यावृत्ति में धकेलने की कोशिश की गई। उन्होंने इसका विरोधकर आवाज उठाया और कहा कि मैं वेश्यावृत्ति नहीं करूंगी, तो उनकी हत्या कर नहर में डाल दिया गया। यह अपराध भाजपा के बड़े नेता विनोद आर्य के पुत्र पुलकित आर्य ने किया है। यह उत्तराखंड की घटना मन और दिल दहला देने वाली घटना है।


उन्होंने कहा कि हमारा मन यह सोच कर व्याकुल हो रहा है कि इस बच्ची की लाश 6 दिनों तक नहीं मिली। उत्तराखंड की धामी सरकार 6 दिन तक उस बच्ची का पता नहीं लगा पाई। उस बच्ची के पिता अपनी बच्ची की खोज के लिए हर दरवाजे और पुलिस स्टेशन पर गए, लेकिन वहां की पुलिस 6 दिन बाद बताती है कि आपकी बच्ची की भाजपा के नेताओं द्वारा हत्या कर नहर में फेंक दिया गया है। इस देश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है और गृह मंत्री अमित शाह है। इस पूरे देश में सुरक्षा की जिम्मेदारी भाजपा के नेताओं और अमित शाह की हैक्ष लेकिन जिस प्रकार से महिलाओं के प्रति अत्याचार और अपराध बढ़ता जा रहा है। वह देखने लायक स्थिति नहीं है। उत्तराखंड में हमारी बेटी अंकिता भंडारी की निर्मम हत्या कर दी जाती है। उनको जबरदस्ती वेश्यावृत्ति के तरफ धकेला जाता है। 


नेत्री सरिता सिंह ने कहा कि देश में कहीं और की बात करें, तो कल एक अखबार में खबर था कि जबलपुर में नौकरी दिलाने के नाम पर भाजपा नेता ने एक युवती के साथ कार में रेप किया। बलिया में भाजपा के नेता पर 26 साल की युवती के साथ रेप और धमकी देने के मामले में केस दर्ज। गुजरात में बीजेपी एमएलए महिला पर अत्याचार के लिए आरोपित है। कुलदीप सेंगर, स्वामी चिन्मयानंद या भाजपा के किसी भी बड़े नेताओं की बात करें, तो भाजपा पूरे देश में दंगाइयों, भ्रष्टाचारियों और बलात्कारियों का अड्डा बन चुकी है। आज पूरे देश में भाजपा के नेता और भाजपा के मंत्री गण सत्ता के नशे में चूर हो चुके हैं। देश में सबसे बुरी स्थिति महिलाओं की है। हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी एक तरफ कहते हैं कि बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ। आज देश में भाजपा के नेताओं से हमें अपनी बेटियों को बचाना है। अगर हम भाजपा के नेताओं से अपनी बेटियों को बचा लेंगे तो उन्हें पढ़ा भी लेंगे।


उन्होंने कहा कि अंकिता भंडारी जी का क्या दोष था, वह एक रिसॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट की नौकरी कर अपने परिवार का भरण पोषण कर रही होंगी। भाजपा के नेता सत्ता के नशे में चूर हो चुके हैं। किसी की भावनाओं की कोई कद्र नहीं है। पूरे देश में महिलाओं के प्रति कानून व्यवस्था और अपराध का स्तर लगातार गिरता जा रहा है। यह बहुत चिंताजनक स्थिति है। देश की महिलाएं अपनी बेटियों को बचाएं को लेकर चिंतित है। हम अपनी बेटियों को इन भाजपा के दरिंदें नेताओं से कैसे बचाएं। आज पूरा देश क्रोधित है। आज पूरा देश सवाल पूछ रहा है।


उन्होंने कहा कि देश के गृह मंत्री अमित शाह सिर्फ जगह-जगह एमएलए खरीदने कर अपनी सरकार को बनाने का काम कर रहे हैं। देश की कानून व्यवस्था महिलाओं के प्रति जिम्मेदारी कौन लेगा? अमित शाह जी बताएं कि गृह मंत्री की जिम्मेदारी क्या है? देश में महिला सुरक्षा गृह मंत्री की जिम्मेदारी है तो अमित शाह जी इसमें विफल क्यों है? अगर वह अपनी जिम्मेदारी नहीं निभा पा रहे हैं तो उनको अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री धामी को लोगों ने नकार दिया था। उसके बाद भी बावजूद भी उत्तराखंड के मुख्यमंत्री उनको बनाया गया। जिसके बाद उत्तराखंड में लगातार महिलाओं के प्रति अपराध बढ़ता जा रहा है। उसके लिए धामी जी को जवाब देना पड़ेगा। अगर वह जवाब नहीं दे पाते और उत्तराखंड के महिलाओं को सुरक्षित महसूस नहीं करा पा रहे हैं तो उन्हें अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।


आम आदमी पार्टी के नेत्री अंजली राय ने कहा कि 19 वर्षीय अंकिता भंडारी बहुत ही अनुशासित लड़की थी। जिसने 88 फिसदी मार्क्स पाकर 12वीं पास की और एक साल का होटल मैनेजमेंट का कोर्स किया। उसके पिता एनजीओ में काम करते हैं और उनकी माता आंगनबाड़ी में नौकरी करती है। उसका सपना था कि अपने माता-पिता के बोझ को कम कर सके। उसकी आंखों में बहुत से अरमान और सपने देखे होंगे। उसके मां-बाप ने भी पता बहुत कुछ सोचा होगा। यह दुख की बात है कि उसके साथ क्या हुआ, सवाल यह उठता है क्या अब भी भारतीय जनता पार्टी यह जिम्मेदारी अपने ऊपर लेती है या नहीं? बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ का नारा देने वालों से पूछना चाहती हूं कि अंकिता का क्या दोष था, पढ़ाई तो उसने की लेकिन भाजपा उसे सुरक्षा नहीं दे पाई। पूरे देश में कानून व्यवस्था की बुरी हालत है। पिछले वर्ष 2020 से 2021 में जो महिलाओं के प्रति अपराध हुए उसमें 15.3% का इजाफा हुआ। 2021 में 4 लाख 28 हजार 278 केस दर्ज हुए। जिसमें से 31 हजार 677 रेप केस थे। उसमें सबसे ज्यादा महिलाओं के प्रति उत्तर प्रदेश में केस दर्ज हुए। जिस जगह पर योगी जी बहुत बड़ी-बड़ी बातें करते हैं। दूसरे नंबर पर राजस्थान है। इसके अलावा दुख की बात यह है कि कनविक्शन रेट जोकि बढ़ना चाहिए वह कम हो गया। 2020 में कनविक्शन रेट था 29.8 प्रतिशत था। वह कम होकर 28.6 प्रतिशत हो गया है। मैं भाजपा से पूछना चाहती हूं वह कब सुधरेंगे। वह करोड़ों रुपए देकर उन अपराधियों को भी खरीद लेते हैं, जिन पर पहले वह इल्जाम लगाते हैं, ईडी और सीबीआई का रेड डलवाते है। जब उनकी पार्टी में वह शामिल हो जाता है, तो वह सारे केस खत्म हो जाते हैं। आज हालत यह है कि सबसे ज्यादा चुने हुए प्रतिनिधि जिसमें एमएलए एमपी आते हैं। उसमें सबसे ज्यादा बीजेपी के 83 लोग क्रिमिनल रिकॉर्ड वाले है। जिसमें चार यूनियन मिनिस्टर्स संजीव कुमार बालियान, सत्यपाल सिंह, कैलाश चौधरी और अश्विनी कुमार चौबे है। देशभक्ति की बातें करने और बेटियों को आगे बढ़ाने की बात करने वाली बीजेपी की सरकार से हम यह कहना चाहते हैं कि बेटियों के प्रति अपनी जिम्मेदारी को देखिए। हमने कुछ दिन पहले ही देखा एक बच्चे को बीजेपी के नेता ने स्टेशन से चुरा लिया कि बेटा चाहिए। महिलाओं के प्रति कानून व्यवस्था को लेकर बहुत ही सोचनीय और निंदनीय बातें है। इसकी हम घोर निंदा करते हैं। हम यह मांग करते हैं कि अपराधी फांसी को सजा दी जाए। मैं स्मृति ईरानी जी से पूछना चाहूंगी कि बहुत ही महिलाओं को मानती हैं, वह आज कहां है? रोज प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बड़ी-बड़ी बातें करती हैं। इस मामले में उनका रवैया हैं। देश की महिलाओं की अस्मिता को बचाने के लिए क्या कर रही हो। हम मांग करते हैं कि वहां के मुख्यमंत्री तुरंत इस्तीफा दे। जिन अपराधियों ने यह काम किया उनको फांसी की सजा हो।


आम आदमी पार्टी के दिल्ली महिला विंग की प्रदेश अध्यक्ष निर्मला कुमारी ने कहा कि बहुत ही शर्मनाक और दिल को दुखाने वाली घटना है। मोदी सरकार 2014 में बड़े-बड़े नारे देते थे कि बहुत हुआ नारी पर वार अबकी बार मोदी सरकार, लेकिन 2022 में इस देश की जनता और बेटी कह रही है कि बहुत हुआ नारी पर वार अब कभी नहीं चाहिए मोदी सरकार। देश के गृह मंत्री अमित शाह जी से कहती हूं, अगर आप महिलाओं और बेटियों की सुरक्षा नहीं कर सकते तो इस देश की सारी बेटियां आपको अपने पद से त्यागपत्र देने को कह रही है। क्योंकि जो जिम्मेदारी निभाने लायक नहीं है उसको पद पर रहने का कोई औचित्य नहीं बनता। अंकिता भंडारी को न्याय दिलाने के लिए आम आदमी पार्टी की महिला शक्ति अमित शाह जी से इस्तीफा की मांग करती है। हम  युवती को न्याय दिलाने के लिए उनके माता-पिता से के साथ है। इस बेटी की आत्मा को शांति दे देश की समस्त बेटियों के साथ हम सब लोग खड़े हैं और उनकी सुरक्षा से इस तरह से खिलवाड़ नहीं होने देंगे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया