तिरंगा बाईक रैली में सांसदों ने तोड़ा कानून, लोगों ने की कार्रवाई की मांग, मनोज तिवारी ने गलती मानी

नई दिल्ली (अनवार अहमद नूर )दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेताओं ने तिरंगा बाईक रैली में बढ़चढ़कर हिस्सा लिया। दिल्ली के कई स्थानों पर जाम और बसों की काफ़ी किल्लत महसूस की गयी। लोगों ने काफ़ी चर्चाएं दिनभर जारी रखीं। इस तिरंगा रैली में जहां एक ओर विपक्षी पार्टिओं के नेताओ ने भाग नहीं लिया। वहीं दूसरी ओर हाथ में तिरंगा लिए बाइक सवार जब निकले तो उनका जोश भले ही ज्यादा था मगर उन्हें इतना भी होश नहीं रहा कि वह कई क़ानून तोड़ रहे है।


लोगों ने इस रैली के फोटो खूब खींचे और कहा कि ये कहाँ का इंसाफ है कि हाथ में तिरंगा लेकर संसद सदस्य देश का कानून तोड़ें और उन पर कार्रवाई न हो। कई नेता कानून तोड़ने की गलती कर बैठे। आजमगढ़ से सांसद निरहुआ
दिल्ली से सांसद मनोज तिवारी और झारखंड के गोड्डा से सांसद निशिकांत दुबे समेत कई नेता बिना हेलमेट के ही दिल्ली की सड़कों पर निकल पड़े। अब इनके खिलाफ शिकायतों की भरमार हो गयी है। उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी और पीयूष गोयल के साथ तिरंगा बाइक रैली को रवाना किया। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानीअनुराग ठाकुरधर्मेंद्र प्रधान समेत कई केंद्रीय मंत्री और सांसद बाइक पर बैठकर तिरंगा लहराते नज़र आए। हालांकि कुछ नेता सिर पर पगड़ी या भगवा गमछा बांध बाइक दौड़ाते दिखे। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के ट्विटर हैंडल पर बड़ी संख्या में लोग इन सांसदों की तस्वीरवीडियो दिखाकर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। लोग पूछ रहे हैं कि क्या इन्हें कानून तोड़ने की छूट हैकुछ शिकायतों के जवाब में ट्रैफिक पुलिस की ओर से ऐक्शन लिए जाने की बात कही गई है। सोशल मीडिया पर इन नेताओं की तस्वीरें खूब वायरल हो रही हैं। लोग सवाल उठा रहे हैं कि क्या हाथ में तिरंगा लेकर कानून को कुचला जा सकता है ट्रैफिक पुलिस को टैग करते हुए लिखा गया है कि  ''फाइन तो बनता ही है बिना हेलमेट के चाहे सांसद हो चाहे आम आदमी, कानून सबके लिए बराबर होना चाहिए।'' एक सज्जन ने कहा कि ट्रैफिक पुलिस से शिकायत करते हुए लिखा,कि  ''मतलब बिना हेलमेट के दिल्ली में जाया जा सकता है। एक अन्य ने पूछा है कि  ''क्या दिल्ली ट्रैफिक पुलिस चालान काटेगी। नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली से सांसद और भोजपुरी गायक मनोज तिवारी ने अपनी गलती का अहसास करते हुए सॉरी कहा है और चालान भरने की बात कही है। उन्होंने ट्वीट किया, ''आज हेलमेट नहीं पहनने के लिए बहुत दुख है। मैं चालान भरूंगा। 


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया