इंदर मेघवाल के हत्यारे को फांसी दिए जाने और देश में सबको समान शिक्षा व्यवस्था सुनिश्चित कर देश में संविधानिक सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने हेतु ज्ञापन

 

सेवा में,

   महामहिम राष्ट्रपति महोदय   भारत सरकार नई दिल्ली

           ज्ञापन द्वारा 

श्रीमान उप जिलाधिकारी महोदय

 तहसील लोनी गाजियाबाद।

विषय, इंदर मेघवाल के हत्यारे को फांसी दिए जाने और देश में सबको समान शिक्षा व्यवस्था सुनिश्चित कर देश में संविधानिक सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने के संबंध में: 

 महोदय,

   अवगत कराना है कि राजस्थान के जालौर जिले के सुराणा गांव मैं स्कूल अध्यापक छैल सिंह के द्वारा 25 जुलाई 2022 को जन्म जाति धर्म आधारित अपराधिक नफरत दूषित मानसिकता से स्कूल में रखे पानी का घड़ा( मटकी) छूने के कारण अनूसूचित जाति के अबोध बालक इंद्र मेघवाल को बुरी तरह मारा-पीटा गया जिससे अहमदाबाद हॉस्पिटल में एडमिट कराया  जिसके उक्त बाद अबोध बालक  इंद्र  मेघवाल ने दिनांक 13 अगस्त 2022 को तड़पते हुए आखिरी सांस लेते हुए दम तोड़ दिया ।





महोदय भारत का संविधान जन्म जाती लिंग भाषा धर्म आधारित किसी भी तरह के भेदभाव को निश्चित करता है शिक्षण संस्थाएं देश के भविष्य का निर्माण करती है अध्यापक अर्थात गुरु की गोदी में सर्जन और विनाश दोनों पलते हैं अध्यापक द्वारा जन्म जाती छूत अछूत की जातिगत मानसिकता से अनुसूचित जाति के अबोधबालक को पानी की प्यास बुझाने के लिए स्कूल में रखी मटकी छूने पर

इंद्र मेघवाल की निर्मम हत्या जघन्य अपराध है। जो अध्यापक की दूषित अपराधिक जातिगत मानसिकता का परिचायक है। शिक्षा के निजीकरण के बाद देश की विभिन्न हिस्सों से फीस ना भरने के लिए उत्तर प्रदेश में अबोध बालक की हत्या शिक्षिका को जलाकर मार देना न्याय प्राप्ति के लिए संघर्ष करने के लिए जला देना आम बात है जिससे पूरे सामाजिक आर्थिक राजनीतिक और शैक्षणिक रूप से कमजोर वंचित बहिष्कृत कमजोर समाज में हताशा और निराशा की स्थिति है अपने संवैधानिक अधिकारों के प्रति चिंता है जातिगत आपराधिक मानसिकता की लोगों के खिलाफ सख्त से सख्त कानूनी कार्रवाई की जानी बहुत आवश्यक है हम सभी क्षेत्रवासी 9 वर्ष के छोटे अबोध बच्चे को न्याय प्राप्त हो की मांग के लिए श्रद्धांजलि देते हुए दोषी अपराधी के लिए सख्त से सख्त कानूनी कार्रवाई कर अध्यापक को, फांसी की सजा दी जाए तथा पीड़ित परिवार को 5000000 की अविलंब सहायता और परिवार के सदस्य को सरकारी विभाग में पक्की नौकरी दिए जाने की मांग करते हैं तथा देश में भविष्य में अन्य किसी दलित पिछड़े वर्ग के साथ जातिगत मानसिकता से कोई अपराध न हो उसके लिए संवैधानिक सुरक्षा सुनिश्चित करने की मांग करते हैं

 अतः महोदय से निवेदन है कि ज्ञापन पर संज्ञान लेकर अविलंब अबोधबालक इंद्र मेघवाल की हत्यारे अध्यापक के खिलाफ सख्त से सख्त कानूनी कार्रवाई सुनिश्चित कर फांसी की सजा दी जाए तथा उसके परिजनों को अविलंब आर्थिक मदद में सरकारी नौकरी देकर भविष्य के लिए दलित पिछड़े कमजोर वर्ग के लोगों के खिलाफ कोई ऐसी अपराधिक दूषित मानसिकता से कार्रवाई ना हो उसके लिए संवैधानिक सुरक्षा सुनिश्चित करने के प्रावधान किए जाएं।

 निवेदक

सुरेंद्र सिंह ऐडवोकेट

अध्यक्ष

लोनी बार एसोसिएशन लोनी गाजियाबाद

विनोद कुमार एडवोकेट

पूर्व अध्यक्ष लोनी तहसील बार एसोसिएशन,

दर्शन सिंह प्रधान

राहुल प्रधान, विजय सिंह सभासद,

चरण सिंह सभासद, सुमन प्रधान, महेश प्रधान, राजेंद्र सिंह सेठ, अजयपाल सिंह गुर्जर,  धर्मपाल प्रधान, देविंद्र प्रधान, एड जयदीप सिंह, एड गौरव प्रधान, सुंदर चंदेल, मनोज कुमार, अनिल कर्दम एड, एड विजय आनंद, एड जितेंद्र कुमार, एड वेदपाल सिंह, एड नीरज कुमार, विनोद कुमार, एड पवन कुमार, हर्ष कुमार, रोनक सिंह, अजयपाल सिंह, एड मांगेराम, एड परविंदर सिंह, एड आमिर हुसैन, देव सागर, एड कामरान, अनिल लक्खा, डा राजेश कुमार, मोनू मुंडे, रामू प्रधान, बबलू , कृष्ण पाल, एड सुरेंद्र सिंह, हरिश कुमार, हरेंद्र सिंह, डा टीटू सिंह, महेंद्र प्रधान, वीरेंद्र सिंह, जितेंद्र कुमार 

 आदि

समस्त समस्त लोनी क्षेत्र वासी प्रबुद्ध नागरिक

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया