मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक फिर मोदी सरकार पर भड़के, कहा- किसानों के बाद जवानों को कर रही तबाह; रिटायरमेंट प्लान बताया|

 बेताब समाचार एक्स्प्रेस के लिए मुस्तकीम मंसूरी की रिपोर्ट, 

मैं सच बोलता रहूंगा और किसानों एवं जवानों के हक़ में आवाज़ उठाता रहूंगा,राज्यपाल के पद से हटने के बाद मैं कोई चुनाव नहीं लड़ूंगा, सत्यपाल मलिक

पानीपत, मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने एक बार फिर से केंद्र सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने रविवार को पानीपत में एक कार्यक्रम में कहा कि पहले सरकार ने किसानों को बर्बाद किया और अब वह सैनिकों को तबाह कर रही है। उन्होंने कहा कि अग्निपथ स्कीम गलत है और इससे सैनिकों को बड़ा नुकसान होगा। पानीपत के सींक गांव में आयोजित कार्यक्रम में मलिक खाप के एक कार्यक्रम में उन्होंने यह बात कही। इस दौरान समाज के लोगों ने गवर्नर का स्वागत भी किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सत्यपाल मलिक ने कहा कि आज देश में न तो किसान खुश है और न ही जवान खुश है।


उन्होंने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि पहले उसने किसानों को बर्बाद किया और अब जवानों का नंबर है। यही नहीं किसान आंदोलन को भी उन्होंने आधी लड़ाई जीतने जैसा ही बताया। उन्होंने कहा कि किसानों ने आधी लड़ाई ही जीती है क्योंकि अब भी एमएसपी को लेकर कानून नहीं बन सका है। उन्होंने कहा कि सैनिकों की भर्ती के लिए 4 साल की अग्निपथ स्कीम गलत है। राज्यपाल ने कहा कि एक सैनिक 4 साल के लिए भर्ती किया जाएगा और उनमें से 6 महीने तो वह छुट्टी पर ही रहेगा। इसके अलावा 4 साल बाद जब उसे सेवामुक्त किया जाएगा तो वह कोई और काम करने की स्थिति में नहीं रहेगा,

इस दौरान सत्यपाल मलिक ने अपने रिटायरमेंट प्लान के बारे में भी बताया। सत्यपाल मलिक ने कहा कि मेरा राज्यपाल के तौर पर कार्यकाल 2 से 3 महीने में खत्म हो जाएगा। इसके बाद भी मैं सच बोलता रहूंगा और किसानों एवं जवानों के हक में आवाज उठाता रहूंगा। उन्होंने यह भी कहा कि राज्यपाल के पद से हटने के बाद मैं कोई चुनाव नहीं लड़ूंगा। लेकिन समाज के लिए अपनी आवाज उठाता रहूंगा। बता दें कि इससे पहले भी सत्यपाल मलिक कई मौकों पर केंद्र सरकार की आलोचना कर चुके हैं। किसान आंदोलन के दौरान तो वह काफी मुखर थे और पीएम नरेंद्र मोदी की उन्होंने सीधे तौर पर आलोचना की थी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

सिविल डिफेंस में काम करने वाली राबिया की हत्या करके हत्यारा हरियाणा से दिल्ली के कालंदिकुंज थाने में आकर क्यों करता है सिरेंडर, खड़े हो रहे हैं कुछ सवाल?

लापता दो आदिवासी युवकों की संदिग्ध मौत की तुरंत जांच की मांग