बदायूं के थाना अलापुर कि पुलिस का मानवता को शर्मसार करने वाला चेहरा आया सामने, बैरिस्टर असदुद्दीन ओवैसी ने मामले का संज्ञान लेकर जिला अध्यक्ष बरेली मुजम्मिल रजा खां एडवोकेट को न्याय दिलाने की सौंपी जिम्मेदारी,

 बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए बरेली से मुस्तकीम मंसूरी की रिपोर्ट, 

अपर पुलिस महानिदेशक से पीड़ित परिवार को साथ लेकर एम आई एम जिलाध्यक्ष मुजम्मिल रजा खां ने पुलिस के अनैतिक कृत्य से कराया अवगत|

बैरिस्टर असदुद्दीन ओवैसी के निर्देश पर पीड़ित परिवार को 50,000 नगद की आर्थिक सहायता के साथ ही पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने का दिया आश्वासन, मुज़म्मिल रजा़ 

                बरेली, जनपद बदायूं के थाना अलापुर, वार्ड नंबर 12 ककराला की रहने वाली नजमा पत्नी यूनिस शाह के पुत्र रेहान को आलापुर थाना की पुलिस ने 2 मई 2022 को फर्जी एनकाउंटर करने के इरादे से उठा लिया था, प्रार्थनी के पुत्र को पुलिस द्वारा बेरहमी से पीटा गया और हद तो तब हो गई जब पुलिस द्वारा उसके गुप्तांगों में गंडा डाला गया।




जिससे पुलिस का मानवता को शर्मसार करने वाला चेहरा सामने आ गया, जानकारी होने पर पीड़िता जब थाने पहुंची तब पुलिस ने उसके लड़के को छोड़ने के एवज में ₹5000 रिश्वत लेकर छोड़ तो दिया, परंतु घटना में शामिल दरोगा और उसके साथ सिपाहियों ने  पीड़ित परिवार को धमकाते हुए कहा अगर पुलिस में इसकी शिकायत की तो गंभीर परिणाम भुगतने होंगे, पुलिस की तमाम धमकियों के बावजूद पीड़िता ने क्षेत्र अधिकारी दातागंज बदायूं को घटना से अवगत कराते हुए दोषी दरोगा सहित चार सिपाहियों और दो अज्ञात के खिलाफ मुकदमा कायम करने की तहरीर दी तब क्षेत्र अधिकारी दातागंज के आदेश पर ककराला चौकी पर तैनात चार सिपाहियों और दरोगा सहित दो अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया, उधर उक्त मामले को मीडिया द्वारा लगातार उछाला जाता रहा वही दोषी दरोगा और उसके साथी सिपाही लगातार पीड़िता को डराने और धमकाने का कार्य करते रहे, यही कारण था कि पीड़िता का मुकदमा उचित धाराओं में ना लिखकर सच्चाई को अधिकारियों से छुपाया गया, और आरोपी लगातार जघन्य अपराध करने के बाद भी खुलेआम घूमते रहे जब घटना की जानकारी मीडिया के माध्यम से ए आई एम आई एम प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली के द्वारा राष्ट्रीय अध्यक्ष बैरिस्टर असदुद्दीन ओवैसी को मामले से अवगत कराया गया,

तब बैरिस्टर असदुद्दीन ओवैसी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए जनपद बरेली के जिला अध्यक्ष एडवोकेट मुजम्मिल रजा खां के नेतृत्व में एक शिष्टमंडल पीड़िता से मिलने के लिए ककराला बदायूं भेजा शिष्ठ मंडल के लोगों ने मामले की पूरी जानकारी जुटाने के बाद यह पाया कि पुलिस द्वारा मानवता की सारी हदों को पार करते हुए जो जघन्य अपराध किया गया है, वह सरासर मानवता को शर्मसार करने वाला अपराध है, शिष्टमंडल का नेतृत्व कर रहे ए आई एम आई एम के जिला अध्यक्ष बरेली एडवोकेट मुजम्मिल रजा खान ने पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने और उनकी आर्थिक सहायता करने का आश्वासन देकर पीड़ित परिवार को बरेली बुलाया था, आज पीड़ित परिवार ने बरेली पहुंच कर ए आई एम आई एम के जिला अध्यक्ष एडवोकेट मुजम्मिल रजा खां के साथ अपर पुलिस महानिदेशक से भेंट कर पूरी घटना से अवगत कराते हुए पीड़िता को न्याय दिलाने की मांग की क्योंकि आलापुर थाना पुलिस ने घटना को उच्च अधिकारियों से छुपाया था और पीड़ित परिवार पर दबाव बनाकर मामले को रफा-दफा करना चाहते थे परंतु आज अपर पुलिस महानिदेशक ने घटना पर तत्काल संज्ञान लेते हुए पुलिस अधीक्षक बदायूं से फोन पर वार्ता कर पीड़ित को न्याय दिलाने और हर संभव पीड़ित परिवार की मदद करने का आश्वासन दिया वही पीड़ित परिवार को ए आई एम आई एम के राष्ट्रीय अध्यक्ष बैरिस्टर असदुद्दीन ओवैसी के निर्देश पर ए आई एम आई एम बरेली की जिला यूनिट द्वारा पीड़ित परिवार को तत्काल ₹50000 की नकद आर्थिक सहायता दी गई, यहां आपको बताते चलें जो मुस्लिम समाज के कई बड़े-बड़े सामाजिक और मुस्लिम धार्मिक संगठन और कई मुस्लिम राजनीतिक संगठनों के बड़े-बड़े पदाधिकारी होने का दावा तो करते हैं परंतु पीड़िता की मदद के लिए अब तक कोई आगे नहीं आया, ऐसे में ए आई एम आई एम के पदाधिकारियों ने पीड़ित परिवार की आर्थिक मदद के साथ ही साथ कानूनी लड़ाई लड़ने का आश्वासन देकर आज अपर पुलिस महानिदेशक से उनके कार्यालय पर मिलकर न्याय की उम्मीद को जिंदा रखा है, आज अपर पुलिस महानिदेशक से जिला अध्यक्ष एडवोकेट मुजम्मिल रजा खान के नेतृत्व में  सईद जावेद ,मेजर रेहान, आमिर जमाली, मोहसिन कुरेशी ,आबिद हसन खां, शुजा नकवी,  अहमद अब्दुल्ला ,रानू अल्वी, आरिफ अल्वी ,आदि ने अपर पुलिस महानिदेशक से मुलाकात के बाद पीड़ित पक्ष के साथ पत्रकारों से बात करते हुए कहा

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया