अयोध्या तीर्थ ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर केजरीवाल ने मुसलमानों के जख्मों पर नमक छिड़का.

  श्री राम कॉलोनी खजूरी में मजलिस कार्यालय का उद्घाटन

 प्रेस विज्ञप्ति 3 दिसंबर

 नई दिल्ली: जब केजरीवाल सरकार में नहीं थे, तो वे कहते थे कि मेरी दादी कहती थीं कि मीराराम एक मस्जिद को गिराकर बने मंदिर में नहीं रह सकते। पूरी ट्रेन तीर्थयात्रियों से भरी है। इससे पता चलता है कि प्रमुख संघी मानसिकता कितनी है दिल्ली के मंत्री ने ऐसा करके मुसलमानों के जख्मों पर मरहम लगाया है। ये विचार ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-ए-मुस्लिमीन, दिल्ली ने व्यक्त किए।


मजलिस के कार्यालय के उद्घाटन के अवसर पर दर्शकों को संबोधित करते हुए पार्टी के अध्यक्ष श्री राम कॉलोनी वार्ड ने कहा कि केजरीवाल ने हमारे साथ विश्वासघात किया है। बासी प्रतिशत मुसलमानों ने उन्हें वोट दिया है। कलीम अल-हफीज ने कहा कि उन्हें अयोध्या जाने या राम लला के आने से कोई आपत्ति नहीं है लेकिन यह होना चाहिए सरकार के पैसे से नहीं होगा। भूल गए?  इसी तरह जब केजरीवाल सरकार में नहीं थे तो शराब का विरोध करते थे।भाजपा से असहमति तो दिखावा है। लेकिन दिल्ली की जनता एमसीडी चुनाव में सबक जरूर सिखाएगी। यहां दो प्राथमिक स्कूल हैं, अस्पताल भी नहीं है। एक दूरस्थ पड़ोस क्लिनिक। परिषद के अध्यक्ष ने पाया कि पार्षद यहां क्या कर रहे हैं। वे अपना चेहरा बदलने के लिए नहीं बल्कि अपनी किस्मत और छवि बदलने आए हैं। पवित्र कुरान के पाठ के साथ कार्यक्रम शुरू हुआ। पूर्व जिलाध्यक्ष सरताज आलम सैफी सभा को महासचिव शाह आलम, कोषाध्यक्ष मुजफ्फर हुसैन गजाली और संगठन सचिव अब्दुल गफ्फार सिद्दीकी ने भी संबोधित किया.

 अब्दुल गफ्फार सिद्दीकी

 मीडिया प्रभारी

  8287421080

 प्रकाशन के लिए

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र

ज़िला पंचायत सदस्य पद के उपचुनाव में वार्ड नंबर 16 से श्रीमती जसविंदर कौर की शानदार जीत