रेल संरक्षा आयुक्त ने मार्गवर्ती सभी बडे़ एवं छोटे पुलों, समपारों, कर्वों, प्वाइंट्स, स्टेशन पैनलों आदि का मोटर ट्राॅली के द्वारा गहन निरीक्षण किया।

 पूर्वोत्तर रेलवे, इज्जतनगर मंडल,(प्रेस विज्ञप्ति )बरेली 28 अक्टूबर, 2021ः रेल संरक्षा आयुक्त, पूर्वोत्तर परिक्षेत्र, लखनऊ मोहम्मद लतीफ खान ने मुख्य प्रशासनिक अधिकारी/निर्माण श्री राजीव कुमार, मंडल रेल प्रबंधक श्री आशुतोष पंत, मुख्य इंजीनियर निर्माण (पश्चिम) श्री ए.के. सिंह, मुख्य इंजीनियर (टीएमसी) श्री सुनील कुमार गुप्ता, रेल विकास निगम लिमिटेड के मुख्य परियोजना अधिकारी श्री राजेश श्रीवास्तव एवं मंडल के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ नव आमान परिवर्तित मैलानी-शाहगढ़ (44.26 किमी) रेल खंड के निरीक्षण के अंतर्गत प्रथम दिवस 27 दिसम्बर, 2021 को मैलानी- पूरनपुर किया था तथा दूसरे दिवस 28 दिसम्बर, 2021 को पूरनपुर- शाहगढ़ का गहन निरीक्षण किया। रेल संरक्षा आयुक्त ने मार्गवर्ती सभी बडे़ एवं छोटे पुलों, समपारों, कर्वों, प्वाइंट्स, स्टेशन पैनलों आदि का मोटर ट्राॅली के द्वारा गहन निरीक्षण किया। 28 दिसम्बर, 2021 को रेल संरक्षा आयुक्त विशेष ट्रेन द्वारा शाहगढ़ - मैलानी रेल खंड का गति परीक्षण 122 प्रति घंटा की गति से गति परीक्षण किया।






स्पेशल गाड़ी शाहगढ़ से 16.06 बजे चलकर मैलानी 16:36 बजे पहुंचीl विदित हो कि मैलानी-पीलीभीत (67 किमी) रेल खंड का आमान परिवर्तन कार्य की स्वीकृति रु. 571 करोड़ की अनुमानित लागत से प्रदान की गई थी। आमान परिवर्तन कार्य हेतु पीलीभीत-मैलानी रेल खंड को 30 मई, 2018 बंद कर दिया गया था। प्रथम चरण में मैलानी-शाहगढ़ (44.26 किमी) रेल खंड का आमान परिवर्तन कार्य पूर्ण कर लिया गया है। इस रेल खंड पर 7 बड़े, 25 पुल, 11 समपार एवं 9 सीमित ऊँचाई वाले पुल बनाये गये हैं। साथ ही सेहरामऊ, दुधिया खुर्द, पूरनपुर तथा शाहगढ़ स्टेशनों का नया भवन बनाया गया है। इसके अतिरिक्त पूरनपुर में माल गाड़ियों के लिए रेक हैंल्डिंग साइडिंग की व्यवस्था की गई।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया