अमर शहीद त्रिलोकी नाथ जलोटा की जयंती एवं श्रद्धांजलि समारोह।

"वतन पर मिटने वालों का सदा बाकी निशां रहेगा।" 

त्रिलोकी नाथ जलोटा मेमोरियल अवार्ड 2021 से सम्मानित हुईं हस्तियां। 

नई दिल्ली (अनवार अहमद नूर/शांति मिशन न्यूज़) भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी के साथ शहीद हुए, उनके सुरक्षा कर्मी, अमर शहीद श्री त्रिलोकी नाथ जलोटा की जयंती को परम्परागत रूप से मनाते हुए जहां उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गयी, वहीं अनेक उत्कृष्ट कार्य करने और समाज सेवा करने वाले प्रमुख गणमान्य व्यक्तियों को अवार्ड देकर सम्मानित किया गया। एवं जन्म दिवस का केक जिस पर "टीएच 24 न्यूज़" सुंदर रूप में लिखा था शहीद की बेटी शिवानी जलोटा और शहीद की नातिन प्रियंका ने सबके साथ मिलकर काटा और सभी को वितरित किया। 




नई दिल्ली के आईटीओ पर एशियन पत्रिका के कार्यालय  पर आयोजित शहीद जयंती समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में पत्रकारिता जगत के स्तम्भ रहे हबीब अख्तर (आज समाज दैनिक), विजय शंकर चतुर्वेदी (राष्ट्र टाइम्स दैनिक), सुजीत राणा (राजनीतिज्ञ एवं सामाजिक कार्यकर्ता), अजय भसीन (जनसेवक), सहित अनेक पत्रकारों साहित्यकारों लेखकों और मानव अधिकार कार्यकर्ताओं व जनसेवकों ने भाग लिया। संचालन शांति मिशन के उपसंपादक अनवार अहमद नूर ने किया।
समारोह की आयोजक शिवानी जलौटा सोनी (शहीद की बेटी और संपादक  टी एच 24 न्यूज़) और सहयोगी सईद अहमद (संपादक वेब वार्ता न्यूज़ एजेंसी) ने अनेक लोगों को सम्मानित और उपस्थित जनों का आभार व्यक्त किया कि उन्होंने आतिथ्य स्वीकार करके हमारा मान बढ़ाया और अमर शहीद त्रिलोकी नाथ जलौटा को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि हबीब अख़्तर ने शहीद त्रिलोकी नाथ जलोटा को याद करते हुए कहा कि देश के प्रधानमंत्री की रक्षा करते हुए उन्होंने अपने जीवन का बलिदान दिया। और जब वह शहीद हुए तब उनकी बेटी (शिवानी) पैदा नहीं हुई थीं अब उस बेटी और नातिन (प्रियंका जलोटा) के दुख दर्द को समझा जा सकता है कि जिसने पिता व नाना को न देखा हो। उसके बावजूद वह अपने पिता की जयंती मनाती है। इसलिए वह महान हैं। हम उनको अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं।

अनवार अहमद नूर ने इस शेर के साथ शहीद को श्रद्धांजलि दी कि - शहीदों की याद में हर बरस लगेंगे मेले, वतन पर मिटने वालों का सदा बाकी निशां रहेगा।

सुजीत राणा ने कहा कि शहीद त्रिलोकी नाथ जलोटा की जयंती पर आकर मैं अपने आप को गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं। मैं शिवानी का आभार प्रकट करते हुए, अमर शहीद को अपना नमन प्रस्तुत करता हूं।

सईद अहमद ने कहा कि हर वर्ष 14 नवंबर को शहीद त्रिलोकी नाथ जलोटा की जयंती मनाते हुए याद करके समाज में उत्कृष्ट कार्य कर रहे कुछ लोगों को "त्रिलोकी नाथ जलोटा मेमोरियल अवार्ड" दिया जाता है। और इस वर्ष भी 2021 के अवार्ड दिए जा रहे हैं।

सर्वप्रथम मुख्य अतिथियों को शाल ओढ़ाकर और मेमंटो प्रदान करके सम्मानित किया गया। उसके पश्चात, फिरोज पाल (मानव अधिकार संगठन), आस्मां ख़ान (एडवोकेट एंड जर्नलिस्ट), अनवार अहमद नूर (वरिष्‍ठ पत्रकार एवं उपसंपादक शांति मिशन), धर्मेंद्र लोधी (फोटो जर्नलिस्ट), ब्रजेश कुमार (पत्रकार) सलमान (संपादक) परवीन (संपादक) अजय सोनी (वेब वार्ता न्यूज़ एजेंसी), इमरान कलीम (संपादक एशियन पत्रिका) बिलाल अहमद, फाहद खान और गौरव सहित अनेक व्यक्तियों को सम्मानित किया गया। मुख्य अतिथियों और उपस्थित जनों ने मिलकर शहीद की बेटी, शिवानी जलोटा और नातिन प्रियंका जलोटा तथा सईद अहमद को सम्मानित किया और उनको इस आयोजन के लिए बधाई एवं धन्यवाद दिया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

सिविल डिफेंस में काम करने वाली राबिया की हत्या करके हत्यारा हरियाणा से दिल्ली के कालंदिकुंज थाने में आकर क्यों करता है सिरेंडर, खड़े हो रहे हैं कुछ सवाल?

लापता दो आदिवासी युवकों की संदिग्ध मौत की तुरंत जांच की मांग