सरकारी खर्चे पर धार्मिक कार्यक्रम आयोजित करना लोकतंत्र का अपमान है

 कोंडली विधानसभा की मुल्ला कॉलोनी में एम आई एम सदर का स्वागत, दरियागंज में वार्ड कार्यालय का उद्घाटननई दिल्ली।  सरकार द्वारा प्रायोजित दिवाली कार्यक्रम आयोजित करना और इसमें सरकार की भागीदारी, राज्य द्वारा संचालित मीडिया कवरेज, केजरीवाल के संघ के चेहरे को उजागर करता है।


एक धर्मनिरपेक्ष देश में, सरकार द्वारा एक धर्म का प्रचार करना लोकतंत्र का अपमान है और शपथ के खिलाफ है कि शासक संविधान के नाम पर लेते हैं। अल-हफीज ने कुंडली विधानसभा के मुल्ला कॉलोनी के स्वागत कार्यक्रम में श्रोताओं को संबोधित किया जहां सैकड़ों लोगों को मजलिस की सदस्यता मिली। हमारा देश इस समय बहुत ही नाजुक दौर से गुजर रहा है। महंगाई और बेरोजगारी के अलावा सबसे बड़ी समस्या मुस्लिम अल्पसंख्यकों की बढ़ती नफरत है। धर्मनिरपेक्ष दल हैं जिन्हें हमारे वोट की जरूरत है लेकिन हमारे नहीं। कलीम अल-हफीज ने कहा मुस्लिम, दलित  गरीबों और कमजोरों का उत्पीड़न बढ़ रहा है। सामाजिक रूप से ये वर्ग अन्याय के शिकार हैं। मजलिस का उद्देश्य मुसलमानों और कमजोरों को सशक्त बनाना है। मुसलमान अपनी अराजकता के कारण अप्रभावी हो गए हैं। यथास्थिति को जानें और अपना खेलें देश के विकास में हिस्सा है, लेकिन यह तभी संभव है जब मुसलमानों को राजनीतिक रूप से उनका हिस्सा मिले। राष्ट्रपति ने कहा कि एक तरफ देश में महंगाई और बेरोजगारी बढ़ रही है। लेकिन देश के लिए इससे भी ज्यादा खतरनाक और विनाशकारी है मुसलमानों से बढ़ती नफरत, शासक वर्ग खुद मुसलमानों से नफरत करता है, तथाकथित धर्मनिरपेक्ष दल भी बहुमत के डर से मुसलमानों का नाम अपनी जुबान पर नहीं लाते। वह चाहती हैं कि मुसलमान उन्हें वोट दें लेकिन शिक्षा के लिए उनका कोई एजेंडा नहीं है और मुसलमानों का विकास। कलीम अल-हफीज ने कहा कि पिछले बीस वर्षों में पुरानी दिल्ली की राजनीति में कुछ भी नहीं बदला है। लोग ही हैं जिनकी पार्टी बदल गई है, कभी वे लोगों के दिलों में थे, कभी कांग्रेस से और आज वे आम आदमी पार्टी का झंडा लहरा रहे हैं।  लोगों का कोई नैतिक मूल्य नहीं है। आज हमारे नेतृत्व को मजबूत करने और अपना हिस्सा हासिल करने की आवश्यकता है। कार्यक्रम में मजलिस के राज्य और स्थानीय अधिकारियों के अलावा बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया।


 प्रकाशन के लिए

 अब्दुल गफ्फार सिद्दीकी

 मीडिया प्रभारी

 मजलिस दिल्ली

 8287421080

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया