प्रॉपर्टी टैक्स में 2-3% बढ़ोतरी और सरकारी आवास पर 5% टैक्स बढ़ाया, एमसीडी से बिल्डिंग प्लान बनवाने पर 10% टैक्स बढ़ाया- दुर्गेश पाठक

नई दिल्ली: 27 नवंबर 2021आम आदमी पार्टी के एमसीडी प्रभारी दुर्गेश पाठक ने गुरुवार को बयान जारी कर कहा कि साउथ और नॉर्थ एमसीडी के बाद अब ईस्ट एमसीडी ने भी अपने बजट में टैक्स का बोझ बढ़ा दिया है। प्रॉपर्टी टैक्स में 2-3% बढ़ोतरी की और सरकारी आवास पर 5% टैक्स बढ़ाया। एमसीडी से बिल्डिंग प्लान बनवाने पर 10% टैक्स बढ़ाया। बैटरमेंट के नाम पर 15% टैक्स लगाया और प्रोफेशनल टैक्स के नाम पर 1200 से 3000 रुपए का टैक्स लगाया। एमसीडी से नक्शा पास कराने पर अब 5 रुपए प्रति वर्ग मीटर की जगह 50 रुपए प्रति वर्ग मीटर देना होगा। उन्होंने कहा कि सब मानते हैं कि अरविंद केजरीवाल ने अपने पूरे शासन में एक भी नया टैक्स दिल्ली की जनता पर नहीं लगाया। जो टैक्स पहले से थे उन्हें या तो कम कर दिया या पूरी तरह खत्म कर दिया। भाजपा शासित एमसीडी पहली सरकार होगी जिसका बजट हर साल घटता जा रहा है। आम आदमी पार्टी इसका कड़ा विरोध करती है।


आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता व एमसीडी प्रभारी दुर्गेश पाठक ने कहा कि जब भी कोई राज्य अपना बजट पेश करता है, तो उस राज्य के सभी निवासी बहुत ही उत्साह और आशा की नजर के साथ देखते हैं। आपने देखा होगा कि पिछले एक हफ्ते के अंदर पहले भाजपा शासित साउथ एमसीडी का बजट आया फिर नॉर्थ एमसीडी का बजट आया और अब ईस्ट एमसीडी का बजट आया है। 


जब साउथ एमसीडी का बजट आया तो आपने देखा कि उसमें कई तरह के टैक्स बढ़ा दिए गए। ऐसा कोई वर्ग नहीं छोड़ा जिसपर टैक्स नहीं लगाया हो। आपने नॉर्थ एमसीडी का बजट देखा कि शायद नॉर्थ का बजट ही बेहतर हो। लेकिन नॉर्थ एमसीडी का उससे भी बुरा हाल रहा। यह पहली ऐसी सरकार होगी जिसमें हर साल बजट घटता जा रहा है। इस बार भी नॉर्थ एमसीडी ने अपना बजट घटा दिया। तो जनता को उम्मीद थी कि शायद ईस्ट एमसीडी का बजट सही हो। दुर्भाग्य से ईस्ट एमसीडी ने भी वही रास्ता अपनाया जो साउथ एमसीडी और नॉर्थ एमसीडी ने अपनाया।


उन्होंने कहा कि दिल्ली में अरविंद केजरीवाल की सरकार है, सभी के अलग विचार होते हैं, लेकिन एक बात से हर कोई सहमति रखता है कि अरविंद केजरीवाल ने अपने पूरे शासन में एक भी नया टैक्स दिल्ली की जनता पर नहीं लगाया। किसी भी टैक्स में कोई बढ़ोतरी नहीं की। इतना ही नहीं, जो पहले से टैक्स लगे थे उनको या तो कम कर दिया या पूरी तरह खत्म कर दिया। 


बजट में बढ़े टैक्स पर बात करते हुए दुर्गेश पाठक ने कहा कि ईस्ट एमसीडी के बजट के अनुसार यदि आज आप कोई संपत्ति खरीदते हैं तो उस पर इन्होंने 2-3% टैक्स बढ़ा दिया है। सरकारी आवास है तो उस पर 5% का टैक्स बढ़ा दिया है। अगर आप एमसीडी से बिल्डिंग प्लान बनवाने जाते हैं तो उस पर 10% की बढ़ोतरी कर दी है। यह बेटरमेंट टैक्स क्या होता है? यह तो पूरी तरीके से सरकार की जिम्मेदारी होती है लेकिन ईस्ट एमसीडी अपने नागरिकों से बैटरमेंट टैक्स के तौर पर 15% टैक्स लेगी।


पिछले साल यह लोग प्रोफेशनल टैक्स लेकर आ रहे थे। प्रोफेशनल टैक्स क्या होता है मैं आपको बता दूं। जो भी कामकाजी लोग हैं, चाहे वह लॉयर हो, अकाउंटेंट हो या डॉक्टर हो, उनपर एमसीडी बहुत समय से प्रोफेशनल टैक्स लगाने का प्लान बना रही है। पिछले साल साउथ एमसीडी ने इसको लागू किया और अब ईस्ट एमसीडी अपने बजट के प्रस्ताव में इसको लेकर आई है। तो ईस्ट एमसीडी के अंदर जितने भी डॉक्टर हैं, अकाउंटेंट हैं, लॉयर हैं, टीचर हैं, सभी को 1200 रुपए से लेकर 3000 रुपए देने होंगे। वहीं यदि आप एमसीडी में नक्शा पास करवाने जाते हैं तो 50 वर्ग मीटर तक की संपत्ति पर पांच रुपए से बढ़ाकर पचास रुपए प्रति वर्ग मीटर देना होगा। वहीं 50 वर्ग मीटर से अधिक की संपत्ति पर 100 रुपए प्रति वर्ग मीटर देना होगा।


एमसीडी की स्वच्छता का जिक्र करते हुए आप नेता ने कहा कि ईस्ट एमसीडी स्वच्छता के मामले में इतनी गंदी है कि खुद मोदी जी के स्वच्छता सर्वे में यह 48वें स्थान पर रही। ईस्ट एमसीडी की जनता को लगा कि ईस्ट एमसीडी को कैसे साफ किया जाए, भारतीय जनता पार्टी इसपर कोई चर्चा करेगी। गाजीपुर का जो पहाड़ है, हर दिन कई फीट बढ़ता चला जा रहा है। उसको कम करने का कोई प्रस्ताव कोई विचार किया जाएगा। वह नहीं दिखा। यह दिखा कि भाजपा ने कहा कि सभी के टैक्स से जो भी पैसा आएगा उसका 5% एमसीडी के पार्षद रख लें। इन्होंने अपने बजट में पार्षदों का फंड एक करोड़ प्रति पार्षद रखा।


आपने जनता के ऊपर टैक्स का बोझ लाद दिया और अपने पार्षदों को सुविधा दे दी। अब उनका बस एक ही विचार है कि आखरी साल चल रहा है, केवल तीन-चार महीने की नौकरी बची है जितना लूट सकते हैं दिल्ली की जनता को उतना लूटने लूट लें। मैंने भाजपा के एक नेता से पूछा कि इतना टैक्स क्यों बढ़ा रहे हो तो उनका यह कहना था कि अब आखरी समय बचा है जितना पैसा खा सकते हैं खा लें। लेकिन आम आदमी पार्टी इस बढ़े हुए टैक्स का विरोध करती है। हम दिल्ली वालों के बीच रहते हैं हमें पता है कि दिल्लीवालों पर क्या बीत रही है। कोरोना के कारण सबकी नौकरियां चली गई हैं। सबको बहुत नुकसान हुआ है और ऐसी स्थिति में अगर आप टैक्स बढ़ाएंगे तो आप सरकार का नहीं बल्कि यमराज का काम कर रहे हैं। दिल्ली वाले इसको समझ रहे हैं, सब देख रहे हैं और आने वाले चुनाव में भारतीय जनता पार्टी रूपी यमराज का वध करेंगे

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र

ज़िला पंचायत सदस्य पद के उपचुनाव में वार्ड नंबर 16 से श्रीमती जसविंदर कौर की शानदार जीत