सपा के राष्ट्रीय महासचिव पूर्व मंत्री इंद्रजीत सरोज ने जनपद पीलीभीत का दौरा कर जमीनी हकीकत का आकलन किया

 सपा के राष्ट्रीय महासचिव पूर्व मंत्री इंद्रजीत सरोज ने जनपद पीलीभीत का दौरा कर जमीनी हकीकत का आकलन किया

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए पीलीभीत से मुस्तकीम मंसूरी की रिपोर्ट


पीलीभीत पहुंचने पर इंद्रजीत सरोज का जगह-जगह सपा कार्यकर्ताओं ने किया जोरदार स्वागत

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व पूर्व कैबिनेट मंत्री मा. इन्द्रजीत सरोज जी के प्रदेश स्तरीय जनसम्पर्क एवं भ्रमण कार्यक्रम के तहत आज पीलीभीत पहंुचने पर आज उनका जोरदार स्वागत किया गया। श्री सरोज ने इस दौरान पूरनपुर में जनसभा को सम्बोधित किया और शहर के जे.पी. होटल पहुंच कर उनहोने पार्टी नेताओं से मुलाकात भी की।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव मा. इन्द्रजीत सरोज जी के प्रदेश स्तरीय जनसम्पर्क एवं भ्रमण कार्यक्रम के तहत आज पीलीभीत पहुंचने पर जगह-जगर उनका सपा नेताओं ने नारेबाजी के साथ स्वागत किया। काफिले के साथ श्री सरोज पूरनपुर के साई बैंकट हाल पहुंचे और सभा को सम्बोधित किया, इस दौरान काफी संख्या में अन्य दलों के नेताओं ने समाजवादी पार्टी का दामन थामा और सदस्यता ग्रहण की।



सिक्ख समुदाय ने श्री सरोज को पगड़ी पहना कर तलवार व सरौंपा भी भेंट किया। 

उसके बाद श्री सरोज जी का काफिला शहर के जे.पी. होटल पहंुचा, जहां पर उनहोने पार्टी के नेताओं से मुलाकात की, उसके बाद वह सपा के दिग्गज नेता व पूर्व कैबिनेट मंत्री मरहूम हाजी रियाज अहमद के परिजनों से भी मिले।

इस दौरान सपा के राष्ट्रीय महासचिव इन्द्रजीत सरोज ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार हर मोर्चे पर विफल रही है, जो सरकार साढ़े चार साल में कुछ भी नही कर पायी वह आगामी विधानसभा चुनाव में जनता के सामने क्या मुंह लेकर जायेगी। उनहोने कहा कि सरकार के बड़े नेता अपनी कुर्सी बचाने में मशगूल थे और जनता लाकडाउन में बेसहारा थी, जनता ने अभी इस दर्द को भूला नही है, अगले चुनाव में जनता भाजपा सरकार को जड़ से उखाड़ फेंकेगी और प्रदेश में आगामी सरकार सपा की ही आने वाली है।

श्री सरोज ने बसपा व अन्य दलों को भाजपा का एजेंट बताते हुए कहा कि भाजपा सरकार की जनविरोधी विरोधी नीतियों का सही प्रकार से विरोध सिर्फ समाजवादी पार्टी ही कर सकी है, बाकी विपक्षी दल तो मुंह छिपाये बैठे हैं। उनहोने कहा कि इस योगी सरकार में दलितों, अल्पसंख्यकों, युवाओं, किसानों, व्यापारियों, महिलाओं का सबसे अधिक शोषण हुआ है, लाकडाउन के दौरान तो सभी को यह एहसास हो गया कि प्रदेश में सरकार नाम की कोई भी चीज ही नही है। भाजपा सरकार के निकम्मेपन से नौकरशाही व पुलिस लोकतंत्र पर हावी है और मनमाने अंदाज में विपक्ष की आवाज को दबाना चाहती है, यहां तक कि प्रदेश में साढ़े चार सालों में सबसे अधिक मुकदमें सपा नेताओं पर ही जनता की आवाज को बुलंद करने पर दर्ज हुये हैं। उनहोने कहा कि अब दलित व पिछड़ों की भी समझ में आ गया है कि उनके हकों की लड़ायी सिर्फ समाजवादी पार्टी ही लड़ सकती है, सपा के सत्ता में आने पर सभी वर्गों का कल्याण होगा। 

सपा जिलाध्यक्ष जगदेव सिंह जग्गा ने कहा कि भाजपा सरकार में सभी वर्गों का नुकसान हुआ है और जनता इस सरकार से बेहद त्रस्त है और आगामी विधानसभा चुनावों में सप के हक में समर्थन का मन बनाये बैठी है।

पूर्व मंत्री हेमराज वर्मा ने कहा कि अपने काले कारनामों से भाजपा मुंह छिपाये बैठी है, घृणा की राजनीति ज्यादा दिन तक नही चलने वाली, जनता के आपार समर्थन से प्रदेश में अगली सरकार अखिलेश यादव जी के नेतृत्व में ही बनेगी। 

सभा को जिला महासचिव यूसुफ कादरी,  पूर्व विधायक पीतमराम, अरशद खां, बुधसेन वर्मा, बालकराम सागर, हरिराम गौतम, काशीराम सरोज सहित दर्जनों सपा नेताओं ने भी सम्बोधित किया।

इस दौरान सपा जिलाध्यक्ष जगदेव सिंह जग्गा, पूर्व मंत्री हेमराज वर्मा, पूर्व विधायक पीतमराम, अरशद खां, जिला पंचायत के पूर्व अध्यक्ष बुधसेन वर्मा, जिला महासचिव यूसुफ कादरी, पूर्व ब्लाक प्रमुख अरूण वर्मा, बालकराम सागर, सुधीर तिवारी, नरेन्द्र मिश्रा कट्टर, रामबहादुर यादव, ठा. अशोक सिंह, काशीराम सरोज,  मो. आरिफ, नफीस अंसारी, नीरज गंगवार, प्रदीप सोनकर, हरिराम गौतम, गायत्री गंगवार, अजय भारती, कमलेश परिहार, हाजी लाडले, अमनदीप सिंह संधू, नोमान अली वारसी, मीना दीक्षित, संजय खान, अनिकेत यादव, नन्हे चैधरी, एकता भारती, सतनाम सिंह देओल, मुन्ने मियां अंजाना, मंजीत सिंह, हैदर जाफरी, सुरेश वर्मा, ध्रुव चैधरी, गुरमेल सिंह, गुरवंत सिंह, राम कुमार पासवान, आकिल खां अजीजी, मखदूम खां, शरफुद्दीन नूरी, फैजान मलिक, जाने आलम, जिया उल इस्लाम, सै. आसिफ अली कादरी, अकबर अंसारी, मुजाहिद इस्लाम खां, शरद जायसवाल सहित सैंकड़ो की संख्या में सपा नेता शामिल थे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

सिविल डिफेंस में काम करने वाली राबिया की हत्या करके हत्यारा हरियाणा से दिल्ली के कालंदिकुंज थाने में आकर क्यों करता है सिरेंडर, खड़े हो रहे हैं कुछ सवाल?

लापता दो आदिवासी युवकों की संदिग्ध मौत की तुरंत जांच की मांग