राहुल गांधी ने कहा, "मैं जम्मू-कश्मीर के लोगों के साथ सम्मान और प्यार का रिश्ता चाहता हूं, जिन्होंने दर्द और पीड़ा का सामना किया है।

 कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को जम्मू-कश्मीर के गांदेरबल जिले में खीर भवानी मंदिर के दर्शन किए। इसके बाद राहुल कांग्रेस मुख्यालय का उद्घटन करने पहुंचे। श्रीनगर में राहुल गांधी ने कहा कि वह जम्मू-कश्मीर को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलवाने के पक्ष में हैं, साथ ही चाहते हैं कि यहां पर निष्पक्ष चुनाव हो। इसके साथ ही उन्होंने जम्मू कश्मीर के निवासियों के लिए भूमि और रोजगार के अधिकारों की वकालत की।


राहुल गांधी ने आगे कहा, "मैं जम्मू-कश्मीर के लोगों के साथ सम्मान और प्यार का रिश्ता चाहता हूं, जिन्होंने दर्द और पीड़ा का सामना किया है। दिल्ली से पहले मेरा परिवार इलाहाबाद में रह रहा था। इससे पहले वे कश्मीर में रह रहे थे। उन्होंने कहा कि वह भी कश्मीरी पंडित हैं।कांग्रेस के एक नेता ने बताया कि राहुल गांधी आज तड़के मध्य कश्मीर जिले के तुल्लामुल्ला इलाके में स्थित मंदिर पहुंचे। उन्होंने बताया कि गांधी के साथ पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल भी मौजूद थे। उन्होंने कहा, ‘यह एक निजी दौरा था। राहुल जी मंदिर के दर्शन करना चाहते थे।’कांग्रेस के एक नेता ने बताया कि राहुल गांधी आज तड़के मध्य कश्मीर जिले के तुल्लामुल्ला इलाके में स्थित मंदिर पहुंचे। उन्होंने बताया कि गांधी के साथ पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल भी मौजूद थे। उन्होंने कहा, ‘यह एक निजी दौरा था। राहुल जी मंदिर के दर्शन करना चाहते थे।’कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष का स्वागत करने के लिए कई पार्टी नेता और समर्थक मंदिर परिसर के बाहर इंतजार कर रहे थे। इसके बाद राहुल गांधी ने श्रीनगर में प्रसिद्ध हजरतबल दरगाह का भी दौरा किया। उन्होंने इंस्टाग्राम पर तस्वीरें पोस्ट की और कहा-  हजरतबल दरगाह में शांति और भाईचारे के लिए प्रार्थना की। हमारे देश की सबसे बड़ी ताकत हमारी एकता है। यहां नफरत और डर के लिए कोई जगह नहीं है।

कांग्रेस सांसद सोमवार की शाम यहां एक होटल में, जम्मू-कश्मीर की प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर के बेटे की शादी के ‘रिसेप्शन’ में भी शामिल हुए थे। केंद्रशासित प्रदेश के राजनीतिक दलों के प्रमुखों को भी इसमें आमंत्रित किया गया है। नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारुक अब्दुल्ला और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की प्रमुख महबूबा मुफ्ती को भी आमंत्रित किया गया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

सिविल डिफेंस में काम करने वाली राबिया की हत्या करके हत्यारा हरियाणा से दिल्ली के कालंदिकुंज थाने में आकर क्यों करता है सिरेंडर, खड़े हो रहे हैं कुछ सवाल?

लापता दो आदिवासी युवकों की संदिग्ध मौत की तुरंत जांच की मांग