एससी एसटी ओबीसी माइनॉरिटी उठो जागो लड़ो देश के दुश्मन गद्दारों से पहचानो अपने पराए को- गादरे*

 *एससी एसटी ओबीसी माइनॉरिटी उठो जागो लड़ो देश के दुश्मन गद्दारों से पहचानो अपने पराए को- गादरे*


गाजियाबाद:- एससी एसटी ओबीसी माइनॉरिटी मूलनिवासी जागो उठो जागो लड़ो देश के दुश्मन गद्दारों से पहचानो अपने पराए को देश में अब नहीं बच पाया कुछ! सब लूट लिया इन काले विदेशियों मनुवादियो ने।

बहुजन मुक्ति पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी एवं मेरठ मंडल अध्यक्ष आर डी गादरे ने एक जन जागरण नुक्कड़ सभा मे कहा कि वर्तमान समय में ब्राह्मणवादी शक्तियां एससी एसटी ओबीसी माइनॉरिटी समाज के लोगों को जो अपने आप को महत्वपूर्ण लोग समझते हैं उन्हीं लोगों को जान से ब्राह्मणवादी शक्तियां मार रही है और यह लोग वह महत्वपूर्ण लोग हैं जो संगठित नहीं है जो जातियों के चक्कर में सिर्फ जातियों के सुप्रीमो बने पड़े हैं। जो सिर्फ अपना अपना बनाने वाले लोग हैं जो समाज का बनाने वाले लोग नहीं ऐसे लोगों को मारा जा रहा है और इस देश में भय पैदा किया जा रहा है।

 ब्राह्मणवादी शक्तियां जानती है कि किसी दुश्मन को या किसी विचारधारा को खत्म करना है तो उसका नाम ही लेना छोड़ दो इसीलिए आप देखेंगे मनुवादी मीडिया अपने टीवी अखबार में बामसेफ /मूलनिवासी संघ के लोगों का बहुजन मुक्ति पार्टी का कार्यक्रम या कार्यकर्ता को या उनकी विचारधारा को न तो टीवी में दिखाता है और नहीं अखबार में छपता है और न ही  टीवी  मे दिखाता है और विरोध में भी कभी नहीं दिखाता न तो  टीवी में दिखाता और नहीं अखबार में छपता ह?

आप लोगों को यहां पर समझने की जरूरत है जैसे आपका कोई अगर दुश्मन है निजी तौर से है अगर सामाजिक तौर से उसका आप बार-बार विरोध करेंगे समाज के तौर से तो लोगों के निगाह में आप खुद बुरे होते जाएंगे और आपका दुश्मन और चमकता चला जाएगा क्योंकि आपका दुश्मन आपको कुछ नहीं कहता क्योंकि आपका दुश्मन  हो सकता है आप से दुश्मनी एक षड्यंत्र के दायरे में किया है जो वह किसी को उजागर नहीं करता इसीलिए आप के विरोध करने पर भी वह अच्छा साबित होने लगता है और आप बुरे होने लगते हैं इसीलिए आप लोग देखेंगे भारत में एससी एसटी ओबीसी माइनॉरिटी समाज में जो कुकुरमुत्ता की तरह  लाखो मे जो संगठन और पार्टी बनाए हैं जिसमें कोई विचारधारा नहीं है। ब्राह्मणवादी शक्तियां विरोध के रूप में उन्हीं लोगों का नाम लेती है कांग्रेस सपा बसपा आप असपा टसपा घसका आदि का? टीवी और अखबार में कहीं जेल में डाल रही है तो कहीं डंडा चला रही है कहीं शोषण कर रही है और यह मानसिक गुलाम समाज एससी एसटी ओबीसी माइनॉरिटी के लोग देखते है जिसका शोषण हो रहा होता है उधर ही उनका दिमाग चला जाता है और उसका साथ देने लगते हैं और ब्राह्मणवादी शक्तियां के खिलाफ छोटे-छोटे संगठनों में जुड़ जाता है। और हमेशा के लिए  टुकड़ों टुकड़ों में बंटा रहता है और जो बिचार धारा के तहत बड़ा  संगठन होता है जो सब कुछ बदल सकता है वह कमजोर  होने लगता है इस तरह से जो बड़े संगठन है देश में जैसे बामसेफ और मूलनिवासी संघ बहुजन मुक्ति पार्टी  को कमजोर करने के लिए इस तरह का षड्यंत्र किया जाता है और यही वह बामसेफ/ मूलनिवासी संगठन बहुजन मुक्ति पार्टी है जो देश की व्यवस्था परिवर्तन कर सकता है जो महापुरुषों के विचारधारा पर चलता है। और यही संगठन जो देश में लोकतांत्रिक संगठन है जिसमें कोई सुप्रीमो नहीं है सिर्फ एक विचारधारा है इसी संघ विचारधारा को कमजोर करने के लिए सब षड्यंत्र 3% ब्राह्मणवादी शक्तियां कर रही नहीं तो आपने देखा होगा बामसेफ/ मूलनिवासी संघ बहुजन मुक्ति पार्टी  को न तो टीवी में दिखाता है नहीं पेपर में छापता है विरोध में भी नहीं छापता  और ना ही दिखाता है और नहीं किसी सदस्य को मारा-पीटा जाता है जरा से भी टच नहीं करता इसीलिए भारत के एससी एसटी ओबीसी माइनॉरिटी  समाज को जो इस देश के मूल निवासी के लोग हैं और यह मूल निवासी कंसेप्ट बामसेफ मूलनिवासी संघ की विचार धारा से जुड़कर बहुजन मुक्ति पार्टी एकमात्र पार्टी ही चल रहा है इसीलिए  संघ को और मजबूत बनाने के लिए तन मन धन से इस  बामसेफ मूलनिवासी संगठन में जुड़िए और सदस्य बने और ब्राह्मणवाद यानी ऊंच नीच की विचार धारा को जड़ से उखाड़ फेंकीये सफल रहिए और सुरक्षित रहिए जय भीम जय मूलनिवासी बैठक में एड मुकेश कुमार प्रदेश उपाध्यक्ष एवं पश्चिमांचल प्रभारी एडवोकेट प्रदीप कुमार मनोज कुमार पासी राष्ट्रीय महासचिव एवं प्रदेश प्रधान महासचिव प्रभारी जिला गा बाद प्रभारी एड रामोतार महानगर अध्यक्ष अनिल मकवाना मदनलाल जिलाध्यक्ष एड सुभाष चन्द मुखी सहरयाब खान आदिल सैफी इकबाल अलवी नूर मुहम्मद राईन सुभाष राय चंदौली राजेन्द्र यादव आदि ने अपने अपने विचार रखे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया