नवाबगंज के पत्रकारों को बीजेपी नेताओं ने किया सम्मानित पत्रकारिता दिवस के अवसर पर

 बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए बरेली से अनीता की रिपोर्ट



बरेली, नवाबगंज 1 जून

 पत्रकारिता दिवस के मौके पर पत्रकारों को कोरोना योद्धा मानते हुए नवाबगंज के बीजेपी नेताओं ने पत्रकारों को फूलों की वर्षा कर मास्क सैनिटाइजर बांटकर सम्मानित किया उनका कहना था जिस तरह से हमारे देश में कोरोना महामारी ने अपने पैर पसारे हैं इसमें बहुत सारे लोगों की जाने चली गई जहां एक तरफ जिस व्यक्ति को कोरोना संक्रमित हो जाता है बदकिस्मती से उसकी मौत हो जाती है तब परिवार के लोगों सहित रिश्तेदार भी उस व्यक्ति से दूरी बनाए रखते हैं जो उनका बहुत करीबी था उस घड़ी में भी पत्रकार ग्राउंड जीरो पर अपनी रिपोर्टिंग कर अपनी जान को जोखिम में डालकर वहां पर जाकर लोगों तक सच्चाई पहुंचाने का काम करते हैं यह भूल जाते हैं कि उनके पीछे भी एक परिवार है उस परिवार को भी उनकी जरूरत है लेकिन समाज सेवा का ऐसा जज्बा पत्रकारों में होता है कि वह अपनी जान जोखिम में डालकर भी ग्राउंड जीरो की रिपोर्टिंग करता है इसीलिए सफाई कर्मी पुलिसकर्मी स्वास्थ्य कर्मी के साथ-साथ पत्रकार भी कोरोना योद्धा होता है इसीलिए भाजपा के नेताओं ने आज नवाबगंज के इलेक्ट्रॉनिक और प्रिंट मीडिया के सभी पत्रकारों को बुलाकर नवाबगंज प्रेस क्लब में फूलों की बारिश कर सैनिटाइजर मास्क वितरित करें सम्मानित किया सम्मानित करने वालों में नवाबगंज के प्रमुख चिकित्सक भाजपा से नवाबगंज विधानसभा टिकट मांग रहे हैं डॉक्टर  एमपी आर्या ,डॉ एके गंगवार सचिन रस्तोगी ,मनोज शर्मा , प्रेम रस्तोगी, लेखराज गंगवार, इन सभी नेताओं ने पत्रकारों को सम्मानित किया वरिष्ठ पत्रकार सर्वेश उपाध्याय उर्फ बब्बू महाराज, जफरुद्दीन मंसूरी ,दिनेश गंगवार, किशोर कुमार ,रंजन जैदी, शरीफुद्दीन मंसूरी, अखलाक अंसारी, रियाज अंसारी गुड्डू, परवेज अंसारी, विवेक शर्मा, कमल कुलदीप सक्सेना ,सहित 1 दर्जन से अधिक पत्रकारों को सम्मानित किया।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया