इकलौते पुत्र की सड़क दुर्घटना में मौत के बाद देशवाली मदद फाउंडेशन संस्थान राजस्थान सहारा बनकर उभरी


 सड़क दुर्घटना में इकलौते बेटे की मौत, बुजुर्ग माता-पिता और नन्ही बच्ची का सहारा बना देशवाली मदद फाउंडेशन संस्थान 


बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए मुस्तकीम मंसूरी की रिपोर्ट


जहाजपुर 28 मई 2021 

कस्बे में एक गरीब परिवार के इकलौते पुत्र की सड़क दुर्घटना में मौत के बाद देशवाली मदद फाउंडेशन संस्थान  राजस्थान सहारा बनकर उभरी है, विगत 18 मई 2021 को एक ट्रैक्टर मोटरसाइकिल भिड़ंत सड़क हादसे मे कस्बे के साबिर पुत्र सद्दीक  देशवाली  उम्र 20 वर्ष का इंतकाल हो गया, गरीब परिवार का अकेला सहारा छिन जाने  पर बुजुर्ग, कमजोर माता-पिता, बीवी, तथा 20 दिन की नन्ही बेटी एकदम से बेसहारा हो गए जो कि सभी मृतक साबीर भाई  पर आश्रित थे, 

मृतक सामाजिक कार्यकर्ता, समाज सेवक एवं देशवाली मदद फाउंडेशन का सदस्य था और स्वयं की कमजोर आर्थिक स्थिति होते हुए भी मेहनत मजदूरी करके अपने परिवार को चलाने के साथ-साथ मदद फाउंडेशन में 100  रुपये मासिक अंशदान देकर संस्थान के जरिए ज़रूरत मंद लोगों की मदद कर रहे थे।

परिवार का सहारा छिन जाने पर संस्था  ने लिया संज्ञान एक लाख पांच हज़ार रुपये एकत्रित कर, परिवार को दी मजबूती

 युवक की मौत की खबर सुनने पर देशवाली मदद फाउंडेशन संस्थान ने फाउंडेशन के सदस्य मोहम्मद अल्ताफ देशवाली(प्यावडी) व  पत्रकार अजीज  देशवाली के जरीए परिवार की आर्थिक स्थिति का जायजा लिया, जायजा लेने पर जानकारी मिली कि ये परिवार काफी कमजोर है, परिवार का पालन पोषण ठीक तरीके से नहीं हो पाएगा, इस परिवार के मुखिया  जो कि बुजुर्ग है काम में सक्षम नहीं है व कमजोर है, और अब बिल्कुल बेसहारा हो गए हैं, तो देशवाली मदद फाउंडेशन संस्थान ऩे उक्त मृतक मदद फाउंडेशन परिवार के सदस्य होने के नाते और कमजोर आर्थिक स्थिति को देखते, अपनी जिम्मेदारी समझते हुए इस बेसहारा परिवार के लिए  1 लाख 5000 रुपए एकत्रित कर  तत्काल आर्थिक सहायता प्रदान करने का निर्णय लिया, जिसमें से 75000 रुपये का नगद चेक मरहूम के माता-पिता को दिया गया एवं 30000 रुपये मरहूम साबिर की नन्ही बच्ची के लिए संस्थान अकाउंट में रिजर्व रखे गए, जब बच्ची के डाक्यूमेंट्स तैयार हो जाएंगे तब सरकार की लाभकारी योजनाओं यथा बालिका समृद्धि योजना, एलआईसी की कोमल जीवन पॉलिसी या बालिका के नाम से एफ डी अथवा सरकार की अन्य लाभकारी योजनाओं में इस रकम को बच्ची के नाम से निवेश किया जाएगा, ताकि बच्ची की परवरिश, पढ़ाई इत्यादि सकुशल हो सके l


"देशवाली मदद फाउंडेशन संस्थान राजस्थान" के  सदस्य मोहम्मद हुसैन  देशवाली जालमपुरा वाले व आदिल  देशवाली  ने बताया कि यह संस्थान विधवा महिलाओं के रोजगार में, आर्थिक पिछड़े बच्चों की पढ़ाई में, आर्थिक पिछड़े परिवार व विधवाओं की बच्चियों की शादी में, किसी गरीब परिवार के आर्थिक नुकसान मे, गंभीर बिमारी की स्थिति मे ब्लड़ की व्यवस्था व ज़रूरत मंद लोगों की सहायता करती आयी है, और अब तक राजस्थान के विभिन्न क्षेत्रो में कई परिवारों की मदद की जा चुकी है l

 मौके पर देशवाली मदद फाउंडेशन संस्थान राजस्थान के सदस्यों ने आर्थिक रुप से कमजोर परिवार को हर सम्भव सरकारी सहायता दिलाने में मदद का आश्वासन दिया, और जानकारी प्रदान की कि देशवाली मदद फाउंडेशन समाज मे आगे भी अपने कार्य क्षेत्र को बढ़ाती रहेगी और गरीब, असहाय और कमजोर परिवारों व हौनहार बच्चो की शिक्षा मे मदद के लिए हमेशा तत्पर रहेगी। 

 इस दौरान, मौके पर नजीर देशवाली वार्ड पार्षद, सेम खान, देशवाली ,मुस्ताक देशवाली, रफीक देशवली, मुबारिक हुसैन देशवाली, रफीक देशवाली , सद्दाम देशवाली, आरिफ खान  देशवाली बिहाडा, अयूब मोहम्मद देशवाली कल्याणपुरा, अल्ताफ हुसैन बैरी, आदिल खान देशवाली आदि समाज के गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे l

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया